ब्रेकिंग न्यूज़

बिलासपुर :: तेज रफ्तार बोलेरो चालक ने 5 लोगो को कुचला। 1 बच्चे सहित 5 लोग गंभीर रूप से घायल। हादसा बिलासपुर के तालापारा बजरंग चौक में हुआ। भीड़ ने कार चालक की जमकर की पिटाई। फिर किया पुलिस के हवाले। सभी घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। एक ऑटो चालक को भी आई गंभीर चोट, वाहन हुआ क्षतिग्रस्त। ड्राइवर के नौसिखिया होने के कारण हुई घटना। ड्राइवर को सिविल लाइन थाने के सुपुर्द किया गया।

तेज रफ्तार बोलेरो चालक ने 5 लोगो को कुचला। 1 बच्चे सहित 5 लोग गंभीर रूप से घायल। हादसा बिलासपुर के तालापारा बजरंग चौक में हुआ। भीड़ ने कार चालक की जमकर की पिटाई। फिर किया पुलिस के हवाले। सभी घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। एक ऑटो चालक को भी आई गंभीर चोट, वाहन हुआ क्षतिग्रस्त। ड्राइवर के नौसिखिया होने के कारण हुई घटना। ड्राइवर को सिविल लाइन थाने के सुपुर्द किया गया।

युवती ने लगाया बाबा रजनीश दुबे ,पर छेड़छाड़ का आरोप, कसडोल ब्लाक के खैरा गांव में चल रहा था बाबा का संका समाधान सत्संग शिविर,

युवती ने लगाया बाबा रजनीश दुबे जिला बाराबंकी उत्तरप्रदेश पर छेड़छाड़ का आरोप, कसडोल ब्लाक के खैरा गांव में चल रहा था बाबा का संका समाधान सत्संग शिविर, छत्तीसगढ़ में तीन जगह जांजगीर जिला के धनपुरी, देवरी एवं बलौदा बाजार जिले के झाबड़ी गांव में बाबा का है आश्रम। आरोपी बाबा को गिरफ्तार करने के लिए दल बल के साथ एस डीओपी राजेश जोशी, कसडोल एसडीएम टी सी अग्रवाल पहुंचे थे झबड़ी। ईश्वर दर्शन करने के नाम से करता था छेड़छाड़।

जांजगीर चाम्पा सारागांव के एक निर्माणधीन मकान से 792 पेटी विदेशी शराब जब्त जब्त शराब की कीमत लगभग 35 लाख आंकी गई चुनाव में दौरान खपाने के लिए मध्यप्रदेश से मंगाई गई थी शराब सारागांव थाना क्षेत्र के कोन्हापाट गांव से बरामद की गई शराब 3 आरोपी लिए गए हिरासत में..2 मुख्य आरोपियों की तलाश जारी सारागांव पुलिस ने आबकारी एक्ट के तहत की कार्यवाई पूछताछ और जांच जारी...

जांजगीर चाम्पा सारागांव के एक निर्माणधीन मकान से 792 पेटी विदेशी शराब जब्त जब्त शराब की कीमत लगभग 35 लाख आंकी गई चुनाव में दौरान खपाने के लिए मध्यप्रदेश से मंगाई गई थी शराब सारागांव थाना क्षेत्र के कोन्हापाट गांव से बरामद की गई शराब 3 आरोपी लिए गए हिरासत में..2 मुख्य आरोपियों की तलाश जारी सारागांव पुलिस ने आबकारी एक्ट के तहत की कार्यवाई पूछताछ और जांच जारी...

स्वास्थ्य मंत्री ने मलेरियामुक्त बस्तर अभियान को जन अभियान के रूप में संचालित करने के दिए निर्देश

रायपुर. 14 जनवरी 2020. बस्तर संभाग को मलेरिया, एनीमिया और कुपोषण से मुक्त करने मलेरियामुक्त बस्तर अभियान की शुरूआत 15 जनवरी को होगी। अभियान के दौरान स्वास्थ्य विभाग की टीम पौने तीन लाख से अधिक घरों में पहुंचकर करीब 14 लाख लोगों के खून की जांच कर मलेरिया पाए जाने पर त्वरित इलाज उपलब्ध कराएगी। हर घर के साथ ही स्कूलों, आश्रम-छात्रावासों और पैरा-मिलेट्री कैंपों में भी मलेरिया की जांच की जाएगी। स्वास्थ्य मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव ने इस अभियान को जन अभियान के रूप में संचालित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने सभी कलेक्टरों को अभियान की बारिकी से निगरानी कर इसे शत-प्रतिशत सफल बनाने कहा है। यह अभियान 14 फरवरी तक चलेगा। बस्तर संभाग के 26 विकासखंडों में यह गहन अभियान संचालित किया जाएगा। दंतेवाड़ा, बीजापुर, सुकमा और नारायणपुर जिले के सभी विकासखंडों में तथा बस्तर जिले के बड़े किलेपाल, तोकापाल व दरभा विकासखंड के पूरे क्षेत्र में व लोहंडीगुड़ा, नानगूर और बस्तर विकासखंड के 15 उपस्वास्थ्य केंद्रों में, कांकेर के भानुप्रतापपुर, दुर्गकोंदल और कोयलीबेड़ा के 10 उपस्वास्थ्य केंद्रों में एवं कोंडागांव जिले के माकड़ी, केशकाल, कोंडागांव और फरसगांव विकासखंड के 14 उपस्वास्थ्य केंद्रों के अंतर्गत आने वाले क्षेत्र में यह अभियान चलाया जाएगा। संभाग के 26 विकासखंडों के कुल 430 उपस्वास्थ्य केन्द्रों के माध्यम से एक हजार 823 गांवों में मलेरिया की पहचान और इलाज किया जाएगा। स्वास्थ्य मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव ने मलेरिया से होने वाली मौतों को गंभीरता से लेने और इस अभियान को जन अभियान के रूप में विस्तारित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने विभिन्न विभागों के मैदानी अमले के साथ अंतर्विभागीय समन्वय सुनिश्चित करते हुए इस महत्वाकांक्षी अभियान के दायरे में अधिक से अधिक लोगों को शामिल करने कहा है। बस्तर अंचल को मलेरिया से मुक्त करने इस अभियान का दूसरा चरण इस साल मानसून के पहले मई-जून में और तीसरा चरण मानसून के बाद साल के अंत में दिसम्बर-जनवरी में संचालित किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि बस्तर में मलेरिया के 64 प्रतिशत मामले अभियान में शामिल 26 विकासखंडो से ही आते हैं। इन इलाकों में मलेरिया के नियंत्रण से पूरे बस्तर को मलेरियामुक्त किया जा सकेगा। मलेरियामुक्त बस्तर अभियान के अंतर्गत मलेरिया उन्मूलन के साथ ही एनिमिया, शिशु मृत्युदर, मातृ मृत्युदर और कुपोषण दूर करने पर भी फोकस किया जाएगा। 15 जनवरी से शुरू हो रहे इस अभियान के पहले चरण के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा एक हजार 720 दलों का गठन किया गया है। प्रत्येक उपस्वास्थ्य केन्द्र स्तर पर स्वास्थ्य कार्यकर्ता, मितानिन और आंगनबाड़ी कार्यकर्ता को शामिल कर चार जांच दलों का गठन किया गया है। ये दल बस्तर के दो लाख 75 हजार 770 घरों में 13 लाख 79 हजार लोगों के बीच पहुंचकर मलेरिया की जांच करेगी। मलेरिया पाए जाने पर दवाईयां देकर तत्काल इलाज भी शुरू किया जाएगा। अभियान के दौरान मच्छर पनपने की जगहों की साफ-सफाई और दवाई के छिड़काव के साथ ही लोगों को मच्छरदानी के उपयोग के लिए प्रेरित भी किया जाएगा। एनिमिया व कुपोषण दूर करने तथा त्वरित उपचार के लिए मलेरिया की दवाई के सेवन से पूर्व लोगों को रेडी-टू-ईट खाद्य सामग्री भी दी जाएगी। इसके लिए स्वसहायता समूहों और जिला प्रशासन का सहयोग लिया जाएगा। इस व्यापक अभियान की सफलता सुनिश्चित करने महिला एवं बाल विकास, स्कूल शिक्षा, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, पंचायत एवं ग्रामीण विकास, वन, आदिम जाति कल्याण एवं मछलीपालन विभाग का मैदानी अमला भी सक्रियता से काम करेगा।

बीजापुर ब्रेकिंग : नेशनल हाईवे से 150 मीटर की दूरी पर प्रेशर IED विस्फोट। विस्फोट में CRPF 85 BN का एक जवान गंभीर रूप से हुआ ज़ख्मी।

बीजापुर breaking: नेशनल हाईवे से 150 मीटर की दूरी पर प्रेशर IED विस्फोट। विस्फोट में CRPF 85 BN का एक जवान गंभीर रूप से हुआ ज़ख्मी। घायल जवान का नाम रामानुज यादव। चिन्नाकोडेपाल और महादेव घाट के बीच हुआ ब्लास्ट। घायल जवान का जिला चिकित्सालय में चल रहा इलाज। कोतवाली क्षेत्र का मामला। SP दिव्यांग पटेल ने की घटना की पुष्टि।

बड़ी खबर बिलासपुर : स्काउड गाइड कार्यक्रम में स्काउड गाइड के बच्चे हुए बेहोश रेलवे की लापरवाही ,नही की थी ठंड से बचने की कोई व्यवस्था

बिलासपुर में स्काउड गाइड कार्यक्रम में स्काउड गाइड के बच्चे बेहोश हो गए है बताया जा रहा है कि ठंड के चलते 8 बच्चे बेहोश हो गए है आपको बतादे की बच्चे गोरखपुर के रहने वाले हाउ रेलवे ने ठंड से बचने की कोई व्यवस्था नहीं की थी वही जानकारी के अनुसार एम्बुलेंस नही होने की वजह से 112 और पुलिस की मदद से बच्ची को अस्पताल में भर्ती कराया गया है आपको बता दे की रेलवे अस्पताल में सभी का इलाज चल रहा है , पोल खुलने के चलते जिम्मेदार महिला अधिकारी ने मीडिया से हुज्जतबाजी भी की है वही आपको ये बताना भी जरुरी है कि घटना की सुचना के बाद काफी देर से रेलवे के आला अधिकारी अस्पताल पहुचे है

बिलासपुर : छतौना स्थित धान मंडी केंद्र के संचालक कौशिक सस्पेंड ,सहकारीता मंत्री प्रेमसाय टेकाम ने किया बर्खास्त।

छतौना स्थित धान मंडी केंद्र के संचालक कौशिक सस्पेंड सहकारीता मंत्री प्रेमसाय टेकाम ने किया बर्खास्त। धान खरीदी केंद्र में अव्यवस्था से नाराज हुए मंत्री। औचक निरीक्षण के दौरान की कार्रवाई। बिलासपुर के हाईकोर्ट के करीब छतौना में स्थित है या धान उपार्जन केंद्र। मंत्री ने अधिकारियों को लगाई फटकार।

दिल्ली के 3 सरकारी स्कूलों ने देश के टॉप 10 सरकारी स्कूलों में बनाई जगह ◆ इराक में US सैन्य ठिकानों पर मिसाइल हमलों में 80 अमेरिकी आतंकी मारे गए - ईरान सरकारी मीडिया

दिल्ली के 3 सरकारी स्कूलों ने देश के टॉप 10 सरकारी स्कूलों में बनाई जगह इराक में US सैन्य ठिकानों पर मिसाइल हमलों में 80 अमेरिकी आतंकी मारे गए - ईरान सरकारी मीडिया

दो पालियों में ओपीडी से कामकाजी लोगों को नहीं लेनी पड़ेगी छुट्टी - स्वास्थ्य मंत्री स्वास्थ्य और जांजगीर जिले के प्रभारी मंत्री श्री सिंहदेव ने ली स्वास्थ्य विभाग की बैठक

रायपुर.. स्वास्थ्य एवं जांजगीर-चांपा जिले के प्रभारी मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव ने जांजगीर में स्वास्थ्य विभाग की बैठक ली। उन्होंने बैठक में विभागीय अधिकारियों से कहा कि सरकार हर नागरिक को बेहतर और नि:शुल्क स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने की दिशा में लगातार काम कर रही है। इंश्योरेंस और हाइब्रिड मॉडल में बदलाव करते हुए 1 जनवरी से ट्रस्ट मॉडल लागू किया गया है। प्रदेश सरकार की महत्वाकांक्षी योजना डॉ. खूबचंद बघेल स्वास्थ्य सहायता एवं मुख्यमंत्री विशेष स्वास्थ्य सहायता योजना भी 1 जनवरी से लागू की जा चुकी है। इस योजना के लिए नया सॉफ्टवेयर भी तैयार किया जा रहा है। स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि ट्रस्ट मॉडल में अस्पतालों को भुगतान राज्य नोडल एजेंसी के माध्यम से होगा। भुगतान के लिए प्रक्रिया नए सिरे से अपनाई जा रही है। सभी अस्पतालों में ट्रस्ट मॉडल के संचालन के लिए आयुष्मान मित्रों की नियुक्ति की जा रही है। इस योजना में उपचार करने वाले चिकित्सकों से लेकर मरीज को अस्पताल तक लाने वाले वाहन चालक को भी इंसेंटिव का लाभ मिलेगा। साथ ही अस्पताल की आधारभूत सुविधाओं के विस्तार के लिए इंसेंटिव के माध्यम से राशि उपलब्ध करवाई जाएगी। श्री सिंहदेव ने कहा कि इससे चिकित्सकों व स्वास्थ्य कर्मचारियों को बेहतर इलाज के लिए प्रोत्साहन मिलेगा। स्वास्थ्य केन्द्रों में सुविधाओं का विस्तार होगा। श्री सिंहदेव ने बैठक में कहा कि नई व्यवस्था के तहत ओपीडी दो पालियों में संचालित की जा रही है। इसका लाभ कामकाजी लोगों को मिलेगा। उन्हें उपचार के लिए अवकाश नहीं लेना पड़ेगा। लैब जांच की रिपोर्ट मिलने पर चिकित्सक से जांच करवाकर परामर्श भी उसी दिन मिल जाएगा। स्वास्थ्य मंत्री ने विभागीय निर्माण कार्यो की गुणवत्ता की सतत निगरानी करने तथा कार्य समय पर पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने परिवार कल्याण कार्यक्रम, अंधत्व निवारण कार्यक्रम, मातृत्व स्वास्थ्य, शिशु स्वास्थ्य, राष्ट्रीय क्षय नियंत्रण कार्यक्रम की भी समीक्षा की। बैठक में बिलासपुर संभाग की संयुक्त संचालक डाॅ. मधुलिका सिंह, सीएमएचओ डाॅ एस.आर. बंजारे, जिला अस्पताल के सिविल सर्जन डाॅ. कुर्रे सहित बीएमओ और चिकित्सा अधिकारी उपस्थित थे।