छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ में कांग्रेसी नेता ने व्हाट्सएप में कश्मीरी लड़की का भेजा अश्लील विडियो

■लिखा था - 370 हटने के बाद आया पहला रुझान…..!!■ बिलासपुर (शैलेश गुप्ता) – व्हाट्सएप ग्रुप में पोर्न वीडियो शेयर करना कांग्रेस नेता को महंगा पड़ गया। पुलिस ने कांग्रेस नेता को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। गिरफ्तार आरोपित कांग्रेस नेता जिला संयुक्त सचिव पवन दुबे है। जिसे कांग्रेस की महिला नेताओं की शिकायत पर गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है !

मिली जानकारी के अनुसार गौरेला, पेंड्रा और मरवाही कांग्रेस पदाधिकारियों का एक वाट्सएप ग्रुप बनाया गया है। ग्रुप में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से लेकर विधानसभा अध्यक्ष व कई मंत्री भी जुड़ हुए हैं। किसी भी सूचना व कार्यक्रम की जानकारी इसी ग्रुप के माध्यम से पदाधिकारियों को दी जाती है। इस ग्रुप में महिला पदाधिकारी भी जुड़ी हुईं हैं। विगत 6 अगस्त को कांग्रेस जिला संयुक्त सचिव पवन दुबे ने 4 से 5 व्हाट्सएप ग्रुप में कश्मीरी लड़की की अश्लील वीडियो पोस्ट कर दी! जिसमें ”अनुच्छेद 370 हटने के बाद आया पहला रुझान” लिखा था ! जिस पर कई कांग्रेस नेताओं ने इस पर आपत्ती जताई और पवन दुबे को तत्काल वीडियो डिलीट करने और माफी मांगने के लिए कहा, लेकिन पवन दुबे ने न ही वीडियो डिलीट किया और न ही माफी मांगी। गौरेला पुलिस ने आरोपी पवन दुबे के खिलाफ धारा 292 और आइटी एक्ट के तहत अपराध दर्ज कर लिया। आरोपित पवन दुबे को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया जहां से उसे न्यायिक रिमांड पर जेल भेज दिया गया है।

वेट टेक्स बढ़ाने पर भाजयुमो का प्रदर्शन, फूंका मुख्यमंत्री का पुतला

कोंडागांव (शैलेश गुप्ता) । भाजयुमों कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाया हैकि पेट्रोल डीजल की कीमत बढ़ाकर भूपेश बघेल की सरकार प्रदेश की जनता को धोखा दे रही है। आपको बता देकि भारतीय जनता युवा मोर्चा कोन्डागाव इकाई के द्वारा भूपेश बघेल के नेतृत्व वाली सरकार द्वारा वेट टैक्स बढ़ोतरी करने से पेट्रोल व डीजल की कीमत में इज़ाफ़ा हुआ है भाजयुमो ने कहा हैकि प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने सत्ता हासिल करने के लिए जो जनकल्याण से जुड़े वादे किए थे उनके बहकावे में आकर प्रदेश की आमजनता ने कांग्रेस को सरकार बनाने का असवर दिया।

लेकिन सत्ता में आते ही भूपेश बघेल के नेतृत्व वाली सरकार अपने वादों से मुकर रही है प्रदर्शन कारियों ने यह भी आरोप लगाया हैकि चुनाव से पहले तो सभी किसानों के कर्ज माफ करने की बात कर सिर्फ बड़े किसानों का की कर्जा माफ किया गया जबकि मध्यम, लघु व सीमांत किसान आज भी कर्ज माफी के बांट जोह रहे हैं। वही प्रदेश के युवाओं को बेहतर रोजगार व स्वरोजगार देने की बात भी किया गया था पर आज तक रोजगार के संबंध में चर्चा तक करने का समय भूपेश बघेल की सरकार के पास नहीं है। अब स्तिथी यह हैकि राज्य के लाखों युवा अपने आपको ठगा महसूस कर रहे हैं। ठीक इसीप्रकार प्रदेश में पूर्ण शराबबंदी करने की बात भी कांग्रेस ने घोषणा पत्र में जारी किया था लेकिन सरकार अब शराबबंदी तो दूर बल्कि और अधिक राजस्व प्राप्ति के लिए शराब दुकानों के समय सीमा को बढ़ाते नज़र आ रहे हैं। युवामोर्चा के कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस सरकार पर आरोप लगाया हैकि 5000 प्रतिवर्ष राजस्व प्राप्त करने का लक्ष्य प्रशासनिक रूप से निर्धारित कर लिया गया है जोकि प्रदेश की कांग्रेस सरकार की घटिया मानसिकता को दर्शाता है। राज्य सरकार द्वारा वेट टैक्स बढ़ाने के कारण पेट्रोल और डीजल की कीमत में लगभग दो रुपए पचास पैसे की वृद्धि हुई है जिसके चले आमजनता पर बोझ बढ़ गया है। कोंडागांव ज़िले के युवामोर्चा कार्यकर्ताओं ने राज्य सरकार पर इस तरह के आरोप लगाकर अपना विरोध दर्ज़ कराने के लिए राज्य सरकार का पुतला दहन किया गया। प्रदर्शन करने वाले युवाओं में मुख्यरूप से जितेन्द्र सुराना, जसकेतु उसेन्डी, मनीश देवांगन, अश्वनी पान्डे, संजय मोदी, उत्तम मंडल, जेनेद्र ठाकुर, सन्तोष नाग, सुनील कोर्रम, तेज, बन्टी नाग, नवजोत राजपुत, अविनाश, संतोष नेताम, भगत चोवन, हिमांशु नायक, रोहीत नायक, विजय भुरा देवेन्द्र, संजू गहलोत, विनयराज, विक्की रवानी, मोर्य आदी प्रमुखतः से उपस्थित रहें।

वेट टेक्स बढ़ाकर आमजनता पर मेंहगाई की मार बढ़ाने का आरोप , शिवसेना ने फूंका प्रशासन पुतला

जांजगीर – चांपा (शैलेश गुप्ता) । शिवसेना जांजगीर – चाम्पा इकाई द्वारा दिनांक 10 अगस्त को शिवसेना जांजगीर चाम्पा जिलाध्यक्ष ठा. ओंकार सिंह गहलौत के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ राज्य सरकार द्वारा पेट्रोल व डीजल के दामों में की गई मूल्य वृद्धि के विरोध में पुतला दहन कर विरोध प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शनकारियों ने राज्य सरकार द्वारा वेट टेक्स बढ़ाने के कारण पेट्रोल – डीजल के दाम मे हुए अप्रत्याशित बढ़ोतरी के ख़िलाफ़ महामहिम राज्यपाल व प्रदेश के मुख्यमंत्री के नाम स्थस्नीय जिलाधीश को ज्ञापन भी सौंपा। ठा. ओंकार सिंह गहलौत ने विरोध प्रदर्शन कर कहा कि सरकार द्वारा पेट्रोल व डीजल के दामों में की गई मूल्य वृद्धि से आम जनता को अधिक भार उठाना पडेगा। सभी वस्तुओं के मूल्यों में वृद्धि हो जावेगी। जिससे आम जनताओं को भारी खर्च का बोझ उठाना पडेगा। इसकारण शिवसेना की जांजगीर चाम्पा इकाई द्वारा विरोध दर्ज़ कराते हुए तत्काल पेट्रोल व डीजल के मूल्य वृद्धि को कम करने की मांग किया गया है। विरोध प्रदर्शन करने वालों में मुख्य रूप से ठा. ओंकार सिंह गहलौत – जिलाध्यक्ष, शिवसेना, चंदन धीवर – जिला सचिव, दिलेश्वर विश्वकर्मा – जिला सचिव, चंद्रशेखर बरेठ – जिला कार्यकारिणी, शुभम राजपूत – जिला कार्यकारिणी, संतोष बरेठ – जिला कार्यकारिणी, मोहन सारथी – आटो सेना अध्यक्ष, पवन मनहर – ब्लॉक प्रभारी अकलतरा, सूरज दास – कार्यालय प्रभारी, रूखमणी साहू, चम्पलता कोशले सहित शिवसैनिक उपस्थित रहे।

खपरा डीह में लिया गया शांति समिति की बैठक

थाना गिधौरी अंतर्गत मात्र एक ग्राम खपराडीह में ईद मनाया जाता है इस बक़रीद को ध्यान में रखते ग्रामवासियों एवं मुस्लिम भाइयों की उपस्थिति में शांति समिति का मीटिंग रखा गया। इस त्यौहार को शांतिपूर्ण व सद्भाव के वातावरण में मनाने हेतु अपील किया गया । किसी भी प्रकार से असामाजिक तत्वों के द्वारा या कोई शराब सेवन कर त्योहार में खलल पैदा नहीं करेंगे ना ही किसी प्रकार से व्हाट्स मैसेज या अन्य तरीके से भ्रम फैलाएंगे। समय पर 09.00 बजे नमाज अदा किया जाएगा जहाँ पुलिस की उपस्थिति रहेगी। मीटिंग में थाना प्रभारी गिधौरी रामअवतार ध्रुव एवं ग्रामवासी सत्तार मोहमद, समशिर मोहमद, इसाक मोहमद, संभु यादव ,जयवर्धन राय किरितराम मनहर इत्यादि उपस्थित थे।

संसदीय कार्य,जल संसाधन मंत्री रविन्द्र चौबे पहुचे बिलासपुर

अजीत मिश्रा -संसदीय कार्य,जल संसाधन मंत्री रविन्द्र चौबे का आगमन आज बिलासपुर शहर में हुआ। छत्तीसगढ़ भवन में कुछ देर रुकने के बाद पत्रकारों से चर्चा के दौरान अरपा भैसाझार परियोजना का निरीक्षण करने की बात कही और मंत्री ने स्पष्ट कर दिया कि निर्माण कार्य में किसी प्रकार की भ्रष्टाचार के लिए दोषियों नहीं बख्शा जाएगा और उनपर कड़ी से कड़ी कार्रवाई होगी। विस्थापित को मुआवजा को लेकर सवाल पर मंत्री जी ने कहा की 97 फीसद लोगों का मुआवजा दिया जा चुका है बाकी के 3 फ़ीसदी लोगों का मुआवजा विभागीय कार्य को पूर्ण करते हुए जल्द से जल्द दिया जाएगा ।भैसाझार परियोजना की केचमेंट एरिया में बिल्डर के द्वारा किए गए अतिक्रमण को लेकर मंत्री ने कहा कि यह मामला उनके संज्ञान में आ गया है और जल्द से जल्द इस मामले का निपटारा किया जाएगा।

अकलतरा स्टेशन में नुक्कड-नाटक का आयोजन यात्रियों को दी गई यूटीएस टिकटिंग मोबाइल एप से टिकट खरीदने एवं स्वच्छता जागरुकता संबंधित जानकारियां

रेलवे प्रशासन द्वारा यात्रियों को टिकट काउण्टरों में लगने वाली कतारों से निजात दिलाने, शीघ्र टिकट उपलव्ध कराने एवं टिकटिंग प्रणाली को गतिशील बनाने के साथ ही साथ केसलेस प्रणाली को बढावा देने के उद्देश्य से घर बैठे अनारक्षित टिकट बुकिंग हेतु पेपरलेस मोबाइल टिकटिंग एप की सुविधा प्रदान की गई। इसे जन-जन तक पहुंचाने का सफल प्रयास किया जा रहा है। इस एप से अधिकाधिक संख्या में यात्रियों द्वारा टिकट बुक कराई जा रही है जिससे इस एप माध्यम से अनारक्षित टिकट खरीदने वाले यात्रियों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है। इस एप का व्यापक प्रचार-प्रसार हेतु वरि.मंडल वाणिज्य प्रबंधक(समन्वय) श्री पुलकित सिंघल के मार्गदर्शन में 10 दिनों का विशेष अभियान चलाया जा रहा है।

इस अभियान के तहत आज दिनांक 10 अगस्त 2019 को अकलतरा स्टेशन के प्लेटफार्म में भारत स्काउट गाइड के छात्रों द्वारा नुक्कड नाटक के माध्यम से यात्रियों को यूटीएस मोबाइल एप के टिकट बुक कराने की जानकारियां दी गई। स्काउट गाइड के बच्चों द्वारा नुक्कड-नाटक की जीवंत प्रस्तुति देकर यूटीएस एप के माध्यम से अनारक्षित टिकट के प्रावधानों एवं इससे होने वाली लाभ के बारे में विस्तारपूर्वक बताया गया। इस अवसर पर मंडल वाणिज्य प्रबंधक श्री ओमप्रकाश जायसवाल, वाणिज्य निरीक्षक श्री विजय कोरी, स्टेशन प्रबंधक अकलतरा, जिला संगठन आयुक्त स्काउट एडं गाइड श्री दिलिप स्वाई श्रीमती जी.ज्योतिदेव द्वारा यात्रियों से आग्रह किया गया कि इस एप के माध्यम से घर बैठे टिकट खरीदने की इस सुविधा का अधिकाधिक लाभ उठावें तथा अपना समय एवं पैसे बचायें। नुक्कड-नाटक के दौरान स्काउट-गाईड के बच्चों द्वारा स्टेशनों एवं गाडियों में गंदगी फैलाने के दुष्परिणामों को दर्शाते हुए यात्रियों को गंदगी नहीं फैलाने तथा स्वच्छता बनाये रखने का आग्रह किया गया। यात्रियों से आग्रह भी किया गया कि वे यात्रा के दौरान किसी भी अजनबी व्यक्ति द्वारा दिये गये खाने पीने की सामग्री स्वीकार न करें। साथ ही उनसे आग्रह किया गया कि रेल पर सेल्फी नहीं लें, चलती ट्रेन में चढ़ने या उतरने की कोशिश न करें, एक प्लेटफार्म से दूसरे प्लेटफार्म में जाने के लिए हमेशा फूट ओव्हरब्रिज का उपयोग करें।

ममतामयी मिनीमाता की 47 वी पुण्यतिथि मिनीमाता चौक अकलतरा मे मनाया जाएगा।


अकलतरा -  हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी नगर अकलतरा में गुरुमाता ममतामयी मां मिनीमाता जी के पुण्यतिथि पर डॉक्टर अंबेडकर विचार युवा संगठन अकलतरा के तत्वाधान में माल्यार्पण कार्यक्रम मिनीमाता चौक अकलतरा (जांजगीर मोड) में  सुबह 10:00बजे रखा गया है इसमें सतनामी समाज के सभी प्रबुद्ध व्यक्ति,युवा साथी एवं भीम आर्मी भारत एकता मिशन अकलतरा के  समस्त साथीगण  आमंत्रित है  वही गुरुमाता ममतामयी मिनीमाता को पुष्पाजंली एवं श्रद्धांजलि अर्पित किया जाएगा   साथ ही अकलतरा ब्लाक के सभी समाज के लोगों को विकास भारद्वाज संगठन अध्यक्ष ने अधिक से अधिक संख्या में श्रद्धांजलि कार्यक्रम में उपस्थित होने की अपील की है।

सफाई नही होने से बढ़ा संक्रमण का खतरा ,खुली नाली खतरनाक ,जानलेवा हो रही है साबित

बिर्रा-आरकेटीसी कंपनी ने चमचमाती सडक का निर्माण तो कर दिया है पर पानी निकासी के लिए बनाई गई आधे अधूरे  नाली के खुले व  उसकी सफाई नही होने से बजबजाती गंदगी में संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ गया है।घटोली चांपा से बिर्रा-सिलादेही सड़क का काम पूरा हो गया  है। सड़क के दोनों साईड में आधे अधूरे नाली निर्माण का कार्य शुरू हुआ है। वही कुछ जगह पर नाली काम होने के बाद भी स्लैब नही डाला गया है और नाली की सफाई नहीं होने सें नाली जाम हो गया है। साथ ही नाली में गंदगी होने के कारण मच्छर भी पनपने लगा है। जगह जगह नाली की गंदगी की सफाई नहीं होने के कारण उठती बदबू से लोग परेशान हो रहे हैं। वहीं बदबू के चलते नाली के पास रहने वाले लोग भी खासा परेशान है।जो खतरनाक होने के साथ जानलेवा साबित हो रहा है। वास्तव में नाली निर्माण होने के साथ ही नाली की सफाई किया जाना चाहिए। किंतु नाली बनने के बाद भी नाली की सफाई करने ठेकेदार भी ध्यान नहीं दे रहे है। इधर अधिकारियों की उदासीनता भी समझ से परे है। नाली की सफाई नहीं होने के कारण इस बरसात में लोगों को परेशानी से जूझना पड़ रहा है। वही शीघ्र ही नाली की सफाई नहीं होती है, तो ग्रामीण उग्र आदोंलन करने की बात कह रहे है।

भाटापारा के कांगेसी पहुचे कलक्टर के द्वार ,कहा अधिकारियों की मनमानी और भ्रष्टाचार की हदें हुई पार

भाटापारा की जनसमस्याओं को लेकर जिले के कलेक्टर से कांग्रेस जनो ने मुलाकात की है । कांग्रेस प्रतिनिधि मंडल ने भाजपा शासित नगर पालिका में व्याप्त भ्रष्टाचार एवं अन्य अनियमितताओ पर ध्यानाकर्षण करवाया, जिसमे प्रमुख रूप से अधिकारियों के कार्यालय में उपस्तिथ न रहने की शिकायत के साथ  सिटी बस पुनः चलाने की मांग रखी, साथ ही समय समय  पर भाटापारा में अबैध निर्माण एवं कब्जे पर प्रशानिक कार्यवाही नही होने पर नाखुशी भी जाहिर की गई ,अवैध रूप से बिक रहे शराब की बिक्री में रोक लगाने,नगरपालिका के कॉम्प्लेक्स में अवैध निर्माण, जल आवर्धन योजना के तहत पाइप लाइन विस्तार का  निरीक्षण सहित  कलेक्टर को नगर हित मे अनेक समस्याओं से अवगत कराया। कलेक्टर के सांथ प्रतिनिधि मंडल ने बिंदुवार लगभग डेढ़ घण्टे तक चर्चा की।कलेक्टर ने प्रतिनिधि मंडल को आश्वस्त किया की सम्बन्धित विभाग के अधिकारियों से बैठक कर जनहित मे सभी बिदुओं पर कदम उठाए जाएंगे।
 मुलाकात करने वालो में प्रमुख रूप से   सुनील महेश्वरी प्रदेश प्रतिनिधि सतीस अग्रवाल, शहर अध्यक्ष विनोद अग्रवाल , डॉक्टर के. के. नायक , भरत वर्मा, राजकुमार शर्मा रामविलास साहू पार्षद नानू सोनी संजय बघेल अविनाश दास शिरिज जांगड़े प्रशांत गांधी वैभव केसरवानी जहीर बाटिया सत्यजीत सेन्डे नवीन बक्स गिरीश परप्यानी मोहन निषाद मनमोहन कुर्रे राजा तिवारी नितिन व समस्त कांग्रेस जन उपस्तिथ रहे

मुंगेली के ग्राम बिजातराई में बिती रात आग लगने से 7 मवेसी की मौत,,

नीलकमल सिंह ठाकुर मुंगेली- फास्टरपुर थाना क्षेत्र के बीजातराई में बीतीरात करीब 1 बजे रामसिंग गबेल के घर नजदीक के बिजली के खम्बे ने शार्ट सर्किट हुआ जिससे घर मे आग लग गए और घर के समान के साथ साथ आग लग जाने के कारण घर मे बांध के रखे 7 मवेशी भी जल गए,वही फायर ब्रिगेड को फोन किया गया मगर मौके पर फायर बिग्रेड नही पहुचने से आग को बुझाने में ग्रामीणों को दिक्कत का सामना करना पड़ा और फिर बड़ी मुश्किल से आग पर काबू पाया गया।फास्टरपुर पुलिस को सूचना दे दे गई है और मौके पर पहुच कर जांच की जा रही है।

गणेश विनायक ऑय हॉस्पिटल ने अनचाहे आँखों के तिरछेपन से दिलाया निजात अब रायपुर में आंखों के तिरछे पन का इलाज संभव - डॉक्टर चारुदत्त

रायपुर , १० अगस्त : पिछले कई वर्षो में नेत्र चिकित्स्य क्षेत्र में विश्वसनीयता और उच्तम तकनीक से अपना नाम सफलता के उचाई पर पहुंचाकर गणेश विनायक ऑय हॉस्पिटल ने हाल ही में एक और बेहतरीन कार्य करा - राजनांदगांव निवासी 20 वर्षीय तरुणा साहू , कोरबा निवासी 18 वर्षीय गिरजा कुमारी व बेमेतरा निवासी 19 वर्षीय संध्या राजपूत जो इस जन्म से भेंगेपन का शिकार थे वे सामाजिक अवहेलना झेल रहे थे, उन्हें गणेश विनायक ऑय हॉस्पिटल ने सफलतापूर्वक ऑपरेशन करके इस अवसाद से छुटकारा दिलाया है। प्रदेशवासियों को जन्मजात तिरछेपन से निजात पाने के लिए अब कहीं भी शहर से बहार जाने के आवशकता नहीं पड़ेगे । अब किफायती दामों में ये सुविधा का लाभ लोग आसानी से उठा सकेंगे। विख्यात नेत्र सर्जन व श्री गणेश विनायक ऑय हॉस्पिटल के डायरेक्टर डॉ चारुदत्त कलमकार ने इसकी जानकारी प्रेस वार्ता में देते हुए बताया की “जब दोनों आँखें एक साथ मिलकर एक ही लक्ष्या पर ध्यान केंद्रित करने में असक्षम हो जाते हैं तो ऐसे स्थिति को भेंगापन कहते हैं । जिन लोगों को ये समस्या होते है उनके आँखें अलग अलग दिशा में देखते है व अलग अलग वस्तुओं पर ध्यान केंद्रित करते है. स्कॉइन्ट(Squint)जिसे आँखों का तिरछापन या भेंगापन भी कहा जाता है जिससे आँखों कि मांसपेशियां जो कि आँखों कि घुमाव को नियंत्रित करती उनके संतुलन में कमी आ जाती है . आँखों का तिरछापन बच्चो में और बड़ो में दोनों ही में हो सकता है. “तिरछेपन के निम्नलिखित कारण है- पैदायशी तौर पर जिसमे बच्चा तिरछेपन के साथ ही पैदा होता है , अनुवांशिक जिसमे तिरछापन परिवार में पिढी दर पिढी चला आ रहा हो, दूर कि या पास कि नजर की कमी - जिसमे आँखों को पर्याप्त नंबर न मिलने कि वजह से तिरछेपन में रूपांतरण होता है , मांसपेशियों कि कमजोरी - जिसमे आँखों कि एक से अधिक मासपेशी ठीक से कम नहीं करती व दिमाग में सूजन भी तिरछेपन के लिए कारणीभूत हो सकता है .” ऐसा डॉ कलमकार ने आगे बताया. जाने मने नेत्र सर्जन व श्री गणेश विनायक ऑय हॉस्पिटल के डायरेक्टर डॉक्टर सुनील मल्ल ने कहा की “तिरछेपन के लक्षण में -एक या दोनो आँखों को अलग - अलग दिशाओ में घूम जाना , एक या दोनो आँखों कि दृष्टि का कम होना ,एक से ज्यादा आकृति का दिखना है ।तिरछेपन का इलाज उसके प्रकार के अनुसार बदलता है जैसे दृष्टि को ठीक करने वाले नंबर इस्तेमाल करने से तिरछापन ठीक होता है और ओक्लुशन पेंचिंग - अच्छी आँख पर पट्टी लगाने से कमजोर आँख देखने के लिए प्रोत्साहित होती है, जो चिकित्सक कि देखरेख में किया जाता है. यदि इस इलाज से भी तिरछापन का इलाज नहीं होता है तो सर्जरी कर तिरछापन को ठीक किया जा सकता है .” “अगर जरुरत हो तो सर्जरी जन्म के कुछ ही महीनो के भीतर कि जा सकती है . वयस्क मरीज़ में भी सर्जरी के माध्यम से तिरछेपन का इलाज पूरी तरह संभव है . सामान्यतः सभी बच्चो कि आँख कि जाच उनके चौथी वर्षगाठ के पूर्व करानी चाहिये`”डॉ चारुदत्त कलमकार ने ये जानकारी साझा करी. कोरबा निवासी मरीज गिरजा कुमारी ने कहा " हम नहीं जानते थे की ये सर्जरी जन्म के कुछ समय बाद ही की जा सकते है। यदि पता होता तो समाज के हीं दृष्टि का सामना नहीं करना पड़ता । प्रदेश में ये सुविधा होने से हमे कहीं जाने के जरुरत नहीं पड़े । किफायती दरों में श्री गणेश विनायक ऑय हॉस्पिटल ने इस तिरछेपन का इलाज संभव कर दिखाया । श्री गणेश विनायक आई हॉस्पिटल के बारे में पिछले चार वर्षों से देश की रोकी जा सकने वाली दृष्टिहीनता की समस्या से जूझ रहे श्री गणेश विनायक आई हॉस्पिटल ने पिछले तीन वर्षों में 1 लाख से अधिक मोतियाबिंद सर्जरी की हैं। यह 50 बेडेड अस्पताल नवीनतम उपकरणों और नई तकनीकों से सुसज्जित है। धमतरी रोड, रायपुर के सामने स्थित, डॉ. चारुदत्त कलामकर (एम्स), डॉ. अनिल गुप्ता (शंकर नेत्रालय), डॉ. विनय जायसवाल, और डॉ. सुनील मॉल (एम्स) के मार्गदर्शन में यह सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल है। उपचार की सस्ती कीमत पर एक छत के नीचे अंतरराष्ट्रीय मानक व्यापक नेत्र देखभाल सुविधा प्रदान करने के लिए सेट किया गया है जो आम लोगों की पहुंच के भीतर है।

 

<

प्रशासन ने किया सूची जारी, बने 201 एल्डरमेन

रायपुर (शैलेश गुप्ता) । नगर पालिक निगम अधिनियम 1956 की धारा 09 के उपधारा (1) खंड (ग) में प्रदत्त शक्तियों का उपयोग करते हुए, छत्तीसगढ़ शासन ने नामांकित पार्षदों की सूची जारी कर दिया है। आपको बता देकि छत्तीसगढ़ शासन के इस आदेश से कुल 201 लोगों को एल्डरमेन नियुक्त किया गया है।

आयात -निर्यात जागरूकता पर कार्यशाला व्यापारी एवं उद्योगपति कार्यशाला में शामिल होकर निर्यात के सम्बंध में उपयोगी जानकारी प्राप्त किए

BBN24news.com : बलौदाबाजार, 9 अगस्त 2019/ आयात-निर्यात के संबंध में व्यापारियों एवं उद्योगपतियों की जागरूकता के लिए जिला स्तरीय कार्यशाला जिला पंचायत के सभाकक्ष में आयोजित की गई। आयात निर्यात को लेकर राज्य की यह प्रथम कार्यशाला थी। कलेक्टर श्री कार्तिकेया गोयल की पहल पर जिले से कृषि आधारित उद्योगों के उत्पादों के निर्यात की संभावना को देखते हुए राज्य सरकार के उद्योग विभाग द्वारा जिला प्रशासन के सहयोग से इसका आयोजन किया गया। जिले के करीब एक सौ व्यापारी एवं उद्योगपति कार्यशाला में शामिल हुए। कलेक्टर कार्तिकेया गोयल ने कार्यशाला का शुभारंभ करते हुए कहा कि देश के निर्यात में छत्तीसगढ़ का अत्यंत कम योगदान है। करीब 0 .37 फीसदी है। जबकि जनसंख्या के अनुरूप लगभग 2 प्रतिशत होनी चाहिए। यहाँ से चावल, पोहा, बस्तर आर्ट, चिरौंजी आदि के निर्यात की व्यापक संभावनाएं हैं। उन्होंने व्यापारियों से घरेलू बाजार से ऊपर विदेश व्यापार की ओर उन्मुख होने का आग्रह किया। कलेक्टर ने कहा कि विदेश व्यापार में आगे बढ़ने की अपार संभावनाएं हैं। विदेश व्यापार होने से सरकार पर निर्भरता भी कम होगी। भाटापारा न केवल छतीसगढ़ बल्कि पूरे देश मे चावल,पोहा के मामले में मुख्य केंद्र है। आप लोगों में अनुभव एवं दमखम है। एक्सपोर्ट मार्किट से जुड़कर काम करने की क्षमता भी है। सीधे निर्यात कारोबार में न कूदकर बड़े एक्सपोर्टरों से जुड़कर धीरे से शुरुआत करनी चाहिए। उन्होंने बताया कि गल्फ देशों में चावल, पोहा एवं इमली के निर्यात की ज्यादा संभावना है, क्योंकि भारतीय लोग वहां ज्यादा संख्या में रहते हैं। रायपुर के उद्योग संचालनालय में निर्यात प्रकोष्ठ के उप संचालक ने भारत सरकार के विदेश व्यापार नीति (2015- 20)के प्रमुख बिंदुओं की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि किसानों की आमदनी दोगुनी तभी होगी जब उनका माल विदेश में बिके। और यह काम केवल व्यापारी ही कर सकते हैं। राज्य निवेश प्रोत्साहन बोर्ड के संयुक्त संचालक श्री हरीश सक्सेना निर्यात से जुड़ी बारीकियों की जानकारी के लिए निर्यातबन्धु कोर्स करने का सुझाव दिया। भारत सरकार के निर्यात क्रेडिट गारंटी कौंसिल के राज्य प्रमुख श्री कल्पतरु बेहेरा ने कहा की व्यापारी निर्यात पर ध्यान केंद्रित करें, हम जोख़िम से उन्हें सुरक्षा प्रदान करेंगे। इस अवसर पर जिले के राइज मिल एसोशिएसन के अध्यक्ष दिनेश केडिया, पोहा मिल एसोशिएसन भाटापारा के अध्यक्ष राजेश थारानी, पोहा मिल एसोशिएसन के प्रदेश अध्यक्ष कमलेश कुकरेजा, डाल मिल एसोशिएसन भाटापारा के अध्यक्ष श्री नरेश आर्य सहित बड़ी संख्या में व्यापारी एवं उद्योगपति कार्यशाला में शामिल होकर निर्यात के सम्बंध में उपयोगी जानकारी प्राप्त किए। स्थानीय जिला उद्योग कार्यालय के जीएम श्री बघेल ने अंत में आभार

जर्जर सड़क पर चलने को जनता मजबूर अधिकारी लापरवाह पढ़िए खास खबर

सन्नी रघु यादव : मस्तूरी रायगढ़ नेशनल हाईवे रोड मस्तूरी से लेकर पेंड्री कोहरौदा तक के सड़क पर बड़े-बड़े गड्ढे मौत को न्योता दे रहे हैं। रोजाना के हजारों लोगों को आने जाने में हो रही हैं भारी दिक्कतों का सामना। गड्ढा नुमा रोड को लेकर कई बार आला अधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों से ग्रामीण शिकायत कर चुके हैं पर मस्तूरी को हमेशा सौतेला व्यवहार के कारण यहां के विकास पर सिर्फ हवा हवाई बातें एवं राजनीतिक रोटियां सेकी जाती है ।क्योंकि जब राज्य में भाजपा का सरकार होता है तो मस्तूरी में कांग्रेस का विधायक होता है , और जब मस्तूरी में भाजपा का विधायक होता है तो राज्य में कांग्रेसका सरकार होता है। विकास के नाम पर यह नेशनल हाईवे रोड सबकी निगाहों पर है इससे ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि मस्तूरी में कितना विकास हुआ होगा। इसी गड्ढे नुमा रास्ते से रोजाना एसडीएम तहसीलदार सीईओ से लेकर विधायक सांसद कई बार गुजर चुके हैं पर किसी भी राजनीतिक दल के बड़े जनप्रतिनिधि व कोई भी शासन के अधिकारियों को यह रोड की समस्या दिखाई नहीं देता ग्रामीण लोग कई बार शिकायत कर कर के थक चुके हैं पर शायद शासन-प्रशासन को किसी बड़ी दुर्घटना का इंतजार है। इस रोड के जर्जर स्थिति के कारण कई सारी दुर्घटनाएं हो चुकी है जिसमें दर्जनों भरसे ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है उसके बावजूद रोड मरम्मत के नाम पर सिर्फ खानापूर्ति कर कच्ची मिट्टी वह डस्ट डालकर लोगों की आंखों में धूल झोंक दिया जाता है जैसे ही बरसात आती है रोड की हालत जस के तस हो जाते हैं। रोजाना स्कूली बच्चे इस गंदी सड़क की वजह से बहुत ही ज्यादा परेशान होते हैं कई बच्चे तो ड्रेस खराब हो जाने की वजह से या फिर खराब सड़क में साइकिल से गिर जाने की वजह से घर वापस चले जाते हैं। जिससे उनकी शिक्षा पर भी असर हो रहा है। मस्तूरी आसपास के 115 गांवके मुख्य जगा है जहां पर शासकीय कार्यालयों मैं जनपद कार्यालय, एसडीएम कार्यालय, शिक्षा अधिकारी, थाना तहसील सहित बड़े-बड़े विद्यालय कॉलेज आदि हैं। साथ में बड़े-बड़े मार्केट भी उपलब्ध है जिसके कारण लोगों को रोजाना किसी न किसी काम से मुख्यालय मस्तूरी पहुंचना ही पड़ता है और गड्ढे नुमा सड़कों को पार करते समय लोग यही दुआ मांगते हैं कि किसी भी तरह बिना किसी दुर्घटना घटना के वे अपनी घर पहुंच जाए। पर इस रोड के गंदी स्थिति को लेकर किसी भी आला अधिकारी व जनप्रतिनिधियों की आंख नहीं खुली। जिसके कारण मस्तूरी के व्यवसायिक उन लोगों के साथ-साथ ग्रामीण लोगों में भारी रोष देखा जा सकता। मस्तूरी के जर्जर सड़कों की वजह से हम लोग काफी परेशान हैं आए दिन दुकान के सामने के गड्ढों के नाम से बड़े बड़े वाहन चलने से सड़क की कीचड़ दुकान तक पहुंच जाती है जिससे काफी परेशानियां हो रही हैl मधुर दास व्यवसायिक मस्तूरी..l मस्तूरी के जर्जर सड़कों की वजह से हम लोग काफी परेशान हैं आए दिन दुकान के सामने के गड्ढों के नाम से बड़े बड़े वाहन चलने से सड़क की कीचड़ दुकान तक पहुंच जाती है जिससे काफी परेशानियां हो रही हैl मधुर दास व्यवसायिक मस्तूरी..l हमें रोज रोजी मजदूरी करने के लिए रोजाना बिलासपुर आना जाना पड़ता है काम से वापस घर लौटने में रात हो जाती है रात को आते समय मस्तूरी रोड के गड्ढे में सड़कों को देखकर कभी-कभी पैदल भी चलना पड़ता है जिससे दुर्घटना की आशंका बनी रहती है रोड की जर्जर स्थिति से हम लोग काफी परेशान हैं..l उतरा कुमार कुर्रे मजदूर ग्रामीण । हमें रोजाना महाविद्यालय अध्ययन करने के लिए मस्तूरी जाना पड़ता है लेकिन मस्तूरी की जर्जर सड़क को देखकर हमेशा भय बना रहता है. कभी-कभी तो कपड़े गंदे हो जाने की वजह से घर को वापस भी आना पड़ता है मस्तूरी की जर्जर सड़क को लेकर हम लोग बहुत ही ज्यादा परेशान हैं और साथ ही बहुत सारी समस्याओं का सामना करना पड़ता है..l विकास मधुकर छात्र मस्तूरी..l मुझे रोजाना ऑफीशियली वर्क के लिए मस्तूरी रोड से गुजरना पड़ता है मस्तूरी रोड की जर्जर स्थिति व गड्ढे नुउमा सड़क की वजह से आने जाने में दिक्कत के साथ-साथ समय पर ऑफिस पहुंचने में बहुत ही परेशानी होती है और साथ ही दुर्घटना घटना की भय लगा रहता है जिससे हम लोग काफी परेशान हैं । दीपेश उपाध्याय कर्मचारी मस्तूरी..l मस्तूरी नेशनल हाईवे मार्ग की हमने सर्वे करा ली है जिसकी स्टूमेंट भी तैयार करके उच्च अधिकारियों को सौंप दी गई है बरसात की वजह से सड़कों में जो गड्ढे व जर्जर स्थिति है उसको सुधार कार्य के लिए एक-दो दिन में मरम्मत कार्य करवा दिया जाएगा। बरसात में रोड की नवीनीकरण तो नहीं हो सकती लेकिन मरम्मत कार्य अवश्य करवाएंगे ।

डॉ आंबेडकर विचार युवा संगठन अकलतरा के सदस्यों द्वारा विश्व आदिवासी दिवस पर रैली के दौरान समाज के लोगो को कराया गया जलपान

(शनि सूर्यवंशी) विश्व अंतरराष्ट्रीय आदिवासी मुलनीवासी दिवस के अवसर पर अकलतरा नगर के मिनीमाता मंगल भवन मे जिला स्तरिय रैली एवं आदिवासी पारंपरिक सुवा नीत्य, करमा नीत्य, डंण्डा नीत्य आदि मनमोहक कार्यक्रम से बच्चो ने नगर और बाहर से आये अगंतुको को प्रसतुति दिखाई इस अवसर पर अकलतरा के सक्रिय समाजिक संगठन डॉ. अम्बेडकर विचार युवा संगठन अकलतरा के द्वारा जिले से आये हुए आदिवासी समाज के अगंतुको के लिऐ चाय पानी का व्यवस्था किया गया था जिसमे मुख्यरुप से संगठन के संस्थापक सदस्य वेंकट रमन पाटले, संतोष बंजारे, भैरव प्रसाद रात्रे, आशिष बंजारे, सुरेश मिरचन्या, द्वावास भारते, बिहार दास संगठन के अध्यक्ष विकास भारद्वाज छोटु सोनवानी (सहसचिव), निककु कुमार, जवाहर आदिले,राकेश सोनी, मनमोहन अनंत, कमल निराला, रोशन खरे, धनसाय लहरे, संतोष टंडन,मनोज राय, अजय टंडन संगठन के सदस्य उपस्थित होकर अपना योगदान दीये।।