छत्तीसगढ़

मास्क एवं सामाजिक दूरी का उल्लंघन करने पर किया गया जुर्माना- बीजापुर

बीजापुर:-कलेक्टर रितेश कुमार अग्रवाल के निर्देश में कोविड-19 के नियमों का कडाई से पालन किया जा रहा है नगरपालिका सीएमओ पवन मेरिया एवं पुलिस प्रशासन द्वारा सयुंक्त रूप से कार्यवाही करते हुए नियमों के उल्लंघन करने वालों पर जुर्माना करने के साथ-साथ उनको सख्त हिदायत दिया गया ।साप्ताहिक बाजार बीजापुर मे बिना मास्क एवं सोसल डिस्टेसिंग का उल्लंघन करने वाले 35 लोगों पर कार्यवाही करते हुए 3400 रूपये का जुर्माना किया गया।एवं बिना मास्क वाले लोगों को मास्क दिया गया एवं कोविड से बचने नियमों का पालन करने समझाइश दी गई।

कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव लोगों को किया जा रहा है जागरूक

जागरूकता रथ लोगों को दे रहा है संदेश

बीजापुर:-कोरोना वैश्विक महामारी के संक्रमण से बचने लोगों में जागरूकता लाने के लिए नगरपालिका बीजापुर द्वारा जागरूकता रथ के माध्यम से जन-जन को जागरूक करने अभियान चलाया जा रहा है कोरोना वायरस का संक्रमण कुछ कम जरूर हुआ है लेकिन खत्म नहीं हुआ है न ही इसका कोई टीका अभी तक बना है इसलिए इससे बचने के लिये सतर्क रहना बहुत ही जरूरी है खासकर अभी समय त्यौहारों एवं उत्सव का समय है आने वाले दिनों में दीपावली ,छठपूजा,क्रिसमस, नववर्ष जैसे महत्वपूर्ण त्यौहार है विभिन्न आयोजन होगा इन सब का प्रभाव बाजारों, दुकानों, एवं अन्य सार्वजनिक स्थानों पर सीधा असर पड़ेगा जिसके लिए हम सबको जागरूक और सचेत रहने की आवश्यकता है।मौसम भी ठंड का आ गया है जिससे हवा में संक्रमण फैलने का ज्यादा संभावना रहता है इसलिए घर पर रहे सुरक्षित रहे अतिआवश्यक होने पर घर से निकलने के पूर्व मास्क अनिवार्य रूप से पहने सार्वजनिक जगह पर बिना मास्क न जाए और सामाजिक दूरी का पालन करते हुए दो गज दूरी बनाए रखें, एवं हाथो को बार-बार साबुन से धोते रहे हैण्ड सैनेटाईजर से हाथों को सैनेटाईजर करते रहे।जागरूक अभियान मे नगरपालिका अध्यक्ष बेनहुर रावतिया सहित जनप्रतिनिधियों अधिकारी कर्मचारियों ने मोटरसाइकिल रैली निकाल कर जागरूकता अभियान चलाया।

गोबर से वर्मी खाद तैयार करने जुटी महिलाएं - बीजापुर

बीजापुर:-जिले की गौठानो में गोधन न्याय योजना अंतर्गत गोबर खरीदी की जा रही है। इन्हीं खरीदे गए गोबर से स्व सहायता समूह की महिलाएं वर्मी खाद तैयार कर रहीं है। कलेक्टर रितेश अग्रवाल ने मार्गदर्शन में कृषि विभाग और स्व सहायता समूह के समन्वय से वर्मी खाद तैयार करने की कार्ययोजना बनाई गई है। राज्य में ग्रामीण अर्थव्यवस्था मजबूती और ग्रामीणों को आजीविका मूलक गतिविधियों से जोड़ने के लिए राज्य शासन ने कई महत्वपूर्ण योजनाओं की घोषणा की है। इन्हीं योजनाओं में से गांव में गौठान का सुचारू रूप से संचालन व गोबर खरीदी कर उसका वर्मी खाद तैयार कर जैविक कृषि को बढ़ावा देते हुए ग्रामीण महिलाओं को आजीविका मूलक गतिविधियों से जोड़ना एक सराहनीय पहल है। ग्राम पंचायत मुरदण्डा के गौठान में गोधन न्याय योजना अतर्गत अब तक कुल 481.86 क्विंटल गोबर की खरीदी की गई है। इन्हीं गोबर का उपयोग कर श्री श्री स्व सहायता समूह ग्राम पंचायत मुरदण्डा की महिलाएं वर्मी खाद का उत्पादन कर रही है। मिली जानकारी के अनुसार स्व सहायता समूह की महिलाओं ने अभी 40 किलोग्राम केचुआ लाकर वर्मी टैंक में डाला गया है। इस समूह में 10 सदस्य है, जो कृषि विभाग के देख रेख व तकनीकी मार्गदर्शन में खाद तैयार कर रहीं है।वर्मी खाद तैयार होने के उपरांत खाद को सोसायटी के माध्यम से विक्रय किया जावेगा।

झण्डा दिवस के अवसर पर एकता दौड़ का आयोजन

जिला बल, केरिपु एवं बीएसए के बच्चों ने लिया एकता दौड़ में भाग

बीजापुर:-झण्डा दिवस के अवसर पर आज दिनांक 25.10.2020 को जिला मुख्यालय बीजापुर में एकता दौड़ का आयोजन किया गया । इस दौड़ में जिला बल, डीआरजी, केरिपु बल एवं बीएसए के बच्चों ने दौड़ में हिस्सा लिया । दौड़ का प्रारंभ नये बस स्टेण्ड से प्रारंभ हुई । जिला पंचायत अध्यक्ष शंकर कुडि़यम एवं उप महानिरीक्षक केरिपु बल बीजापुर कोमल सिंह ने हरी झंडी दिखाकर दौड़ को प्रारंभ किया। एकता दौड़ का समापन सर्किट हाऊस में हुआ । सर्किट हाऊस संकल्प स्थल पर जन प्रतिनिधि, एवं अधिकारी कर्मचारियों के द्वारा शहीद स्मारक पर रिथ एवं पुष्प अर्पित कर शहीदों को श्रद्धांजली दी गई । पुरूष वर्ग में प्रथम-गोपी पूनेम(बीएसए), द्वितीय-सुरेश अग्रवाल, तृतीय -धनीराम रहे । महिला वर्ग में प्रथम - सुनीता कुहरामी(बीएसए) द्वितीय - लक्ष्मी मांझी(बीएसए), तृतीय- मंजू मोडि़यम(बीएसए) रही। झण्डा दिवस का समापन दिनांक 31.10.2020 को किया जायेगा।

जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़(जे)ने गोदरी पारा साप्ताहिक शनिचरी बाजार में मास्क वितरण कर जागरूकता अभियान चलाया

जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जे के आंदोलन की चेतावनी के बाद बाजार पूर्व स्थल पर ही लगा

चिरमिरि:-जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़(जे) चिरमिरि के कार्यकर्ताओं ने चिरमिरि के प्रमुख बाजार गोदरी पारा शनिचरी बाज़ार में व्यापारी एवं आम नागरिकों से मुलाकात कर वैश्विक महामारी कोविड 19 के खतरे के संबंध में जागरूकता अभियान चलाते लोगों को निःशुल्क मास्क वितरण कर उन्हें बताया कि अभी सिर्फ अनलॉक हुआ है लेकिन कोरोना का खतरा अभी टला नहीं है,बीमारी से घबराना नहीं है,लेकिन हमें कोरोना के प्रति गंभीर रहने की आवश्यकता है,इसके लिए सावधानी और सतर्कता बहुत जरूरी है,हमें एक दूसरे से फिजिकल दूरी कम से कम दो मीटर की बना कर रहना है,हाथ को समय समय पर साबुन से धोते रहें,मास्क लगा कर ही बाहर निकलें तथा किसी प्रकार के लक्षण महसूस करने पर नज़दीकी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र जाकर बीमारी सहित कोरोना की जांच भी कराएं,तथा स्वास्थ्य विभाग के दिशा निर्देशों का पालन करें,इससे हम कोविड 19 के संक्रमण को रोक सकते हैं,तथा संक्रमण का फैलाव निम्नतम स्तर का रहेगा,ज्ञात हो कि कुछ दिनों पूर्व नगर निगम ने चिरमिरि के प्रमुख गोदरी पारा के शनिचरी बाजार को स्थानांतरित कर श्री श्री गोरखनाथ मंदिर समीप स्थित खेल के मैदान में लगाने का निर्णय लिया था,इसके विरोध में जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़(जे)के संस्थापक सदस्य शाहिद महमूद ने नगर निगम को ज्ञापन देकर आंदोलन की चेतावनी दिया था,जिसपर क्षेत्रीय विधायक,रीजनल अस्पताल के सी एम ओ,नगर निगम के प्रतिनिधि,जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़(जे)के पदाधिकारियों सहित,सब्जी विक्रेता व्यपारी के बैठक के बाद पूर्व स्थल पर ही निगम ने बाज़ार लगाने का निर्णय लिया था,इसी के परिपालन में शनिचरी बाज़ार अपने पूर्व स्थान रीजनल अस्पताल के सामने ही लगा,जिससे व्यापारियों एवं आम नागरिकों में हर्ष का माहौल व्याप्त था इस दौरान शाहिद महमूद, फणीन्द्र हमाम मिश्रा,उदय सिंह,सानु जोन्सी,फैजान रज़ा, तिलकेश्वर चौहान,देवेंद्र महाराणा,अजय मिश्रा,रामदेव लकड़ा,अफजाल अंसारी,अनिल दलाई,पांडु,भी उपस्थित थे।

अभाविप ने स्कूलों में हो रही मनमानी को लेकर की शिकायत कार्यवाही नहीं होने पर दी आंदोलन की चेतावनी

जांजगीर चाँपा:-जिला संयोजक मनोबल सिंह जाहिरे ने बताया कि वर्तमान समय में वैश्विक महामारी कोरोना की वजह से छत्तीसगढ़ शासन द्वारा सभी शासकीय विद्यालय में बिना किसी शुल्क की प्रवेश देने की आदेश जारी किया गया था जबकि नवमी से 12 वी तक प्रत्येक छात्रों से 800 से 1000 रुपए तक शुल्क लिया गया है नहीं किसी भी प्रकार की रसीद दिया गया है छात्र-छात्राओं की भविष्य को ध्यान में रखते हुए और पालकों की आर्थिक स्थिति पर ध्यान देते हुए इस विषय पर तुरंत निर्णय लेकर अभाविप ने छात्र छात्राओं की फीस वापस करने की आग्रह किया था। कोर्ट द्वारा दिए गए आदेश को नकारते हुए उसकी अवहेलना किया जा रहे है अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने कुछ दिनों पूर्व प्राइवेट स्कूलों में ऑनलाइन क्लास के नाम पर मनमानी ढंग से पैसे लेने व शासन द्वारा दिए गए आदेश की अवहेलना कर बच्चों से पैसा लेने पर ज्ञापन सौंपा था परंतु अभी तक उसका कोई निराकरण नहीं किया गया है। कोरोना जैसी वैश्विक महामारी के कारण लोग आज भी अपना जीवन यापन करने में मजबूर हैं अनेक पालकों के काम अभी तक बंद पड़े हुए हैं जिसके कारण भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इसी दिशा में पालकों ने अलग-अलग विद्यालय पर शिकायतें दर्ज भी कराई है लेकिन प्रशासन का रवैया एकदम ढुलमुल है। अभाविप ने अपने निम्न मांगे रखें है 1. उक्त शिकायतों को संज्ञान में लेते शासकीय एवं निजी विद्यालयों में लिए गए प्रवेश शुल्क वापस कराने नोटिस जारी किया जाए। 2. जिले की एक कमेटी बनाई जाए जिसमें पालक व विद्यार्थी परिषद के प्रतिनिधियों को स्थान दिया जाए ताकि इन विषय में चर्चा की जा सके। अतः हम आपसे निवेदन करते हैं कि इन समस्याओं का निराकरण 7 दिनों के अंदर किया जाए अन्यथा अभाविप आंदोलन करने हेतु बाध्य होगी जिसकी समस्त जिम्मेदारी शासन प्रशासन की होगी। जिला संयोजक मनोबल जाहिरे पूर्व जिला संयोजक अमर मंहत प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य हेमंत पैगवार अमित अनंत नगर मंत्री नरेंद्र कश्यप, अजय देवगन ,आशुतोष सोनी, प्रशांत गोस्वामी आयुष सिंह, प्रदीप राठौर ,आकाश यादव, ललित , छत्रपाल विजय ,छबी माली, रितेश महाराणा अन्य कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

कांट्रैक्ट फ़ार्मिंग के तहत भाजपा और मोदी सरकार षड्यंत्र पूर्वक किसानों के भूमि को हड़प कर उद्योगपतियों को देना चाहती है - ज्योति कुमार

बीजापुर :-भाजपा जिला अध्यक्ष श्रीनिवास मुदिलीयार जी के प्रेस विज्ञप्ति पर प्रतिक्रिया देते हुए जिला कांग्रेस कमेटी बीजापुर के प्रवक्ता ज्योति कुमार ने कहा की पूर्व मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह के शासन काल में लगातार पंद्रह साल किसानों का शोषण हुआ वादे के तहत भाजपा शासन काल में किसानों को इक्कीस सौ रुपए समर्थन मूल्य के साथ साथ तीन सौ रुपए प्रति क्विंटल धान का बोनस देना था जो किसानों को नही दिया पूर्व मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह और भाजपा शासन काल में किसानों के साथ छलावा किया गया, धान का समर्थन मूल्य का वादा भाजपा शासन काल में किसानों के साथ किया गया सबसे बड़ा झूठ और जुमला साबित हुआ इसके लिए भाजपा को किसानों से माफ़ी माँगनी चाहिए। दूसरी तरफ़ प्रदेश के किसान पुत्र एवं यशस्वी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रदेश के किसानो के धान को पच्चीस सौ रुपए प्रति क्विंटल में ख़रीदा है जिसका भरपूर लाभ पूर्व मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह को भी मिला उन्होंने भी अपने धान को पच्चीस सौ रुपए प्रति क्विंटल में बेचा है साथ ही उन्हें राजीव गांधी किसान न्याय योजना का भी लाभ मिला है। भाजपा जिला अध्यक्ष मूदलियार गिरदावारी को लेकर भी मीडिया में झूठ परोस रहे है, जबकि सच यह है कि किसी भी किसान का रक़बा कम नही हो रहा है ये किसानों की सरकार है किसानों के हक़ को कोई नही छीन सकता। किसानों के हक़ छीनने में भाजपा और उनके लोग माहिर है। भाजपा द्वारा देश में लाये गए तीन काले कृषि क़ानून को देखने से ऐसा लगता है कि इन काले क़ानूनो से भाजपा और मोदी सरकार किसी तरह किसानों के ज़मीनों को कांट्रैक्ट फ़ॉर्मिंग (अनुबंध कृषि) के तहत हड़प कर बड़े व्यापारियों और उद्योगपतियों को देना चाहती है, भाजपा ज़िला अध्यक्ष श्रीनिवास मुदलियार ने अपने प्रेस विज्ञप्ति में इस बात को भी स्वीकार किया है कि अन्य राज्यों के व्यापारी हमारे राज्य में आएँगे इन पर किसी तरह का कोई दबाव नही होगा अर्थात सरकारी नियंत्रण पूरी तरह समाप्त हो जाएगी, मुदलियार के अनुसार मंडियाँ नाममात्र की रहेंगी और इसका भी पूरी तरह से नियंत्रण बड़े बड़े व्यापारियों और उद्योगपतियों के पास होगा, सरकार के पास समर्थन मूल्य घोषित करने का अधिकार नही होगा बल्कि अब इसका अधिकार व्यापारियों और उद्योगपतियों के पास होगा ये किसानों के उपज को किस मूल्य में ख़रीदेंगे ये सिर्फ़ वही बता सकेंगे, यदि कोई व्यापारी या उद्योगपति किसी किसान से धोखाधड़ी करता है या जालसाजी करता है तो उस पर किसी तरह की कोई क़ानूनी कार्यवाही नही होगी, जिला अध्यक्ष श्रीनिवास मुदलियार जी के प्रेस विज्ञप्ति से यही सिद्ध हो रहा है। मुदलियार जी बताएँ की भाजपा शासित राज्य जैसे हरियाणा, यू॰पी॰ और एम॰पी॰ जैसे राज्यों में इन नए कृषि क़ानूनों के ख़िलाफ़ आंदोलन क्यूँ हो रहे है ? covid-19 वैश्विक महामारी के बीच मोदी सरकार के आत्मनिर्भर भारत पैकेज के तहत एक लाख करोड़ रुपए के आवंटन में छत्तीसगढ़ प्रदेश और बीजापुर ज़िले को कितने रुपए मिले है और कौन कौन आत्म निर्भर हुआ है ? बीजापुर के विधायक विक्रम शाह मंडावी स्वयं एक कृषक परिवार से आते है वे जानते है की किसान का सबसे बड़ा धन जल, जंगल और ज़मीन है इसकी रक्षा करना उनकी ज़िम्मेदारी है। ज़िले का प्रत्येक किसान, मज़दूर, छोटे व्यापारी और कांग्रेस का प्रत्येक कार्यकर्ता के साथ साथ ज़िले का प्रत्येक व्यक्ति विधायक विक्रम शाह मंडावी के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा है और इन नए काले कृषि क़ानूनों को निरस्त करने तक लगातार किसानों के साथ मिलकर संघर्ष करते रहेंगे। भाजपा जिला अध्यक्ष और उनके कार्यकर्ता लगातार किसानों को झूठे आवश्वसन दे रहे है और किसानों को दिग्भ्रमित करने का प्रयास कर रहे है, क्षेत्र के किसान भाजपा के झूठे और झूमलों को समझ चुकी है और उनके झाँसे में आने वाली नही है। कांग्रेस पार्टी गाँव गाँव जाकर किसानों के हक़ की लड़ाई लड़ेगी और किसानों को भाजपा के झूठे आश्वसनो और जुमलों से बचाएगी।

बस्तर जिले में पहली बार होने जा रहा कौन बनेगा सौ पति का आयोजन

स्वर संगीत ग्रुप द्वारा किया जा रहा आयोजन

कोरोना काल में सीमित संख्या में किया जा रहा आयोजन

जगदलपुर:-25 अक्टूबर 2020 को संध्या 8:00 बजे से 09:00 बजे तक फेसबुक लाइव पर सीधा प्रसारण किया जा रहा है।जो अफजल अली एवम संग्राम सिंग राणा के फेसबुक आईडी पर सीधा प्रसारण किया जाएगा। स्वर संगीत ग्रुप के तत्वाधान में जगदलपुर पर कौन बनेगा सौ पति का आयोजन होने जा रहा है। जिसमें मुख्य किरदार के रूप में अफजल अली एवं प्रशांत दास रहेंगे।कोरोना काल के चलते सीमित संख्या में आयोजन हो रहा है, विशेषकर सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क एवम 144 धारा का पालन होगा।स्वर संगीत ग्रुप के अध्यक्ष बीजू विश्वास ने कहा मुझे बहुत खुशी है कि इतना शानदार कार्यक्रम होने जा रहा है कौन बनेगा सौ पति जो कि अपने आप शहर में एक अनोखी पहल है।मैं ग्रुप का अध्यक्ष होने के नाते गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं। मेरे ग्रुप में एक से बढ़कर एक नगीने है। ग्रुप के सभी साथियों को मैं शुभकामनाएं प्रेषित करता हूं मुख्य किरदार निभाने वाले अफजल अली एवम प्रशांत दास को बधाई देता हूं। कार्यक्रम के मुख्य किरदार अफजल अली ने कहा कि कोरोना संक्रमण का जो काल है वह बहुत लोगों के लिए तकलीफ दे रहा है और सबसे बड़ी दिक्कत हम जैसे कलाकार को हैं जो लगातार मंच पर सक्रिय रहना चाहते हैं ना कोई कार्यक्रम करने की अनुमति है और ना ही दर्शक कार्यक्रम देखने आ सकते है इसीलिए ऑनलाइन कार्यक्रम किए जा रहे हैं गीत संगीत की सफलता के बाद कुछ नया करने के उद्देश्य से कौन बनेगा सौ पति करने की योजना बनी ,जिसका परिणाम आप सभी स्वर संगीत के बैनर तले होने वाले कौन बनेगा सौ पति में 25 अक्टूबर को रात 8:00 बजे से फेसबुक लाइव पर सीधा प्रसारण देख सकेंगे। स्वर संगीत ग्रुप के सचिव कमल झज्ज,उपाध्यक्ष संग्राम सिंह राणा,आभा सामदेकर,माही श्रीवास्तव, मनीष श्रीवास्तव,ज्योति गर्ग,कार्यक्रम प्रभारी कुक्की जारी सहित ग्रुप के सभी सदस्यों ने इस कार्यक्रम की बधाई प्रेषित की है।

प्रदेश के सभी जिलों में शुरू होगी हमर लैब, कम कीमत में मरीजों को मिलेंगी सुविधाएं

रायपुर:-प्रदेश सरकार जल्द ही राज्य के सभी जिलों में हमर लैब की शुरूवात करने वाली है। यह लैब अब तक केवल राजधानी रायपुर में शुरू किया जा सका है। सभी जिलों में हमर लैब खुलने से लोगों को निजी लैब में जाने और अधिक पैसे खर्च करने से छुटकारा मिलेगा। प्रदेश के जिला अस्पतालों की लैब को ही हमर लैब में डेवलप किया जा रहा है जिससे वहां सभी तरह की जांच की जा सके। इसके लिए जरूरी व एडवांस मशीनें लगाई जाएंगी और खून की 40 से 70 प्रकार के ब्लड टेस्ट हो जाएंगे और वह भी 50 रुपए से कम में। आमतौर पर निजी लैब व अस्पताल में इसके लिए जांच शुल्क 400 से 1200 रुपए है। राजधानी में फरवरी माह से शुरू हुए हमर लैब में ब्लड ग्रुप, डायबिटीज, लिवर, किडनी, यूरीन के अलावा जापानी इंसेफेलाइटिस, हेपेटाइटिस ए, बी व सी, हिमेटोलॉजी, बायो केमेस्ट्री, माइक्रो बायोलॉजी, सेरोलॉजी समेत 90 जांच हो रही है।

दुर्गासप्तमी के शुभ अवसर पर श्री रावतपुरा सरकार यूनिवर्सिटी के नवीन एकेडेमिक भवन में गृह प्रवेश

अनंत श्री विभूषित श्री रविशंकर महाराज श्री (श्री रावतपूरा सरकार) के आशीर्वाद से दुर्गासप्तमी के शुभ दिवस दिनांक 23-10-2020 को श्री रावतपुरा सरकार यूनिवर्सिटी के नवीन एकेडेमिक भवन का गृह प्रवेश पूजन माँ दुर्गा की पूजा-अर्चना से किया गया । इस पूजा में यूनिवर्सिटी के कुलपति डॉ. आर. के. पाठक, निदेशक अतुल कुमार , सिविल सलाहकार राम सेवक साहू, यूनिवर्सिटी के प्रभारी कुलसचिव वरुण गंजीर, नर्सिंग विभाग के प्राध्यापक उत्तम वैष्णव एवं समस्त विभाग प्रमुख व् समस्त शिक्षकगण उपस्थित ह रहे। जिसमे आश्रम के पंडितो द्वारा वैदिक मंत्रोपचार के साथ पुरे भवन का पूजन किया गया । इस नवनिर्मित ऐकडेमिक भवन (श्री रावतपुरा सरकार यूनिवर्सिटी) का कुल निर्माणाधीन क्षेत्रफल 65000 वर्गफीट में हुवा है। यूनिवर्सिटी के इस ऐकडेमिक भवन में विशाल सेंट्रल लाइब्रेरी एवं स्मार्ट क्लास का निर्माण किया गया है एवं कंप्यूटर लैब का भी निर्माण किया गया है जो कि सभी संकायों के छात्र-छात्राओं के लिए लाभदायी होगा। जो कि यूनिवर्सिटी के छात्रों को नई मुकाम में ले जा रहा है। नई टेक्नोलॉजी के साथ लैब का भी बेहतर निर्माण किया गया है । अंत मे माँ जगदम्बे की आरती कर प्रसाद वितरण किया गया इस पूजन कार्यक्रम में यूनिवर्सिटी के निदेशक महोदय अतुल कुमार जी, ने यूनिवर्सिटी के सभी विभागों के प्रिंसिपल, स्टाफ व् शिक्षकगण को शुभकामनाएं दी । सम्पूर्ण पूजा की व्यवस्था स्टेट मैनेजर गौरव शर्मा एवं आश्रम प्रभारी कौशल शर्मा के द्वारा किया गया।

क्षेत्रीय विधायक द्वारा किसानो को भ्रमित करना बंद करें- मुदलियार

बीजापुर:-जिले में इन दिनों क्षेत्रीय विधायक विक्रम शाह मंडावी ने क्षेत्र के किसानों को भ्रमित कर एक हस्ताक्षर अभियान चला रहें हैं, जो हास्यपद है । नये कृषि कानून के प्रावधानों का अध्ययन किये बिना विधायक द्वारा किसानों के समक्ष प्रावधानों के विपरीत तथ्यों को प्रस्तुत कर दिग्भर्मित किया जा रहा है एवं कांग्रेस सरकार के खिलाफ किसानों के विरोध स्वर को दबाने का एकमात्र कुत्सिक प्रयास है। केंद्र की भाजपा सरकार अपने पहले कार्यकाल से किसानों के हितों के प्रति प्रतिबद्ध रही प्रधानमंत्री . नरेंद्र मोदी का विशेष फोकस कृषि क्षेत्र में किसानों को समृद्ध एवं सशक्त बनाने पर रहा ।क्षेत्रीय विधायक का इन दिनों किसानों को नये कृषि सुधार कानून के वास्तविक उद्देश्य व तथ्यों को छिपाकर अपने राजनैतिक लाभ हेतु गलत तथ्यों को प्रस्तुत किया जा रहा है जिससे कानून को बदला नही जा सकता ।किसानों को नये कृषि सुधार बिल का ज्ञान देने से पहले स्वयं भी बिल में उल्लेखित प्रावधानों का बारीकी से अध्ययन कर लेते तो शायद विरोध करने के लिए भी विरोध नही कर पाते क्योंकि जो कानून बना वह विशुद्ध रूप से किसानों के हितों को ध्यान में रखकर बनाया गया और सम्पूर्ण देश के किसानों ने हार्दिक रूप से स्वागत किया ।जिन तीन कानूनों को बदलने विधायक द्वारा किसानों से भ्रमित कर हस्ताक्षर करवाया जा रहा है वही तीन कानून किसानों के जीवन मे सुख समृद्धि और खुशहाली एवं किसानों को सशक्त बनाने तथा किसानों के हितों का संरक्षण करने वाली कानून है ।राजनैतिक द्वेषता से यदि इस नए कानून का लाभ छत्तीसगढ़ एवं बीजापुर जिले के किसानों को नही मिल पाता है तो इसका जिम्मेवारी कांग्रेस सरकार एवं बीजापुर के क्षेत्रीय विधायक होंगे । देश मे 7 दशको के बाद इस नये कानून से अन्नदाताओं को बिचौलियों के चुंगल से मुक्ति मिलेगी साथ ही अपनी उपज को इच्छानुसार मूल्य पर कंही भी बेचने की आज़ादी मिलेगी। पहले हमारे किसानों का बाजार सिर्फ स्थानीय मंडी तक सीमित तथा उनके खरीददार सीमित थे मूल्यों में पारदर्शिता नही थी इस कारण उन्हें अधिक परिवहन लागत ,लम्बी क़तारें, एवं स्थानीय माफियाओं का मार झेलनी पड़ती थी। इस नये विधेयक से कृषि क्षेत्र में अभूतपूर्व परिवर्तन आएगा। विधायक जी का यह वक्तव्य बड़ा ही हास्यपद है कि ,किसानों के लिए नये कानून में न्यूनतम समर्थन मूल्य एवं मंडियों का प्रावधान नही होना बताया गया जबकि नये कानून के तहत न्यूनतम समर्थन मूल्य पर पहले की तरह खरीदी जारी रहेगा किसान अपनी फसल का सौदा सिर्फ अपने ही नही बल्कि अन्य राज्यो के लाइसेंसी व्यापारियों के साथ भी कर सकते है। मंडिया समाप्त नही होगी पहले की तरह पूर्ववत व्यापार होगा और किसानो को मंडी के साथ साथ अन्य स्थानों पर अपनी उपज बेचने का विकल्प प्राप्त होगा। किसानों को अनुबन्ध में पूर्ण स्वतंत्रता होगी कि वह इच्छानुसार दाम तय कर उपज बेच सकेगा। देश मे छोटे किसानों को ध्यान में रखते हुए कॉन्टेक्ट फॉर्मिंग लागू किया गया सिर्फ उत्पाद पर कॉन्टेक्ट लागू होगा जमीन पर नही। इस विधेयक से देश भर में किसानों को उपज बेचने के लिए "एक देश-एक बाजार की अवधारणा को बढ़ावा मिलेगा। मंडी अधिनियम के तहत पंजीकृत व्यापारी पूर्ववत से भी किसानों के उपज खरीद रहे थे पर गत वर्ष सरकार की हठधर्मिता के कारण बहुत से बीजापुर के किसान बिचौलियों को अपनी उपज कम दाम में बेचने को मजबूर हुए हैं। अब इस नये कानून से किसान अपनी उपज की सही मूल्य पर बेचने स्वतंत्र होंगे, वंही एक महत्वकांक्षी योजना आयुष्मान भारत का लाभ पूरे देश को मिल रहा है सिर्फ छत्तीसगढ़ को छोड़ कर ।केंद्र की जनकल्याणकारी योजना को बंद कर छ ग एवं बीजापुर की जनता के साथ छलावा व अन्याय व शोषण किया जा रहा है ,इस पर विधायक जवाब दें? गिरदावरी के नाम पर रकबा कम किया गया जिससे किसान अपनी उपज धान कम बेच पाएंगे इस पर भी विधायक जवाब दें ? Covid-19 वैश्विक महामारी के बीच भी कृषि क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए मोदी सरकार ने आत्मनिर्भर भारत पैकेज के तहत 1 लाख करोड़ रुपये का आबंटन किया जिससे देश के किसानों को आर्थिक रूप से मज़बूती मिलेगी। जिस राजनैतिक दल ने दशको तक देश मे शासन किया किसानों को अंधकार और गरीबी में रखने का काम किया क्षेत्र के किसानो के प्रति स्थानीय विधायक की भी मंशा यही है कि यंहा के कृषको में समृद्धि और खुशहाली न आये उन्हें केंद्र सरकार की योजनाओं का लाभ लेने से रोका जाय । ऐसे प्रयासों को भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता सफल होने नही देंगे और किसानों के हक़ व हितों के संरक्षण के लिए लड़ते रहेंगे।

पंछी संरक्षक युवा दीपक तिवारी को अखिल विश्व ब्राम्हण हिदुत्व शक्ति मोर्चा का प्रदेश संगठन सचिव नियुक्त किया गया

जांजगीर चाँपा:-अकलतरा विखशखण्ड ग्राम तिलई के लेखक , निश्वार्थ समाजसेवक व पंछी संरक्षक युवा दीपक तिवारी को ज्योतिष आचार्य डॉ. अनिल तिवारी की अनुशंसा पर संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष शेषधर पाण्डेय के द्वारा अखिल विश्व ब्राम्हण हिदुत्व शक्ति मोर्चा का प्रदेश संगठन सचिव नियुक्त किया गया है। ज्ञात हो कि दीपक तिवारी लंबे समय से समाज के बेहद सक्रिय व समर्पित समाज सेवक रहे है । दीपक जांजगीर के ज्ञान ज्योति उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में शिक्षक है और पिछले कई वर्षों से खुद के जेब खर्च से पैसे बचाकर समाजसेवा का कार्य करते आ रहे हैं । हाल ही में उनके द्वारा लिखी पुस्तक अनमोल बेटियाँ का विमोचन पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने किया है समाज को जागरूक करने और लोकहित में उनकी हर पहल सम्पूर्ण मानव समाज के लिए अतुलनीय है । संगठन द्वारा उनके बोल वचन ,संस्कार ,कार्यक्षमता, व्यवहारकुशलता, एवं समाज सेवा के भावना को ध्यान में रखते हुए प्रदेशस्तर पर संगठन द्वारा दीपक को बड़ी जिम्मेदारी दी गई है। संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री शेषधर पाण्डेय ने दीपक को मनोनयन पत्र प्रेषित कर नई जिम्मेदारी देते हुए यह नियुक्ति की है। और विश्वास जताया है की वह स्वाभिमान हित ,समाजहित ,देश हित के लिए संगठन को मजबूत बनाने का कार्य निरंतर करते रहेंगे और समाज को एक सकारात्मक संदेश देते हुए सम्पूर्ण मानवहित के कार्यों में विशेष भूमिका निभाएंगे । इस जिम्मेदारी के लिए दीपक ने संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष सहित समस्त अखिल विश्व ब्राम्हण हिंदुत्व शक्ति मोर्चा के वरिष्ठ पदाधिकारीयों का ह्रदय से आभार प्रकट किया है।

दीपक के प्रदेश संगठन सचिव नियुक्त होने पर जिला प्रभारी बेटी बचाओ श्रीमति अनुराधा शुक्ला जांजगीर , शिक्षक अनुभव तिवारी खोखरा, राजा पाण्डेय चिरमिरी, शैलेंद्र तिवारी सकरी बिलासपुर ,मनोज तिवारी, धर्मेंद्र तिवारी , श्रवण तिवारी तिलई ,आशीष तिवारी नवागढ़, ने अपनी शुभकामनाएं देकर ,खुशी व्यक्त किया है।

छत्तीसगढ़ी फ़िल्म सुपर हीरो भैसा फेम पवन गांधी के माता जी का कोरोना से निधन

बालोद:-फ़िल्म सुपर हीरो भैसा के स्टार पवन गांधी की माता जी का कोरोना से निधन, नवोदित छालीवुड फ़िल्म स्टार पवन गांधी जी की माता जी श्रीमति दुर्गा गांधी जी उम्र 60 वर्ष का कोरोना के कारण सांस लेने में दिक्कत होने से उपचार के दौरान ,सुंदरा मल्टीसिटी हॉस्पिटल राजनांदगांव में निधन हो गया। जिनका अंतिम संस्कार सरकार के गाइडलाइन के हिसाब से राजनांदगांव में ही परिवार के उपस्थिति में किया गया।

सफलता की कहानी रेशम-सी रेशमी हुई जिंदगी,मनरेगा से रोपे 33 हजार 600 पौधों में कोसाफल उत्पादन से आयतू ने कमाए ढाई लाख

बीजापुर:-करीब 6 साल पहले बीजापुर जिला मुख्यालय से 13 किलोमीटर दूर स्थित शासकीय कोसा बीज केन्द्र, नैमेड़ में लगे साजा और अर्जुन के पेड़ों पर रेशम के कीड़ों का पालन और कोसाफल उत्पादन का काम करने वाले आयतू कुड़ियम कुछ साल पहले तक अपने खेत में खरीफ की फसल लेने के बाद सालभर मजदूरी की तलाश में लगे रहते थे, फिर भी उन्होंने हार नहीं मानी। यही वजह रही कि आज वह न सिर्फ कुशल कीटपालक के तौर पर कोसाफल उत्पादन कर अतिरिक्त कमाई कर रहे हैं, बल्कि गांव के 4 अन्य मनरेगा श्रमिकों को भी रेशम कीटपालन में दक्ष बनाकर कोसाफल उत्पादन से उनके जिंदगी को रेशम की तरह रेशमी बना रहे हैं। छत्तीसगढ़ के घोर नक्सल प्रभावित बीजापुर जिले का यह आदिवासी किसान अब ग्राम पंचायत नैमेड़ में स्थित रेशम विभाग के शासकीय कोसा बीज केन्द्र कीटपालक समूह का प्रतिनिधित्व करते हुए कीटपालन और कोसाफल का उत्पादन व संग्रहण का कार्य कर रहा है। कुशल कीटपालक बनने के बाद पिछले 3 सालों में आयतू को लगभग ढाई लाख रूपए की अतिरिक्त आमदनी हुई है। रेशम विभाग के सहायक संचालक राम सूरत बेक बताते हैं कि शासकीय कोसा बीज केन्द्र नैमेड़ में वर्ष- 2008-09 में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना अंतर्गत 3 लाख 44 हजार रूपए की लागत से 28 हेक्टेयर में लगभग 16 हजार 800 साजा और इतनी ही संख्या में अर्जुन के पौधे रोपे गए थे। आज ये पौधे लगभग 10 फीट के हरे-भरे पेड़ बन चुके हैं। बेक आगे बताते है कि विभाग के द्वारा यहां रेशम के कीड़ों का पालन कर कोसाफल उत्पादन का कार्य करवाया जा रहा है। साल 2015 में आयतू ने विभागीय कर्मचारी की सलाह पर यहां श्रमिक के रूप में काम करना शुरू किया था और अपनी सीखने की ललक के दम पर धीरे-धीरे कोसाफल उत्पादन का प्रशिक्षण लेना भी शुरू कर दिया था। सालभर में वह इसमें पूरी तरह से दक्ष हो चुका था। वर्ष 2016 में उसने गांव के चार मनरेगा श्रमिकों को अपने साथ समूह के रूप में जोड़ा और यहां पेड़ों का रख-रखाव के साथ कीटपालन और कोसाफल उत्पादन का कार्य शुरू कर दिया। इनके समूह के द्वारा उत्पादित कोसाफल को विभाग के कोकून बैंक के माध्यम से खरीदा जाता है। जिससे इन्हें सालभर में अच्छी-खासी कमाई हो जाती है। कुशल कीटपालक बनने के बाद कोसाफल उत्पादन से मिली नई आजीविका से जीवन में आये बदलाव के बारे में आयतू कहते हैं कि आगे बढ़ने के लिए मेने मन में खेती-किसानी या मजदूरी के अलावा कुछ और भी करने का मन था। रेशम कीटपालन के रूप में मुझे रोजी-रोटी का नया साधन मिला है। मनरेगा से यहां हुए वृक्षारोपण से फैली हरियाली ने मेरी जिंदगी में भी हरियाली ला दी है। कोसाफल उत्पादन से जुड़ने के बाद अब मैं अपने परिवार का भरण-पोषण अच्छे से कर पा रहा हूं और अपने 3 बच्चों को अच्छी शिक्षा दिला पा रहा हूँ।

राशन कार्ड एवं आधार सीडिंग का कार्य शत-प्रतिशत निर्धारित,15 दिवस में कार्य पूर्ण करने के निर्देश

बीजापुर:-सहकारी शाखा के प्रबंधकों सहित वन विभाग के अधिकारियों एवं खाद्य विभाग की संयुक्त बैठक जिला कार्यालय में आहुत किया गया। कलेक्टर रितेश कुमार अग्रवाल ने सभी अधिकारियों को आपसी समन्वय स्थापित कर शतप्रतिशत नवीन राशन कार्ड जारी करने एंव आधार सीडिंग करने के निर्देश देते हुए 15 दिवस में सभी कार्य पूर्ण करने को कहा। उन्होने अधिकारियों को निर्देशित किया कि राशनकार्ड, आधार कार्ड सीडिंग एवं सत्यापन का कार्य पूर्ण रुप से त्रुटि -रहित हो, अगर त्रुटि पूर्ण जानकारी दिया जाता है, तो संबंधित अधिकारी के विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही किया जायेगा। जिस प्रबंधक का कार्य संतोषजनक नही था। उसे सख्त हिदायत देते हुए समय-सीमा में कार्य पूर्ण करने को कहा। वहीं संतोषजनक एंव अच्छे कार्य करने वाले प्रबंधकों का उत्साहवर्धन किया। कलेक्टर अग्रवाल ने सभी अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि शासन की योजनाओं का पूर्ण रुप से लाभ आम जनता तक सही ढंग से पहुंचाने एंव उनके आवश्यक प्रमाण पत्र बनाने में सहयोग करे।