राज्य

रेलवे करने जा रहे हैं सफर तो ये खबर है आपके लिए गाड़ियां रहेंगी रद्द

संबलपुर मंडल में नान-इंटरलाकिंग कार्य के फलस्वरूप कुछ गाड़ियों का परिचालन प्रभावित

ईस्ट कोष्ट रेलवे के संबलपुर मंडल के खलियापाली-लोसिंघा स्टेशनों के मध्य दोहरीकरण परियोजना कार्य हेतु दिनांक 24 सितम्बर 2019 से प्री इंटरलाकिंग/नान इंटरलाकिंग का कार्य किया जायेगा। इसके फलस्वरूप कुछ गाड़ियों का परिचालन प्रभावित रहेगा। विवरण इसप्रकार है-

1 दिनांक 24 सितम्बर 2019 से 03 अक्टूबर 2019 तक गाडी संख्या 58214 बिलासपुर-टिटलागढ पैसेंजर रद्द रहेगी।

2 दिनांक 25 सितम्बर 2019 से 04 अक्टूबर 2019 तक गाडी संख्या 58213 टिटलागढ- बिलासपुर पैसेंजर रद्द रहेगी।

3 दिनांक 24 सितम्बर 2019 से 03 अक्टूबर 2019 तक गाडी संख्या 58217 टिटलागढ-रायपुर पैसेंजर रद्द रहेगी।

4 दिनांक 25 सितम्बर 2019 से 04 अक्टूबर 2019 तक गाडी संख्या 58218 रायपुर-टिटलागढ पैसेंजर रद्द रहेगी।

स्वच्छता पखवाडा के सातवें दिन स्वच्छ रेलगाडी थीम पर विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन

भारतीय रेलवे, स्वच्छ-रेल स्वच्छ-भारत के तहत स्वच्छता-पखवाडा का आयोजन किया जा रहा है। दिनांक 16 सितम्बर से 30 सितम्बर तक आयोजित इस स्वच्छता-पखवाडा में दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के बिलासपुर मंडल में प्रत्येक दिवसों के थीम के अनुसार विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। आज दिनांक 22 सितम्बर को स्वच्छ रेलगाडी थीम पर विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए गए। नामित अधिकारियों और कर्मचारियों की टीमों द्वारा मंडल से गुजरने वाली सभी गाडियों में स्वच्छता का गहन निरीक्षण किया गया। मंडल वाणिज्य प्रबंधक श्री किशोर निखारे के नेतृत्व में उत्कल एक्सप्रेस के पेंट्रीकार में सफाई व्यवस्था का गहन निरीक्षण किया गया। साथ ही गाडी के टॉयलेट की साफ सफाई एवं लिनेन की बेहतर गुणवत्ता सुनिश्चित की गई। साथ ही मंडल के सभी स्टेशनों के वाशिंग लाइन, रेलवे यार्ड में बेहतर सफाई व्यवस्था सुनिश्चित की गई। बिलासपुर स्टेशन में गैर सरकारी संगठन निरंकारी चेरिटेबल के लगभग 50 सदस्यों द्वारा स्टेशन परिसर, प्लेटफार्म, यात्री प्रतिक्षालय, शौचालय एवं सामान्यतः ज्यादा गंदे होने वाले जगहों पर श्रमदान के तहत सफाई अभियान चलाकर यात्रियों को स्वच्छता के प्रति जागरूकता का संदेश दिया गया। इसीप्रकार मंडल के सभी प्रमुख स्टेशनों में नामित अधिकारियों व कर्मचारियों द्वारा गाड़ियों के अंदर, पेंट्रीकार, टॉयलेट की सफाई का गहन निरीक्षण किया गया। स्टेशन के सभी प्लेटफार्म में गहन सफाई अभियान चलाया गया। साथ ही गार्डन एवं रेलवे ट्रेक में उगे घास की कटाई की गई तथा यात्रियों को स्वच्छता जागरूकता का संदेश दिया गया।

दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे मेँ स्वच्छता पखवाडा के छठा दिन स्वच्छ रेलगाड़ी के दौरान अनेक कार्यक्रमो का आयोजन ।

भारतीय रेलवे द्वारा “स्वच्छ-रेल स्वच्छ-भारत” के तहत स्वच्छता ही सेवा-पखवाडा का दिनांक 16 सितम्बर से 30 सितम्बर, 2019 तक आयोजन किया जा रहा है । इस स्वच्छता -पखवाडा दौरान दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे में प्रत्येक दिवसों के थीम के अनुसार विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है । स्वच्छता-पखवाडा का आयोजन के तहत आज दिनांक 21 सितम्बर, 2019 को स्वच्छ रेलगाड़ी थीम के दौरान दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के तीनों रेल मण्डल में इस थीम के अंतर्गत छठा दिन स्वच्छ रेलगाड़ी के दौरान ट्रेनों में स्वच्छता अभियान को आगे बढाया जा रहा है । स्वच्छ रेलगाड़ी थीम के अंतर्गत गाड़ियों के भीतर एवं वाशिन्ग्लाइन पर की सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाएगा । इस दौरान बिलासपुर ज़ोन से शुरू होने वाली एवं यहाँ से होकर गुज़रने वाली गाड़ियों में नामित अधिकारियों एवं कर्मचारियों के द्वारा नियमित रूप से निरिक्षण एवं सधन जांच की गयी, स्वच्छता से सम्बंधित शिकायतों पर विशेष नज़र रखी गयी । गाड़ियों के इन्साईड एवं आऊटसाईड की सफाए पर एवं खान पान के सामानों के स्वाच्चता एवं पेंट्रीकार की स्वच्छता पर निगरानी रखी गयी । स्वच्छता-पखवाडा के छठवें दिन आज दिनांक 21 सितम्बर 2019 को स्वच्छ रेलगाडी थीम पर मंडल के ओबीएचएस आधारित सभी गाडियों में नामित अधिकारियों एवं कर्मचारियों द्वारा गहन स्वच्छता निरीक्षण किया गया। इस दौरान सभी गाडियों के विशेष रूप से टॉयलेट की साफ सफाई के साथ ही साथ भीतरी स्थानों में बेहतर सफाई व्यवस्था सुनिश्चित की गई। डस्टबिन की उपलब्धता का भी निरीक्षण किया गया। ओबीएचएस कर्मचारियों एवं सुपरवाइजरों एवं सफाई के औजारों की उपलब्धता तथा सफाई के दौरान उपयोग की जाने वाली जैसे फिनाइल, एसीड, फ्रेशनर आदि की गुणवत्ता भी जॉची गई। गाडियों के अंदर बायोटायलेट उपयोग करने के निर्देश, स्वच्छता जागरूकता संबंधित पोस्टर तथा रेल परिसर में गंदगी फैलाने पर रेलवे नियमानुसार जुर्माने के प्रावधानों का पोस्टर चस्पाकर यात्रियों से स्वच्छता बनाये रखने का आग्रह किया गया । यात्रियों से सफाई व्यवस्था पर फीडबेक लेने के साथ ही साथ यात्रा के दौरान सफाई के लिए 58888 पर पीएनआर नं. के साथ संदेश भेजने तथा अन्य समस्याओं के समाधान के लिए रेल मदद एप के माध्यम से शिकायत करने की सलाह दी गई । स्वच्छता पखवाडा के अंतर्गत कल दिनांक 22 सितम्बर को स्वच्छ रेलगाड़ी थीम पर नामित अधिकारियों और कर्मचारियों की टीमों द्वारा मंडल से गुजरने वाली सभी गाडियों में स्वच्छता का गहन निरीक्षण किया जायेगा। गाडियों के पेंट्रीकार में सफाई व्यवस्था का गहन निरीक्षण किया जायेगा। साथ ही वाशिंग लाइन, रेलवे यार्ड, टॉयलेट की साफ सफाई एवं लिनेन की बेहतर गुणवत्ता सुनिश्चित की जायेगी। दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे रायपुर रेल मंडल मे आज दिनांक 21 सितंबर, 2019 को रायपुर रेल मंडल की ट्रेनों मे स्वच्छता अभियान चलाया गया । साथ ही आज रायपुर स्टेशन परिसर में घूमने वाले आवारा कुत्तों को पकड़ने का अभियान चलाया गया। पार्किंग एरिया को साफ सुथरा किया गया । स्वच्छ रेलगाड़ी के अंर्तगत यात्रियों को चलित गाडियों में साफ सुथरी एवं आरामदायक यात्रा हो इसके लिए गाड़ियों में ऑन बोर्ड हाउस कीपिंग प्रणाली (obhs ) की सुविधा प्रदान की गयी है। स्वच्छ रेलगाड़ी अभियान में obhs स्टाफ को उनके उत्तरदायित्व के प्रति समर्पित भाव से काम करने के लिए रेलवे अधिकारियों ने कॉउंसिल किया।। ट्रेनों में उपलब्ध साफ सफाई की सामग्रियों की सुनिश्चितता की गई। ट्रेनों की साफ सफाई, ट्रेनों के टॉयलेट की सफाई पर विशेष ध्यान दिया गया । ऑन बोर्ड हाउस कीपिंग प्रणाली (OBHS) के तहत गाडियों में यात्रियों को उपलब्ध कराई गई सेवाओं में सुधार करने के लिए और स्वच्छ हालत में कोच परिसर को रखने के लिए प्रत्येक गाडियों में सफाई कर्मचारी की नियुक्ति की गई है जो यात्रा के दौरान ट्रेन के साथ और ट्रेन मार्ग में सफाई के लिए एक निश्चित यूनीफार्म में सफाई सामग्रियों के साथ उपलव्ध रहता है। इसी प्रकार आज नागपुर रेल मण्डल के नागपुर रेल मंडल मे ऑन बोर्ड हाउस कीपिंग प्रणाली (OBHS) के तहत गाडियों में यात्रियों को उपलब्ध कराई गई सेवाओं में सुधार करने के लिए और स्वच्छ हालत में कोच परिसर को रखने के लिए प्रत्येक गाडियों में सफाई कर्मचारी की नियुक्ति की गई है जो यात्रा के दौरान ट्रेन के साथ और ट्रेन मार्ग में सफाई के लिए एक निश्चित यूनीफार्म में सफाई सामग्रियों के साथ उपलव्ध रहता है। दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे तीनों रेल मंडलों में स्वच्छता पखवाड़े में 22 सितम्बर को स्वच्छ रेलगाडी, दिनांक 23 सितम्बर को स्वच्छ परिसर, दिनांक 24 एवं 25 सितम्बर को स्वच्छ आहार, दिनांक 26 एवं 27 सितम्बर को स्वच्छ नीर, दिनांक 28 सितम्बर को स्वच्छ प्रसाधन, दिनांक 29 सितम्बर को स्वच्छ प्रतियोगिता थीम पर कार्य किए जाएंगे । दिनांक 30 सितम्बर को इस दौरान किए गए कार्यों की समीक्षा की जाएगी ।

दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के नए महाप्रबंधक श्री गौतम बनर्जी ने पहले दिन ही तीनों मंडल रेल प्रबंधकों सहित सभी विभागाध्यक्षों की बैठक ली।

• रेलवे सुरक्षा बल के जवानों ने गार्ड ऑफ़ ऑनरदिया |

• स्वच्छता पखवाड़ा को पूरी तरह से सफल बनाने का अहवान किया।

दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के नए महाप्रबंधक श्री गौतम बनर्जी ने पहले दिन ही आज वीडियों कांफ्रेंस के माध्यम से तीनों मंडल रेल प्रबंधकों की बैठक ली तथा सभी विभागाध्यक्ष भी इस बैठक में शामिल हुए ।

आज सुबह 10.00 बजे महाप्रबंधक महोदय के कार्यालय पहुचते ही सचिव श्री हिमांशु जैन एवं उपमहाप्रबंधक (सा) एवं मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी श्री रवीश कुमार सिंह एवं साथ ही साथ सचिवालय के कर्मियों के द्वारा भी उनका स्वागत किया गया ।

महाप्रबंधक के आज प्रथम बार कार्यालय पहुँचने पर रेलवे सुरक्षा के जवानो ने महाप्रबंधक श्री गौतम बनर्जी को प्रमुख मुख्या सुरक्षा आयुक्त श्री आर.एस.चौहान की उपस्थिती में गार्ड ऑफ़ ऑनर दिया ।

आज के इस विभागीय बैठक में सभी विभागाध्यक्षों एवं मंडल रेल प्रबंधकों से परिचय प्राप्त किया तथा दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे ज़ोन में चल रहे विभिन्न विकास कार्यो के बारे में उन्हें जानकारी दी गयी । इस बैठक में सभी विभागाध्यक्षों ने अपने-अपने विभाग से संबंधित कार्यो की जानकारी पावर पाइन्ट प्रेजेन्टेशन के माध्यम से प्रस्तुत की । जोन के साथ साथ बिलासपुर, रायपुर एवं नागपुर के मंडल रेल प्रबंधकों के द्वारा भी अपने-अपने मंडल के विकास कार्यों की जानकारी महाप्रबंधक महोदय को उपलब्ध कराई गयी ।

श्री गौतम बनर्जी ने समस्त अधिकारियों को सम्बोधित करते हुये अपने प्रथम सम्बोधन में अपनी प्राथमिकताओं के बारे में चर्चा की, यात्री सुविधाओं की उपलब्धता के बारे में जानकारी हासिल की एवं दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे में चल रहे अधोसंरचना के विकास एवं निर्माण के विषय में सभी कार्यों को यथा समय में पूरा करने पर जोर दिया | उन्होंने कहा कि न सिर्फ सभी कार्य समय पर पूर्ण की जाये वरन नियत समय से पहले कार्य समाप्त करें, एवं बचे समय में और दुसरे अन्य विकास के कार्यों को भी प्राथमिकता के आधार पर पूरा करें | संरक्षा एवं सुरक्षा को प्राथमिकता देते हुए संरक्षा एवं सुरक्षा पर किसी भी प्रकार की कोताही स्वीकार्य नही करने की दृढ़ता को दोहराया | दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के रिसोर्सेस के बेहतर से बेहतर उपयोग करते हुए यात्रियों की बेहतर सेवा करने पर जोर दिया | उन्होंने आगे कहा कि छोटी से छोटी कमियों में सुधार करने की आवश्यकता है, जिसके लिए हरेक रेक कर्मियों को जागरूक एवं आधिक संवेदनशील होने की बात कही | उनहोंने कहा कि रेलवे की कार्य प्रणाली में टीम प्रबंधन का बहुत महत्वपूर्ण योगदान है एवं किसी भी लक्ष्य की बाधा को सभी विभाग एवं सभी व्यक्ति एक होकर दूर करने का जल्द से जल्द प्रयास करें |

उन्होंने सभी को संबोधित किया कि उप्लाब्धियों पर भरोसा अच्छी बात है परन्तु आगे की चुनौतियों पर भी फोकस करते हुए एक जुट होकर कार्य करने की आवश्यकता है | इसके लिए सभी विभागों को अपने-अपने हिस्से के कार्यों को बखूबी निभाने की आवश्यकता है, ताकि भविष्य की चुनौतियों को पार किया जा सके | संरक्षा एवं सुरक्षा के प्रति हमें हमेशा सजग रहने पर बल दिया ।

दक्षिण पूर्व मध्य रेल्वे द्वारा अपने इंफ्राएस्टरकचर वढ़ाने, उसे और अधिक क्षमतायुक्त बनाने के लिए किये जा रहे कार्यों एवं अन्य बड़ी योजनाओं की प्रगति के बारे में भी जानकारी ली | लाईनों के दोहरी, तिहरी एवं चौथी लाइन के निर्माण के बारे में भी महाप्रबंधक महोदय को जानकारी दी गयीबी | रेल कोरिडोर परियोजनाओं के बारे में जानकारी लेते हए उन्होंने खरसिया-धर्मजयगढ़ परियोजना के विषय में विशेष रूप से ध्यान देते हुए हए उन्होंने इस परियोजना के जल्द से जल्द पूरी करने के सभी मुद्दों पर चर्चा की, ताकी इस परियोजना से जुड़े सभी विकास के मुद्दों का लाभ इस अंचल के लोगों को मिल सके । खरसिया-धरमजयगढ़ परियोजना – खरसिया 102 किलोमीटर की रेल कोरिडोर परियोजना है । जिसके अंतर्गत खरसिया से धरमजयगढ़ के कोयला बहुल पिछड़े इलाके में 102 किलोमीटर की नई रेललाइन बिछाने का कार्य प्रगति पर है | इस लाइन के निर्माण के पश्चात इन क्षेत्रों में नई आर्थिक गतिविधियाँ शुरू होगी | कोयले के उत्पादन में वृद्धी होगी एवं इससे तापघरों को आपूर्ती सुनिश्चित की जा सकेगी | जिससे की पूरे राष्ट्र में विद्युत् उत्पादन के क्षेत्र में निरंतरता बनी रहे और कारखानो एवं औद्योगिक संगठनों एवं आम लोगों के घरों तक बिजली की आपूर्ति की जा सके |

महाप्रबंधक श्री गौतम बनर्जी ने कल झारसुगुडा से बिलासपुर के मध्य विंडो ट्राली निरीक्षण करते हए आते समय इस खंड पर नव निर्मित दूसरी, तीसरी लाईनों का निरिक्षण किया | साथ ही अकलतरा स्टेशन का निरीक्षण भी किया एवं उन्होंने वहां की यात्री सुविधाओं का जायजा लिया | साथ ही साथ चल रहे स्वच्छ्ता अभियान का भी जायजा लिया | अपने प्रथम निरिक्षण के दौरान उनके द्वारा चिन्हित मुद्दों पर आज की बैठक में सभी अधिकारियों से उन मुद्दों पर गहन चर्चा की |

हटिया एवं छत्रपति शिवाजी टर्मिनस के मध्य 5 फेरों के लिए पूजा स्पेशल ट्रेन की सुविधा

बिलासपुर : दशहरा एवं दीपावली त्यौहार पर ट्रेनों में होने वाली अतिरिक्त भीड़ को कम करने एवं यात्रियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए रेलवे प्रशासन के द्वारा हटिया एवं लोकमान्य तिलक टर्मिनस के मध्य 5 फेरों के लिए पूजा स्पेशल ट्रेन की सुविधा दी जा रही है ।

• गाड़ी संख्या 08609 हटिया-लोकमान्य तिलक टर्मिनस पूजा स्पेशल ट्रेन दिनांक 02 से 30 अक्टूबर, 2019 तक (प्रत्येक बुधवार) को चलेगी । • गाड़ी संख्या 08610 लोकमान्य तिलक टर्मिनस-हटिया पूजा स्पेशल ट्रेन दिनांक 04 अक्टूबर, 2018 से 01 नवम्बर, 2019 तक (प्रत्येक शुक्रवार) को चलेगी ।

इस पूजा स्पेशल ट्रेन में 02 पावर कार, 04 एसी-III, 02 एसी-II, 04 स्लीपर, 03 एसएलआर कोच सहित कुल 15 एलएचबी कोच रहेगी । इस गाड़ी की विस्तृत समय-सारणी निम्नानुसार है :-

08609 हटिया-लोकमान्य तिलक टर्मिनस पूजा स्पेशल

स्टेशन 08610 लोकमान्य तिलक टर्मिनस-हटिया पूजा स्पेशल

आगमन प्रस्थान आगमन प्रस्थान

….. 17.35 (बुधवार) हटिया 17.30 (शनिवार) …..

20.30 20.35 राऊरकेला 10.30 10.45

22.50 22.55 झारसुगुड़ा 08.40 08.45

02.00 02.15 बिलासपुर 05.00 05.15

03.50 04.00 रायपुर 03.15 03.20

04.50 04.55 दुर्ग 02.20 02.25

06.55 07.00 गोंदिया 00.15 00.17

10.20 10.25 नागपुर 22.25 22.30

11.27 11.30 वर्धा 20.04 20.07

13.07 13.10 बडनेरा 18.15 18.20

14.10 14.15 अकोला 16.40 16.45

16.35 16.40 भूसावल 14.20 14.25

21.00 21.05 इगतपुरी 10.15 10.20

22.30 22.33 कल्याण 08.27 08.30

23.55 (गुरुवार) ….. लोकमान्य तिलक टर्मिनस ….. 07.55

(शुक्रवार)

---------------------------

जोनल रेल कार्यालय में राजभाषा सप्ताह समारोह संपन्न

पूरे सप्ताह भर चले राजभाषा सप्ताह-2019 का समापन एवं पुरस्कार वितरण समारोह का आयोजन सरस ‘काव्य संध्या‘ के साथ समाप्त हुआ. समारोह के मुख्य अतिथि श्री प्रमोद कुमार, अपर महाप्रबंधक ने अपने संदेश में कहा कि आप केवल राजभाषा सप्ताह एवं पखवाड़ा आदि तक ही अपने को सीमित ने रखें बल्कि हर दिन हिंदी दिवस मानते हुए रेलों के कामकाज में अधिक से अधिक हिंदी का प्रयोग करें और दक्षिण पूर्व रेलवे को इस दिशा में मजबूती प्रदान करें. उन्होंने यह भी कहा कि बैठक में चर्चा से पहले आंकड़े की सच्चाई की एक बार अवश्य जांच कर लेंं. इस अवसर पर आयोजित बैठक में पधारे सभी विभाग प्रमुखों एवं मंडलों व कारखानों के सदस्यों से भी कहा कि कार्यालयों एवं सेक्शनों में जाकर देंखें कि कर्मचारियों को हिंदी में काम करने में क्या कठिनाई हो रही है. उन्होंने कहा कि अपने अपने मंडल में आने वाले प्रत्येक स्टेशनों एवं यूनिटों में राजभाषा हिंदी का अधिकाधिक प्रयोग सुनिश्चित करें और ध्यान रखें कि सरकारी कामकाज में तथा आम जनता की जानकारी के लिए सभी प्रकार की सूचनाएं एवं पत्र-परिपत्र सरल से सरल हिंदी में ही जारी करें ताकि हिंदी की उत्तरोत्तर प्रगति हो सके ़ मुख्य राजभाषा अधिकारी श्री शशि प्रकाश द्विवेदी के मार्गदर्शन में पूरे सप्ताह आयोजित कार्यक्रम सफल रहा. उन्होंने अपने संबोधन में पुरस्कार विजेताओं तथा बैठक में आये हुए सदस्यों को उपयोगी एवं सार्थक कार्य करने का अनुरोध किया. उन्होंने रेलवे बोर्ड एवं मुख्यालय के आदेशों का अनुपालन करने तथा रिपोर्ट भेजने के निदेश मंडलों एवं कारखानों को दिये. इस अवसर पर सरस ‘‘सरस काव्य संध्या‘‘ का आयोजन किया गया जिसका संचालन श्री खुर्शीद हयात , वरिष्ठ साहित्यकार,बिलासपुर ने किया जिसमें बिलाईगढ़ से श्री बंशीधर मिश्रा एवं बिलासपुर से कुमारी हनी चौबे ‘‘मधुक्षरा‘‘ एवं श्री नितेश पाटकर को आमंत्रित किया गया था, इन्होंने अपनी कविताओं के माध्यम से हिंदी की महिमा का बखान एवं हिंदी प्रयोग की दिशा को रेखांकित किया. इसके पश्चात सप्ताह के दौरान चलाए गए विभिन्न प्रतियोगिताओं के कुल 82 पुरस्कार विजेताओं एवं निर्णायकों को अपर महाप्रबंधक महोदय के कर कमलों से पुरस्कृत किया गया. कार्यक्रम का संचालन एवं धन्यवाद ज्ञापन वरिष्ठ राजभाषा अधिकारी विक्रम सिंह ने किया.

जोनल रेल कार्यालय में राजभाषा सप्ताह समारोह संपन्न

पूरे सप्ताह भर चले राजभाषा सप्ताह-2019 का समापन एवं पुरस्कार वितरण समारोह का आयोजन सरस ‘काव्य संध्या‘ के साथ समाप्त हुआ. समारोह के मुख्य अतिथि श्री प्रमोद कुमार, अपर महाप्रबंधक ने अपने संदेश में कहा कि आप केवल राजभाषा सप्ताह एवं पखवाड़ा आदि तक ही अपने को सीमित ने रखें बल्कि हर दिन हिंदी दिवस मानते हुए रेलों के कामकाज में अधिक से अधिक हिंदी का प्रयोग करें और दक्षिण पूर्व रेलवे को इस दिशा में मजबूती प्रदान करें. उन्होंने यह भी कहा कि बैठक में चर्चा से पहले आंकड़े की सच्चाई की एक बार अवश्य जांच कर लेंं. इस अवसर पर आयोजित बैठक में पधारे सभी विभाग प्रमुखों एवं मंडलों व कारखानों के सदस्यों से भी कहा कि कार्यालयों एवं सेक्शनों में जाकर देंखें कि कर्मचारियों को हिंदी में काम करने में क्या कठिनाई हो रही है. उन्होंने कहा कि अपने अपने मंडल में आने वाले प्रत्येक स्टेशनों एवं यूनिटों में राजभाषा हिंदी का अधिकाधिक प्रयोग सुनिश्चित करें और ध्यान रखें कि सरकारी कामकाज में तथा आम जनता की जानकारी के लिए सभी प्रकार की सूचनाएं एवं पत्र-परिपत्र सरल से सरल हिंदी में ही जारी करें ताकि हिंदी की उत्तरोत्तर प्रगति हो सके ़ मुख्य राजभाषा अधिकारी श्री शशि प्रकाश द्विवेदी के मार्गदर्शन में पूरे सप्ताह आयोजित कार्यक्रम सफल रहा. उन्होंने अपने संबोधन में पुरस्कार विजेताओं तथा बैठक में आये हुए सदस्यों को उपयोगी एवं सार्थक कार्य करने का अनुरोध किया. उन्होंने रेलवे बोर्ड एवं मुख्यालय के आदेशों का अनुपालन करने तथा रिपोर्ट भेजने के निदेश मंडलों एवं कारखानों को दिये. इस अवसर पर सरस ‘‘सरस काव्य संध्या‘‘ का आयोजन किया गया जिसका संचालन श्री खुर्शीद हयात , वरिष्ठ साहित्यकार,बिलासपुर ने किया जिसमें बिलाईगढ़ से श्री बंशीधर मिश्रा एवं बिलासपुर से कुमारी हनी चौबे ‘‘मधुक्षरा‘‘ एवं श्री नितेश पाटकर को आमंत्रित किया गया था, इन्होंने अपनी कविताओं के माध्यम से हिंदी की महिमा का बखान एवं हिंदी प्रयोग की दिशा को रेखांकित किया. इसके पश्चात सप्ताह के दौरान चलाए गए विभिन्न प्रतियोगिताओं के कुल 82 पुरस्कार विजेताओं एवं निर्णायकों को अपर महाप्रबंधक महोदय के कर कमलों से पुरस्कृत किया गया. कार्यक्रम का संचालन एवं धन्यवाद ज्ञापन वरिष्ठ राजभाषा अधिकारी विक्रम सिंह ने किया.

स्वच्छ स्टेशन थीम पर स्टेशन, सरकुलेटिंग एरिया एवं नालियों का वृृहद सफाई अभियान

स्वच्छता-सप्ताह के पांचवे दिन आज दिनांक 20 सितम्बर 2019 को स्वच्छ स्टेशन थीम पर स्टेशन परिसर, सर्कुलेटिंग एरिया, टायलेट एवं ड्रेनेज सिस्टम में विशेष साफ सफाई अभियान चलाया गया। स्टेशन परिसर एवं सर्कुलेटिंग एरिया में विभिन्न सुविधाओं की उपलब्धता परखी गई तथा स्टेशन परिसरों में नालियों की वृहद सफाई भी की गई। इस अभियान के तहत नामित अधिकारियों एवं कर्मचारियों द्वारा मंडल के सभी स्टेशनों एवं सरकुलेटिंग एरिया में सफाई व्यवस्था का निरीक्षण किया गया। साथ ही सभी प्रमुख स्टेशनों में प्लास्टिक के उपयोग को बंद करते हुए प्लास्टिक मुक्त करने का सफल प्रयास किया गया। इसमें यात्रियों की सहभागिता सुनिश्चित की गई। स्टेशन परिसर के सभी बाथरूम, टाॅयलेट एवं यूरीनल के साथ ही साथ पटरियों की बेहतर सफाई सुनिश्चित की गई। वाटर बूथ, वाटर कूलर तथा वाटर टैप के ड्रेनेज का निरीक्षण भी किया गया तथा आवश्यकतानुसार इसकी विशेष साफ-सफाई की गई। इस दौरान सफाई में उपयोग होनेे वाली मशीनों की पर्याप्त मात्रा में उपलब्धता तथा कार्यप्रणाली का निरीक्षण किया गया। साथ ही नालियों की साफ-सफाई की गई तथा पानी की बेहतर निकासी की दिशा में कार्य किया गया। सुखे एवं गीले कचरों का अलग-अलग निष्पादन हेतु अलग-अलग डस्टबिन का प्रावधान किया गया है। स्टेशन भवन के छतों, सोलर प्लांट के पनलों आदि में भी स्वच्छता अभियान चलाया गया। शहडोल स्टेशन में स्कूली बच्चों द्वारा प्र्यावरण संरक्षण, प्लास्टिक के उपयोग के दुष्प्रभाव, पानी के उपचार एवं आवासीय परिसरों को दर्शाते हुए विज्ञान प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। इस दौरान बच्चों ने अपनी सकारात्मक सोच के साथ अनेक माॅडल बनाकर प्रदर्शित किये। इनके माॅडलों की सराहना यात्रियों द्वारा भी की गई। स्वच्छता पखवाडा के अंतर्गत 21 एवं 22 सितम्बर को स्वच्छ रेलगाड़ी थीम पर नामित अधिकारियों और कर्मचारियों की टीमों द्वारा ट्रेनों का गहन निरीक्षण किया जाएगा तथा ट्रेनों के भीतर साफ-सफाई सुनिश्चित की जायेगी। वाशिंग लाइन, रेलवे यार्ड तथा स्टेशनों में गहन निरीक्षण किया जायेगा तथा विशेष रूप से टॉयलेट की साफ सफाई एवं लिनेन की बेहतर गुणवत्ता सुनिश्चित की जायेगी। यात्रियों के सुझाव, प्रतिक्रिया पर तत्काल कार्रवाई भी की जायेगी।

गौतम बनर्जी दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के नये महाप्रबंधक ।

बिलासपुर -20 सितंबर, 2019 गौतम बनर्जी को दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के नये महप्रबंधक के रूप में नियुक्त किया गया है । 1982 बैच के भारतीय रेल विद्युत सेवा ( IRSEE) के अधिकारी श्री बनर्जी वर्तमान में दक्षिण पूर्व रेलवे, कोलकाता में प्रधान मुख्य विद्युत इंजीनियर के पद पर कार्यरत है । श्री बनर्जी ने एनआईटी, राउरकेला से 1982 में स्नातक की शिक्षा प्राप्त की है । दक्षिण पूर्व रेलवे के महत्वपूर्ण रेल मंडल खड़गपुर में भी मंडल रेल प्रबंधक जैसे प्रतिष्ठित पद पर कार्य किया है । बनर्जी ने पूर्व रेलवे में चीफ इलेक्ट्रिकल लोको इंजीनियर के साथ साथ पूर्व मध्य रेलवे, चितरंजन लोकोमोटिव वर्कशॉप सहित क‌ई अन्य विभिन्न महत्वपूर्ण पदों तथा इस्टर्न रेलवे में मुख्य संरक्षा अधिकारी, दक्षिण पूर्व रेलवे में डीजीएम के पद पर भी कार्य किया है ।

प्लाटून कमाण्डर ने किया पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण

Danteshwar kumar (Chintu) बीजापुर: नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत पीएलजी बटालियन नम्बर 01 के कंपनी नम्बर 01 का प्लाटून कमाण्डर सुधीर कोरसा उर्फ प्रकाश नक्सली जीवन शैली से त्रस्त होकर व नक्सलियों के खोखली विचारधारा से क्षुब्ध होकर तथा छत्तीसगढ़ शासन के पुनर्वास नीति से प्रभावित होकर समाज के मुख्य धारा में जुड़ने के उद्देश्य से नक्सलवाद छोडने का फैसला कर पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण किया । उक्त माओवादी के समर्पण में 204 कोबरा निरी़क्षक सोमदेव आर्य का विशेष योगदान रहा। धारित पद पर है 08.00 लाख का ईनाम, सुकमा, बीजापुर और उड़ीसा सहित 9बड़े घटनाओ मे रहा शामिल रहा है। आत्मसमर्पित माओवादी की जानकारी निम्नानुसार है - सुधीर कोरसा संगठन में द पीएलजीए बटालियन नं0 01,के कंपनी नं0 2 का प्लाटून कमांडर था। यह संगठन में वर्ष 2005 में डीव्हीसी हरिराम के द्वारा भर्ती कराया गया था ।जो कि हथियार ए0के0-47 रखता था।उपरोक्त माओवादी द्वारा आत्मसमर्पण करने पर उन्हें उत्साहवर्धन हेतु शासन द्वारा देय प्रोत्साहन राशि 10,000 हजार रूपये (दस हजार रूपये) नगद प्रदाय किया गया। इसे शासन के पुनर्वास नीति के तहत् और अन्य सुविधा का लाभ दिया जायेगा। इस अवसर पर पुलिस के अधिकारी/कर्मचारी एवं मीडिया उपस्थित रहे।

रामकथा प्रवचन में बिलासपुर पहुचे विश्व हिंदू परिषद के राष्ट्रीय अध्य्क्ष और श्रीम राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण न्यास के उपाध्यक्ष शंकराचार्य स्वामी आत्मानन्द सरस्वती...कहा..

रामकथा प्रवचन में बिलासपुर पहुचे विश्व हिंदू परिषद के राष्ट्रीय अध्य्क्ष और श्रीम राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण न्यास के उपाध्यक्ष शंकराचार्य स्वामी आत्मानन्द सरस्वती ने बड़ा बयान देते हुए कहा कि इस्लामिक गतिविधियां और ईसाई मिशनरी षणयंत्र कर सनातन धर्म और हिंदुओ को तोड़ने का काम कर रहा है और इनसे सावधान रहने के लिए सबको एकजुट होना जरूरी है । समय ना तो चुनावी माहौल है और ना ही देश में राम मंदिर का मुद्दा बहुत ज्यादा गरमाया हुआ है लेकिन ऐसा लग रहा है कि देश के साधू सन्त राम मंदिर के मुद्दे से पीछे हटने वाले नहीं हैं। बिलासपुर पहुंचे ने कहा कि इस साल के अंततक जरूर राम मंदिर का निर्माण हो जाएगा । ने कहा कि यह समय राम मंदिर को लेकर अंतरिम फैसला लेने का समय है । देश के प्रधानमंत्री ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कुछ फैसला लेकर पूरी दुनिया को ताकतवर राष्ट्र होने का संदेश दे दिया है और बताया है कि हम शक्तिशाली राष्ट्र हैं । स्वामी ने कहा कि जिस प्रकार धारा 370 खत्म करने के लिए काश्मीर में सेना की मूवमेंट को बढ़ा कर देशहित में बड़ा फैसला लिया गया उसी तरह ज अभी अयोध्या के इर्द गिर्द जो माहौल बना हुआ है और जिस प्रकार से सेना को मुस्तैद किया गया उससे ऐसा लग रहा कि जल्द ही कुछ बड़ा निर्णय लिया जा सकता है ।और इस बार तो केंद्र सरकार के पास राज्ससभा में भी बहुमत है और मोदी अपने संकल्प पत्र के वादों को पूरा कर इस साल के अंत तक राममंदिर के निर्माण का आदेश जरूर हो जाएगा

सावधान ट्रेन में सफर के पहले टिकट लेकर ही यात्रा करें ,सघन टिकट चेकिंग अभियान जारी है अब तक लगभग 1,14,515 रूपये की हुई वसूली

रायपुर:- 15 सितम्बर, 2019 दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे रायपुर रेल मंडल के वाणिज्य विभाग द्वारा समय-समय पर टिकट चेकिंग अभियान चलाया जा रहा है । जिससे यात्रियों को टिकट लेने के प्रति लगातार जागरूक किया जा रहा है, साथ ही यात्रियों को जागरूक किया जा रहा है कि वे उचित टिकट लेकर सही कोच में बैठे एवं अपनी सुखद यात्रा करें। टिकट चेकिंग अभियान में दिनांक 14 सितंबर 2019 को चलाया गया जिसमें बिना टिकट यात्रा करने वाले लगभग 64 मामलों से 27,645 रूपये राजस्व प्राप्त हुआ वही अनियमित टिकट के 103 मामलों से 45,685 रूपये का राजस्व प्राप्त हुआ अन बुकड़ लगेज के 397 मामलों से 39,890 रूपये राजस्व प्राप्त हुआ, वही श्रेणी उन्नयन के 13 मामलों से 1195 रूपये का राजस्व एवं रेलवे परिसर में कचरा फैलाने वालों 01 मामलों से 100 रूपये का राजस्व प्राप्त हुआ कुल 578 मामलों से रायपुर रेल मंडल के वाणिज्य विभाग द्वारा 1,14,515 रूपये का राजस्व प्राप्त किया गया इस टिकट चेकिंग अभियान में 32 टीटीई, 02 मुख्य वाणिज्य निरीक्षक द्वारा 05 लोकल एवं लगभग 23 एक्सप्रेस ट्रेनों में जांच की गई । |

स्वच्छ रेल स्वच्छ भारत के तहत दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे में दिनांक 16 से 30 सितम्बर, 2019 तक स्वच्छता-पखवाड़ा का आयोजन

बिलासपुर – 15 सितंबर, 2019

भारतीय रेलवे द्वारा “स्वच्छ-रेल स्वच्छ-भारत” के तहत स्वच्छता ही सेवा-पखवाडा का दिनांक 16 सितम्बर से 30 सितम्बर, 2019 तक आयोजन किया जा रहा है । इस स्वच्छता -पखवाडा दौरान दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे में प्रत्येक दिवसों के थीम के अनुसार विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा । स्वच्छता-पखवाडा के दौरान इस आयोजन के सफलतापूर्वक निष्पादन के लिए जोनल एवं मंडल स्तर पर तथा विभिन्न वर्कशॉप में नोडल अधिकारियों को नामित किया गया है, जो अपने क्षेत्र में स्वच्छता को सुनिश्चित करते हुए जोनल एवं मंडल मुख्यालय को अपना रिपोर्ट प्रति दिन प्रस्तुत करेंगे ताकि समग्र जोन की रिपोर्ट मुख्यालय से बोर्ड को भेजी जा सके | इसके साथ ही साथ विभिन्न स्तरों पर तीनों रेल मंडलो के सभी खंडो पर अनेक कार्यक्रमों के साथ सेमिनार आदि भी आयोजित कर जागरूकता फैलाई जायेगी । रेलवे स्टेशनों पर पीए सिस्टम उदघोषणा सीसीटीवी पर विज्ञापन के माध्यम से भी यात्रियो से स्वच्छता अपनाने एवं उनसे भी जागरूकता फैलाने का अनुरोध किया जा रहा है । दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे परिक्षेत्र में अवस्थित स्कूलो के बच्चों के लिये, वाल पेन्टिंग, निवंध, वाक्, प्रतियोगिता जैसे अलग अलग प्रकार से जागरूकता के लिए जागरूकता पोस्टर लगाकर और नारे से एवं नुक्कड़ नाटक आदि से भी जागरूकता के कार्यक्रम आयोजित की जायेगी |

दिनांक 16 सितम्बर से 30 सितम्बर, 2019 तक चलने वाले इस स्वच्छ-रेल स्वच्छ-भारत पखवाडा में मुख्यालय के साथ-साथ तीनों रेल मंडलों में भी इसे वृहद् रूप से मनाये जाने की रूपरेखा बना ली गयी है | तीनों रेल मंडलों में स्वच्छ-रेल स्वच्छ-भारत पखवाडा के दौरान स्वच्छता की शपथ एवं पूरे 15 दिनों तक रेलवे के कार्यालय, रेलवे स्टेशन, प्लेटफार्म, ट्रैक, कालोनी, रेलवे तरीकों के दोनो ओर की सफाई आदि सुनिश्चित की जायेगी एवं आसपास के लोगों को स्वच्छता बनाए रखने एवं इसे आदत में शामिल करने सम्बंधित जानकारी एवं जागरूकता फैलाई जायेगी | दिनांक 16 सितम्बर से 30 सितम्बर, 2019 तक चलने वाले इस स्वच्छ-रेल स्वच्छ-भारत पखवाडा में पूरे 15 दिनों तक आयोजित कार्यक्रम को प्रतिदिन एक अलग-अलग थीम दी गयी है | पहले से पन्द्रहवें दिवस तक इस पखवाड़े में थीम रहेगी जो क्रमशः –

• स्वच्छता जागरूकता – इस थीम के अंतर्गत जोन, मंडल मुख्यालय एवं कारखनों में स्वच्छता से सम्बंधित शपथ ली जायेगी | विभिन्न जगहों पर प्रभात फेर, रेलवे के अधिकारियों एवं कर्मचारियों के द्वारा एवं NGOके माध्यम से श्रमदान, नुक्कडनाटक, आदि के साथ वृक्षारोपण के कार्यक्रम भी आयोजित की गयी है |

• स्वच्छ संवाद – इस थीम के अंतर्गत एक से दुसरे तक संवाद के माध्यम से स्वच्छता अभियान को आगे बढाई जायेगी | स्टेशन पर उद्घोषणा कर, नाटक के माध्यम से एवं कालोनियों में घर-घर जाकर कालोनी वासियों, स्टेशन पर यात्रियों, कार्यालयों पर कार्मचारियों के मध्य सेमीनार, भाषण CCTV से एवं स्काउट एवं गाईड के सदस्यों के द्वारा जागरूकता फैलाई जायेगी |

• स्वच्छ स्टेशन – इस थीम के अंतर्गत स्टेशन पर विशेष अभियान चलाया जाएगा | इस दौरान यात्रियों से भी स्वच्छता के लिए अपील की जायेगी, अतिरिक्त डस्टबीन रखे जायेंगे, इस प्रकार समस्त रेलवे स्टेशनों पर विशेषकर A एवं A1 स्टेशनों पर उद्घोषणा, विज्ञापन, फिल्मों एवं पोस्टर, नाटक के माध्यम से स्टेशन पर उपस्थित कार्यालयों पर कार्मचारियों के द्वारा जागरूकता फैलाई जायेगी | ट्रेनों पर भी सफाई के लिए जागरूकता फैलाई जायेगी | जनता से सफाई के बारे में राय ली जायेगी व उनके शिकायतों पर त्वरित कार्यवाही करते हुए स्वच्छता को सुनिध्चित की जायेगी |

• स्वच्छ रेलगाड़ी – स्वच्छ रेलगाड़ी थीम के अंतर्गत गाड़ियों के भीतर एवं वाशिंग लाइन पर की सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाएगा | इस दौरान बिलासपुर ज़ोन से शुरू होने वाली एवं यहाँ से होकर गुज़रने वाली गाड़ियों में नामित अधिकारियों एवं कर्मचारियों के द्वारा नियमित रूप से निरिक्षण एवं सधन जांच की जायेगी, स्वच्छता से सम्बंधित शिकायतों पर विशेष नज़र राखी जायेगी | गाड़ियों के इन्साईड एवं आऊटसाईडकी सफाए पर एवं खान पान के सामानों के स्वाच्चता एवं पेंट्रीकार की स्वच्छता पर निगरानी रहेगी |

• स्वच्छ परिसर – इस थीम के अंतर्गत स्टेशन परिसर, रिटायरिंग रूम, डोरमेट्री , प्रतीक्षालय, रानिन्गरूम, कार्यालय परिसर, हास्पिटल, स्वस्थ्केंद्र, डिपो, ट्रेनिंग स्कूल एवं कालोनियों पर विशेष अभियान चलाया जाएगा कही भी कचरा डंप करने के जगहों को साफ़ किया जाएगा जिसे कर्मचारियों द्वारा एवं श्रमदान के द्वारा भी किया जाएगा एवं साथ ही साथ पौधारोपण के भी कार्य किये जायेंगे |

• स्वच्छ आहार – इस थीम के अंतर्गत स्टेशन पर स्टेशनों पर लगे खान-पान के सामानों की नापतौल के साथ उनकी गुणवत्ता के विषय में जांच की जायेगी, स्टेशनों पर खाने के सामन बनाने के जगह, रसोई, केन्टीन, कचरा फेकने के स्थान पर सफाई रखी जायेगी, साथ ही रनिंग रूम के किचन, प्रशिक्षण केन्द्रों के किचन आदि की भी जांच करते हुए सफाई को सुनिश्चित की जायेगी | इस दौरान सफाई कर्मचारियों, रसोई में काम करने वाले कर्मचारियों के स्वास्थ्य जाँच करते हुए सफाई का विशेष अभियान चलाया चलाया जाएगा साथ ही साफ़-सफाई के तरीको एवं सामानों की भी निगरानी की जायेगी |

• स्वच्छ नीर – स्वच्छ नीर थीम के अंतर्गत दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के अंतर्गत आने वाले सभी जल आपूर्ती के स्रोत स्तानो पर साफ़-सफाई सुनिश्चित के लिए विशेष अभियान चलाया | इसके साथ ही समस्त वाटर ट्रीटमेंट प्लांट पर, जल संग्रहण स्थानों पर, प्री एवं पोस्ट वाटर फ़िल्टर प्लांट,पर पानी की गुणवत्ता के विषय में मानक के अनुसार क्वालिटी सुनिश्चित की जायेगी | पानी के पाईप, पानी के निकासी, संग्रहन, फिल्ट्रेशन , आदि सभी जगहों पर सफाई के साथ पानी के सेम्पल के आधार पर गुणवता पर भी कड़ी निगरानी रखी जायेगी |

• स्वच्छ प्रसाधन – इस थीम के अंतर्गत स्टेशनों, कार्यालयों आदि के समस्त प्रसाधन कक्षों की गहन सफाई को सुनिश्चित की जायेगी | इसमें ट्रेनों के टॉयलेट, पानी के उपलब्धता, पाईप लिकिंग, पानी के निकासीकरण, आदि के बारे में विशेष ध्यान दिया जाएगा | इससे सम्बंधित बातों को भी नुक्कड़ नाटक ले माध्यम से एबं विभिन्न मीडिया के माध्यम से जनता एवं यात्रियों के मध्य भी जागरूकता फैलाई जायेगी |

• स्वच्छ प्रतिस्पर्धा – इस थीम का उद्देश्य है कि अच्छे स्वास्थ के लिए सफाई की महत्ता को बताना है | सफाई को अपने आदत में शामिल करने के लिए हर संभव प्रयास करते रहना है | इस दौरान सफाई से सम्बंधित अच्छे कार्य पर उन्हें सम्मानित किया जाएगा |

दिनांक 16 सितम्बर से 30 सितम्बर, 2019 तक चलने वाले स्वच्छ-रेल स्वच्छ-भारत पखवाडा में थीम के आधार पर फोकस होते हुए स्वच्छता से सम्बंधित कार्य संपादित किये जायेंगे | एवं अंतिम दिन दिनांक 30 सितम्बर को स्वच्छता पखवाड़ा के दौरान के अनुभवों की समीक्षा करते हुए आगे की रणनीति तैयार कर काम किया जाएगा |

दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे, बिलासपुर मंडल में राजभाषा पखवाड़ा उद्घाटित

दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे, बिलासपुर मंडल में दिनांक 13 सितंबर से 27 सितंबर 2019 तक राजभाषा पखवाड़ा मनाया जा रहा है। इस दौरान अधिकारियों के लिये प्रश्नमंच, हिंदी प्रशासनिक शब्दज्ञान प्रतियोगिता, कर्मचारियों के लिये हिंदी टिप्पण आलेखन, हिंदी वाक, हिंदी निबंध एवं हिंदी प्रशासनिक शब्दावली ज्ञान प्रतियोगिता के अलावा कर्मचारियों और अधिकारियों के लिये राजभाषा कार्यशालाएं, तकनीकी संगोष्ठी एवं कवि सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा। इसी क्रम में 13 सितंबर 2019 को हिन्दी दिवस की पूर्व संध्या में मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय में मंडल रेल प्रबंधक श्री आर.राजगोपाल ने विद्या की देवी मां सरस्वती के छायाचित्र पर माल्यार्पण कर और दीप प्रज्जवलित कर हिंदी पखवाड़ा का उद्घाटन किया। इस अवसर पर मंडल राजभाषा कार्यान्वयन समिति की बैठक आयोजित की गई, जिसमें अप्रैल-जून 2019 तिमाही के दौरान मंडल में हुई राजभाषा प्रगति की समीक्षा की गई। बैठक पश्चात अधिकारियों के लिये बहुत ही रोचक ढंग से हिंदी प्रशासनिक शब्दावली ज्ञान प्रतियोगिता आयोजित की गई, जिसमें श्री साकेत रंजन, मंडल परिचालन प्रबंधक(सीआईसी) श्री पीयूष मिश्रा, सहायक मंडल व्द्यिुत इंजीनियर (कर्षण), श्री विकास सोनी, वरिष्ठ मंडल सिगनल एवं दूरसंचार इंजीनियर, क्रमशः प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय पुरस्कार के हकदार बने एवं श्री रामकुमार सिंह, वरिष्ठ मंडल इंजीनियर (समन्वय) एवं श्री ऋषि कुमार शुक्ला प्रेरणा पुरस्कार के हकदार रहे। पखवाड़ा के दौरान आयोजित प्रतियोगिताओं के विजेताओं को दिनांक 27 सितंबर 2019 को आयोजित कार्यक्रम में मंडल रेल प्रबंधक के करकमलों से पुरस्कृत किया जाएगा। इस अवसर पर बिलासपुर मंडल के रेल अधिकारी सहित कर्मचारीगण उपस्थित थे। श्री आर. राजगोपाल, मंडल रेल प्रबंधक ने राजभाषा पखवाड़ा के आयोजन के लिये राजभाषा विभाग को बधाई दी और सरकारी कामकाज में राजभाषा प्रयोग बढाने का आव्हान किया । उन्होंने कहा कि सरकारी कामकाज में सरल हिंदी का प्रयोग करें और अंग्रेजी के प्रचलित शब्दों को देवनागरी लिपि में भी लिखकर प्रयोग में लाया जाए । उन्होंने काॅलोनी और स्टेशन में प्रदर्शित बोर्डों में हिंदी प्रयोग सुनिश्चित करने का निदेश दिया । कार्यक्रम का संचालन एवं आभार प्रदर्शन श्री प्रमोद सोनी, राजभाषा अधिकारी ने किया ।

मंडल के 13 स्टेशनों में ट्रेन एट अ ग्लांस डिस्प्ले बोर्ड की सुविधा

( अजीत मिश्रा ) रेलवे प्रशासन द्वारा बिलासपुर सहित मंडल के प्रमुख स्टेशनों में यात्री सुविधा का क्रमिक विकास किया जा रहा है। रेलवे प्रशासन द्वारा यात्रियों को यात्रा के दौरान स्टेशन में प्रवेश करते ही गाडियों से संबंधित सारी जानकारियां डिस्प्ले बोर्ड के माध्यम से उपलब्ध कराई गई है। मंडल के छोटे-छोटे स्टेशनों में भी डिस्प्ले बोर्ड की सुविधा का विस्तार किया जा रहा है। इसी कड़ी में यात्रियों की यात्रा को सरल, सुगम एवं मंगलमय बनाने की दिशा में मंडल के 13 स्टेशनों सक्ती, बाराद्वार, खरसिया, गेवरारोड, करगीरोड, कोतमा, बिजुरी, बुढार, अमलाई, नौरोजाबाद, बीरसिंगपुर, मनेन्द्रगढ एवं चिरमिरी में ट्रेनों से संबधित संपूर्ण जानकारियां देने वाली ट्रेन एट अ ग्लांस डिस्प्ले बोर्ड की सुविधा उपलब्ध कराई कराई गई है। ट्रेन एट अ ग्लांस डिस्प्ले बोर्ड के माध्यम से गाडियों का नाम, गाडियों का नम्बर, गाडियों के आगमन एवं प्रस्थान का समय, इंजन से लेकर गाडियों में लगे सभी कोचों के प्रकार एवं कोच के खडे़ होने के स्थान का संकेत के साथ ही साथ स्वचालित उद्घोषणा प्रणाली की सुविधा भी उपलब्ध कराई गई है। रेलवे प्रशासन को आशा है कि इस सुविधा से वहां के यात्रियों को एक ही जगह गाडियों से सबंधित सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त करने की सुविधा प्राप्त हो रही है जिससे उनका सफर सरल एवं आसान बन गई है।