क्राइम

नक्सलियों ने की रेंजर की हत्या, इंद्रावती टाइगर रिज़र्व में थे पदस्थ- बीजापुर

बीजापुर:-नक्सलियों ने भैरमगढ़ थाना क्षेत्र के कोंडरोजी गांव में शुक्रवार की दोपहर करीब तीन बजे वन भैंसा अभ्यारण्य के रेंजर रथराम पटेल की हत्या कर दी,जबकि उनके साथ मज़दूरी भुगतान करने गए दो कर्मचारियों को छोड़ दिया। सूत्रों के अनुसार रथराम पटेल भैरमगढ़ भैरमगढ़ से दोपहर अपने दो कर्मचारियों के साथ मजदूरी भुगतान करने कॉन्ड्रोजी गाँव गये थे, जहां दोपहर करीब तीन बजे उन्हें नक्सलियों में मार दिया। घटनास्थल से पुलिस ने किया शव बरामद, जांच में जुटी पुलिस। बताया गया है कि रेंजर रथराम पटेल ने जनवरी को अभ्यारण्य में अपनी जोइनिंग दी थी। वे दंतेवाड़ा सामान्य वन मंडल के बचेली रेंज से यहां इंद्रावती टाइगर रिज़र्व में तबादले पर आये थे। उनके दो पुत्र रायपुर में रहते हैं जबकि पत्नी भैरमगढ़ में रहती है । वे कुम्हारी भिलाई जिला दुर्ग के निवासी थे । वे प्रोमोशन से रेंजर बने थे। इससे पहले बीजापुर के भोपालपट्टनम में भी सेवा दे चुके थे।

जंगल से बांस व करील चोरी कर बेचते हुये 3 को वन विभाग की टीम ने पकड़ा

मदन खांडेकर

गिधौरी /टुण्डरा:-महराजी अर्जुनी परि क्षेत्र कू अंतर्गत जंगल से करील चोरी करने वाले को धरपकडकरने हेत सतत जंगल मे गस्त किया जा रहा है ।इसी तारतम्य मे दिनांक 11/9/2020को सुबह 7.15बजे के आसपास अर्जुनी परिक्षेत्र के महराजी परिवृत्त कू अंतर्गत मे ,(1)संतुराम पितामंगल मांझी (2)रुखमणी पति संतुराम मांझी (3)संजय पिता प्रेम सिंग विश्वकर्मा जिसमे सभी ग्राम महराजी थाना गिधौरी तहसील कसडोल जिला बलौदाबाजार के द्वारा कटा हुआ बांस का करील 40किलो ग्राम को दर्रा गिरौदपुरी मे बेचने के लिये गये थे ।जिसे वनरक्षक चंद्र भुवनमनहरे गिरौदपुरी एवं सहयोगी ने पकडा और वन अपराध प्रकरण क्र.15577/18 दिनांक11/09/2020दर्ज कर भारतीयवन अधिनियम1927की धारा26(1)के वनमंडलाधिकारी बलौदाबाजार और उप मंडलाअधिकारी कसडोल श्रीउदय सिंह टाकुर के मार्ग दर्शन पर परिक्षेत्र अधिकारी अर्जुनी टी आर वर्मा के निर्देशन पर अनुसार कार्यवाही किया गया । उक्त कार्यवाही मे लक्ष्मी प्रसाद श्रीवास्तव ,वनरक्षक चंद्र भुवन मनहरे ,राजेशवर वर्मा ,एवं दैनिक श्रमिक धीरज केवट एवं राजेशकुमार साहु का योगदान रहा।

सब्जी वाहन की आड़ में गांजा तस्करी, 9 क्विंटल से अधिक गांजा के साथ 2 गिरफ्तार, एक फरार

महासमुन्द:-कोमाखान पुलिस ने गांजा तस्कारों पर कार्रवाई करते हुए वेस्ट बंगाल की ट्रक से 9 क्विंटल 13 किलो गांजा के साथ 2 तस्करों को गिरफ्तार किया है, वहीं एक आरोपी भाग निकला। इसकी कोमाखान पुलिस तलाश कर रही है। पुलिस अधीक्षक प्रफुल्ल ठाकुर, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मेघा टेम्भूकर और बागबाहरा एसडीओपी लितेश सिंग ने जानकारी दी है कि कोमाखान पुलिस द्वारा ओडिसा राज्य वाहनों को नेशनल हाईवे पर रोककर वाहनों की तलाशी ली जा रही थी। इसी बीच एक वेस्ट बंगाल की ट्रक डब्लूबी 41 एच 0832 सब्जियों से भरी हुई पहुंची, जिसे पुलिस ने टेमरी नाका के पास रोक कर पूछताछ की और वाहन की तलाशी ली तो ट्रक में भरे सब्जियों के कैरेट के बीच प्लास्टिक की पैकेट में 34 बोरी गांजा वजन 9 क्विंटल 13 किलो बरामद किया गया। पुलिस ने ट्रक में सवार दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। मोहम्मद कलुट मनसुली, महेश कुमार पासवान को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने वाहन चेकिंग के दौरान ही एक आरोपी मौके से फरार हो गया है, जिसकी पुलिस जांच कर रही है। कोमाखान पुलिस गिरफ्तार आरोपियों के खिलाफ एनडीपीएस 20 (ख) के तहत कार्रवाई कर जेल भेजा जा रहा है।

बिना दस्तावेज 4 किलो सोने की ज्वेलरी व 32 लाख 84 हजार नकद ले जा रहे 3 संदिग्ध गिरफ्तार

महासमुन्द:-बिना दस्तावेज के करोड़ों रुपए की सोने और नकदी रकम उड़ीसा से रायपुर ले जा रहे 3 संदिग्ध को सिंघोड़ा पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। मामले की विवेचना के लिए रिपोर्ट एसआईटी को दी जा रही है। महासमुन्द पुलिस अधीक्षक प्रफुल्ल ठाकुर ने स्थानीय पुलिस कंट्रोल रूम में जानकारी देते हुए बताया है कि कल रात्रि सिंघोड़ा पुलिस को वाहन चेकिंग के दौरान एक स्वीपट डिजायर वाहन क्रमांक सीजी 04 एमजे 1150 से 4 किलो 480 ग्राम के सोने के ज्वेलर्स और 32 लाख 84 हजार 500 रुपए नगद बरामद कर 3 आरोपियों को गिरफ्तार कर मामले की जांच की जा रही है।पुलिस अधीक्षक प्रफुल्ल कुमार ठाकुर ने जानकारी देते हुए बताया कि कल सिंघोडा क्षेत्र के अन्तर्राजीय चेक पोस्ट रेहटीखोल में संदिग्ध वाहनों पर नजर रखकर चेकिंग की जा रही थी। इस दौरान एक सफेद रंग की स्वीफ्ट डिजायर कार तेज रफ्तार से ओडि़शा की ओर से आ रही थी। सिंघोड़ा पुलिस ने उक्त वाहन को रोक कर उसकी जांच की तो वाहन कि पीछे सीट के पीछे एक चेम्बर बना दिखा, पुलिस टीम को संदेह हुआ और उस चेम्बर को खुलवाकर चेक किया गया तो चेम्बर में अलग-अलग प्लास्टिक के बाक्स में रखा सोने की ज्वेलरी एवं नगदी रकम मिला। वाहन चालक देवेन्द्र साहू, शरद शर्मा एवं भरत राजपूत से नकदी रकम एवं सोने की ज्वेलरी के संबंध में पूछताछ की गई। इस पर भरत राजपूत द्वारा ज्वेलर्स दुकान सदर बाजार रायपुर में काम करना व चालक देवेन्द्र कुमार साहू के साथ ज्वेलर्स के मालिक के कहने पर ज्वेलर्स दुकान से 5500 ग्राम की ज्वेलरी लेकर बिक्री करने उड़ीसा जाना व उड़ीसा में विभिन्न ज्वेलरी शॉप में सोने की ज्वेलरी बिक्री कर बिक्री रकम व शेष बचे ज्वेलरी को लेकर वापस रायपुर ले जाना बताया।पुलिस की टीम द्वारा भरत राजपूत से नगदी रकम व ज्वेलरी के संबंध में दस्तावेज दिखाने को कहा गया तो वह कोई भी वैधानिक दस्तावेज नहीं दिखा पाया। नगदी रकम व सोने की ज्वेलरी के संबंध में कोई दस्तावेज नहीं होना से नगदी 32,84,500 रुपए और सोने की ज्वेलरी मंगल सूत्र 124 नग वजनी करीबन 1555.14 ग्राम, कालीपोत मोती 15 नग वजनी करीबन 57.85 ग्राम, सोने की चुड़ी 54 नग वजनी करीबन 1502.67 ग्राम, सोने की अंगुठी 189 नग वजनी करीबन 772.05 ग्राम, सोने का ब्रेसलेट 17 नग वजनी करीबन 347.830 ग्राम, सोने का लॉकेट 40 नग वजनी करीबन 116.890 ग्राम, सोने का बिस्कीट (टुकडा) 25 नग छोटा बड़ा वजनी करीबन 510.24 ग्राम कुल सोना वजनी करीबन 4862.67 ग्राम कीमती करीबन 2,22,50000 रूपये एवं वाहन स्वीफ्ट डिजायर को पुलिस अभिरक्षा में लिया गया।

टीआई की चोरी हुई कार को लावारिस छोड़कर भागे चोर, पुलिस कर रही जांच

कोरबा:-बीते दिन मुड़ापार स्थित गैरेज से चोरी की गई टीआई की वैगनार वाहन को ग्राम तरदा मार्ग में लावारिस हालत में छोड़कर चोर भाग निकले।उक्त वाहन लावारिस हालत में मिलने की सूचना मिलने पर वाहन मालिक टीआई सहित पुलिस मौके पर पहुंची। इस चोरी की रिपोर्ट 10 सितम्बर को मानिकपुर पुलिस सहायता केंद्र में दर्ज कराई गई थी। पुलिस द्वारा वाहन को बरामद करने के साथ अन्य आवश्यक वैधानिक कार्यवाही की जा रही है। पुलिस जांच में जुटी हुई है।

लोन दिलाने के नाम पर लोगों से ठगी करने वाले शातिर ठग गिरोह उत्तरप्रदेश से गिरफ्तार उरला थाना पुलिस कर रही जांच

रायपुर:-लोन दिलाने के ​नाम से युवक से डेढ़ लाख रुपए वसूलने का मामला सामने आया है। बता दें कि प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के नाम पर युवक को लोन दिलाने का झांसा देकर ठगों ने युवक से ठगी की है। युवक को सोशल मीडिया पर फर्जी आईकार्ड और आधार, पैन कार्ड दिखाकर पहले युवकों ने भरोसे में लिया और फिर कई किश्तों में रकम वसूली। युवक ने उरला थाने में मामले की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। रिपोर्ट के आधार पर पुलिस टीम ने आरोपियों की पतासाजी की और उन्हें उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर से गिरफ्तार किया है। पुलिस ने बताया कि यह संगठित गिरोह इसी तरह से पूरे देश में अपना नेटवर्क फैला कर कई लोगों काे ठगी का शिकार बना चुके हैं।

शिकायतकर्ता पीयूष कुमार देवांगन ने पुलिस को बताया कि वह मठपारा कैलाशनगर बीरगांव में रहता है। 7 को उसके माेबाइल फोन पर सोनू कुमार का कॉल आया। उसने खुद को चंडीगढ़ के सेक्टर 52 का निवासी बताया और उसने प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत युवक को पांच लाख रुपये का लोन दिलाने की बात कही। इसके बाद उसने युवक को पूरे विश्वास में लेते हुए उससे ढाई हजार रुपये आवेदन शुल्क के रूप में चंद्रवीर नाम के अपने साथी के बैंक खाते में डलवा लिए। पुलिस अधीक्षक अजय यादव के निर्देश पर आरोपियों को पकड़ने के लिए एक विशेष टीम गठित की थी। इस टीम ने ठगी का शिकार हुए युवक से मिली जानकारी के आधार पर तकनीकी विश्लेषण कर आरोपियों के ठिकानों का पता लगाया। टीम काे आराेपियों के दिल्ली में हाेने की जानकारी मिली। टीम ने दिल्ली, गाजियाबाद, बुलंदशहर, नाेएडा में घूम-घूम कर आरोपियों के ठिकानाें की तस्दीक की। इस दौरान वे लगातार अपना लोकेशन बदलते रहे। फिर सभी आरोपियों को घेराबंदी कर गिरफ्तार कर लिया गया। जांच में आरोपियों के सभी दस्तावेज भी फर्जी पाए गए।

पुलिस ने बताया कि आरोपी गैंग बनाकर कई हिंदी भाषी राज्यों में अलग- अलग बैंक और फाइनेंस कंपनी तथा सरकार की योजनाओं के नाम पर इसी तरह लोन दिलाने का झांसा देकर कई लोगों से ठगी कर चुके हैं। सभी आरोपी सिर्फ हाईस्कूल तक ही पढ़े हैं। पुलिस को इन आरोपियों को पकड़ने में काफी मशक्कत भी करनी पड़ी। पकड़े गए आरोपियों के नाम नीरज कुमार, आनंदस्वरूप और चंद्रवीर बताए गए हैं। यह सभी उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर के रहने वाले हैं।

पुलिस को चकमा देने महिलाओं की आड़ में कर रहे थे गांजा तस्करी, चेकिंग के दौरान धरे गए

कवर्धा:-जिले में गांजा तस्करों के विरूद्ध अभियान चलाया जा रहा है। इसके अंतर्गत बीती रात थाना बोडला टीम ने वाहनों की चेकिंग की। इसी दौरान पोड़ी की ओर से दो बाइक एमपी 08 एमआर 4887 एवं बिना नंबर वाली दोपहिया को चेक किया गया। वाहन में रखे बैग में कपड़ों के बीच 16 पैकेट,वजन 23 किलोग्राम गांजा,कीमती 1,15000 पकड़ा। आरोपी देबीलाल मीना उम्र 48 साल,कलीबाई बंजारा उम्र 38 साल,बंसीलाल बंजारा उम्र 25 साल और एक नाबालिक बालिका निवासी जिला गुना को गिरफ्तार किया गया। आरोपियों से पूछताछ पर मादक पदार्थ को रायपुर से मध्यप्रदेश ले जाना बताया गया। थाना बोड़ला में अपराध क्रमांक 192,193/2020 धारा 20ख एनडीपीएस एक्ट के अंतर्गत कार्यवाही कर दो पुरुष,एक महिला और एक नाबालिक बालिका को गिरफ्तार कर न्यायिक अभिरक्षा में भेजा गया।

कच्ची महुआ शराब बिक्री एवं परिवहन करने वाले आरोपियों के खिलाफ गिरौदपुरी चौकी पुलिस की कार्यवाही

मदन खांडेकर

गिधौरी /गिरौदपुरी:-पुलिस अधीक्षक महोदय श्री इन्दिरा कल्याण ऐलेसेला अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक महोदय बलौदाबाजार श्रीमती निवेदिता पाल एवं अनुविभागीय अधिकारी पुलिस संजय तिवारी महोदय के कुशल मार्गदर्शन तथा थाना प्रभारी महोदय श्री ओम प्रकाश त्रिपाठी के निर्देशन में दिनांक 07/09/2020को मुखबिर की सूचना के आधार पर अपराध क्रमांक 207/2020 धारा 34(2)आबकारी एक्ट के प्रकरण में ग्राम बरेली प्राथमिक स्कूल के बगल मेन रोड में पेट्रोलिंग के दौरान नर्धा तरफ से एक काला रंग पल्सर मोटरसाइकिल बिना नंबर जिसका इंजन नंबर डी एच वाय सी के इ 81187 तथा चेसिस नंबर mdja 11y 5kce14110 एम डी जे 11 cy5 के सी 1480 के पेट्रोल टंकी के ऊपर एक सफेद रंग प्लास्टिक बोरी में रखा हुआ 92 नग सफेद रंग पालीथिन पाउच जिसके प्रत्येक पाउच में 180-180 ml हाथ भट्टी महुआ शराब भरा हुआ मिला जुमला शराब 16.560 लीटर हाथ भट्टी कच्ची महुआ शराब कीमती ₹3300 का उपरोक्त पल्सर मोटरसाइकिल कीमती ₹40000 सहित गवाहों के समक्ष *आरोपी शिवचरण गोंड उर्फ मुनू पिता किशनू गोंड उम्र 31 वर्ष साकिन भैसामुड़ा* थाना गिधौरी टुंड्रा के पास से जप्त कर आरोपी आरोपी सदर को गिरफ्तार कर जुडिशियल रिमांड हेतु बलौदाबाजार रवाना किया गया है। (2) अपराध क्रमांक 206/2020 धारा 34(A) आबकारी एक्ट ग्राम सुकली स्वागत द्वार के पास मेन रोड मैं पेट्रोलिंग के दौरान आरोपी सुरेश प्रधान पिता हजारीलाल प्रधान उम्र 23 वर्ष साकिन सुकली चौकी गिरौदपुरी के गवाहों के समक्ष घेराबंदी कर पकड़ कर उनके कब्जे से एक कपड़े के थैले में रखा एक एक लीटर क्षमता वाली 02 नग प्लास्टिक बॉटल में भरा महुआ 02 लीटर कच्ची महुआ शराब कीमती ₹300 का गवाहों के समक्ष जप्त कर पुलिस कब्जे में लिया गया तथा आरोपी को गिरफ्तार किया गया है उपरोक्त कार्यवाही में चौकी प्रभारी श्री सुरेंद्र सिंह प्रधान आरक्षक ओंकार सिंह राजपूत आरक्षक कृष्ण कुमार यादव राजेश पटेल महेश्वर ध्रुव चंद्र प्रताप ठाकुर दुर्गेश स्वर्णकार सुमत डहरिया धीरेन्द साहू का सराहनीय योगदान रहा है।

दर्री में निकाय चुनाव में नाम वापस लेने के लिए बनाया था दबाव, जांच के बाद हत्या के लिए प्रेरित करने वाला आरोपी गिरफ्तार

कोरबा:-दर्री में 19 दिसंबर 2019 को राखड डेम नदियाँ खार में 1 साल पुराने मामले में जांच पूरी होने के बाद पुलिस ने आरोपी राजकुमार को गिरफ्तार कर लिया है। दर्री सीएसपी खोमन लाल सिन्हा ने पत्रकारवार्ता में बताया कि वर्ष 2019 में नगरीय निकाय चुनाव हुए थे। उस समय दर्री क्षेत्र के एक वार्ड से रामबाई पटेल निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में मैदान में थी। उनके मुकाबले में एक अन्य प्रत्याशी सामने थी। उसके पति के द्वारा राजकुमारी को नाम वापस लेने के लिए कोमल पटेल पर लगातार दबाव बनाया जा रहा था, जिसके बाद 19 दिसंबर को कोमल पटेल की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। सीएसपी ने बताया कि मौके से एक सुसाइड नोट प्राप्त हुआ था जिसमें धमकी देने की बात लिखी हुई थी। फिंगरप्रिंट एक्सपर्ट के माध्यम से इसकी जांच कराई गई। इसमें राइटिंग मृतिका की पाई गई। सीएसपी ने बताया कि इस मामले में परिजनों के बयान लिए जा चुके हैं और आगे की कार्रवाई की जा रही है। फिलहाल पुलिस ने आत्महत्या के लिए उत्पीड़ित करने वाले आरोपी को धारा 306 आईपीसी के अंतर्गत गिरफ्तार कर लिया है।

महिला से ब्लेकमेलिंग करने वाला आरोपी गिरफ्तार, खींच था मोबाइल से फोटो

कोरबा:-रक्षाबंधन के मौके पर मायके आई नवविवाहिता के साथ सेल्फी लेकर ब्लेकमेलिंग करनेवाला आरोपी पुलिस के हत्थे चढ़ा गया। 18 जुलाई को पीड़िता अपने मायके में रक्षाबंधन मनाने आई थी और वही रह रही है। पीड़िता के जन्मदिन पर आरोपी ने पीड़िता के साथ जबरदस्ती सेल्फी ले लिया था। आरोपी पीड़िता को अकेली पाकर छेड़छाड़ किया करता था। मना करने पर आरोपी खींचा गया फोटो को उसके पति को भेजने की एवं पीड़िता के माता पिता को जान से मारने धमकी देता था। पीड़िता ने इसकी रिपोर्ट दर्री थाना में दर्ज कराई। आरोपी के खिलाफ धारा 354, 509 (ख) भादवि कायम कर विवेचना में लिया गया। जांच के दौरान आरोपी रिजवान खान उम्र 25 वर्ष के खिलाफ अपराध सिद्ध पाये जाने पर गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेज दिया गया है।

राजनांदगांव पुलिस ने अपहृत नाबालिग को 6 घंटे के भीतर किया बरामद,आरोपी युवक हुए गिरफ्तार

राजनांदगांव:-नाबालिग का अपहरण करने वाले ओरापियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। घुमका थाने में प्रार्थी ने रिपोर्ट लिखाई की उसकी नाबालिग लड़की घर से लापता है। इस पर थाने में अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। थाना प्रभारी राजेश साहू के नेतृत्व में टीम गठित कर सूचना के आधार पर बस स्टैंड देवरी बंगला से धनेश साहू निवासी जिला बालोद के कब्जे से अपहृत लड़की को बरामद किया। पूछताछ में धनेश ने बताया कि उसने अपने दोस्त की मोटरसाइकिल में बैठाकर नाबालिग को देवरी बंगला ले गया था। पुलिस ने घटना में प्रयुक्त मोटरसाइकिल जब्त कर आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया,जहाँ से दोनों को जेल भेजा। इस तरह पुलिस ने 6 घंटे में ही अपह्त नाबालिग को बरामद किया।

सहायक उप निरीक्षक के अपहरण और हत्या में शामिल 2 माओवादी गिरफ्तार

बीजापुर:-जिले के कुटरू थाने में पदस्थ सउनि कोरसा नागैया 30 अगस्त को अवकाश पर दंतेवाड़ा जाने के लिये निकले थे। अपरान्ह् 3 बजे थाना में सूचना मिली की कोरसा नागैया की मोटरसायकल लवारिस हालत में मंगापेंटा भैसावाड़ा के पास पड़ी हुई है। सूचना पर तत्काल डीआरजी एवं थाना कुटरू के बल द्वारा मौके पर पहुंचकर पता तलाश किया गया। 31 अगस्त को नागैया का शव केतुलनार मेलापारा के पास मिला। घटना पर थाना कुटरू में अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया था। पुलिस अधीक्षक बीजापुर कमलोचन कश्यप के दिशा निर्देशन में आसपास के क्षेत्र में मुखबिर लगाकर घटना में शामिल माओवादी आरोपियों की गिरफ्तारी के लगातार प्रयास किये गये। 5 सितंबर को थाना कुटरू से डीआरजी की टीम केतुलनार की ओर निकली थी। पुलिस पार्टी द्वारा मुखबिर से मिली सूचना के आधार पर घटना में शामिल 2 संदिग्ध को पकड़ा गया। इनसे पूछताछ पर अपना नाम जोगा पोयाम उम्र 32 वर्ष साकिन केतुलनार और इरपा पोडि़याम उम्र 29 वर्ष केतुलनार परलमेटा पारा थाना कुटरू बताया। पकड़े गए माओवादियों से पूछताछ पर इनके द्वारा घटना में शामिल होना बताया गया। आरोपियों से घटना के सबंध में पूछताछ की गई,जिनके द्वारा घटना में शामिल अन्य लोगों के नामों का खुलासा किया गया। पकड़े गये आरोपियों का मेमोरण्डम कथन लिया गया एवं उनके कब्जे से शहीद सउनि का आधार कार्ड,जिसपर खून का छिंटा लगा हुआ है,छाता,हेलमेट व चश्मा बरामद किया गया। थाना कुटरू में 6 सितंबर को गिरफ्तारी के बाद रिमाण्ड पर 7 सितंबर को न्यायालय बीजापुर पेश किया गया।

उरगा पुलिस टीम ने भारी मात्रा में शराब के साथ तस्कर गिरफ्तार, वाहन किया जब्त

कोरबा:-पुलिस ने शराब तस्कर को गिरफ्तार किया। मुखबिर की सूचना पर उरगा पुलिस टीम को मध्यप्रदेश तथा अन्य जगहों से शराब की तस्करी की सूचना मिली। इस पर घेराबंदी कर 10 पेटी विदेशी मदिरा कुल कीमत 61320 रुपए के साथ राजपुरी गोस्वामी को धर दबोचा। उसके कब्जे से कुल 511 पाव शराब को जब्त की। मामला में आरोपी के विरूद्ध मौके पर ही 34(2) आबकारी एक्ट की कार्यवाही की गई। उसे न्यायिक रिमाण्ड पर न्यायालय भेजा गया है। शराब संबंधी उक्त कार्यवाही भविष्य में भी थाना उरगा से लगातार जारी रहेंगी।

देवरी मोड़ के सबरिया डेरा के शराब माफियाओं को पकड़ने आखिर क्यों शिवरीनारायण पुलिस के काप रहें हाथ

आशीष कश्यप शिवरीनारायण

देवरी मोड़ में ही आबकारी विभाग के कार्यलय होने के बाद भी क्यों नही की जा रही कार्यवाही

शिवरीनारायण:-शिवरीनारायण पुलिस व आबकारी विभाग के आखिर क्यों काप रहे हाथ क्यों नही हो रही देवरी के सबरिया डेरा में शराब माफियाओं पर बड़ी कार्यवाही आबकारी विभाग द्वारा खाना पूर्ति कर अपनी वाहवाही लुटाई जा रही हैं वही शिवरीनारायण पुलिस की बात करें तो शराब तस्करों को पकड़कर छोटी मोटी कार्यवाही की जा रही है आखिर बड़ी कार्यवाही कब देखने को मिलेगी कही शिवरीनारायण पुलिस और आबकारी विभाग की मिली भगत से तो नही चल रहा देवरी के सबरिया डेरा में शराब बनाने का काम शिवरीनारायण क्षेत्र में अवैध कच्ची महुआ शराब की बिक्री जोरों पर है शाम ढलते ही शराबियों का जमावड़ा मुख्य मार्ग में बैठ कर जम कर शराब पिया जा रहा। और कच्ची महुआ शराब पीकर फेकन गए पॉलीथिन पाउच सड़क किनारे बिखरे पड़े रहते है देवरी खोरसी के सबरिया डेरा के घरों में जम कर शराब बेचा जा रहा वही सूत्रों की माने तो शिवरीनारायण थाने में महीना बांध कर शराब बेचने के बदले पुलिस को पैसा दिया जा रहा। अवैध रूप से कच्ची महुआ शराब बनाने और पैकिंग करने का खेल शिवरीनारायण क्षेत्र में धड़ल्ले से जारी है लेकिन शराब माफियाओं पर न तो आबकारी विभाग का ध्यान है और न ही शिवरीनारायण पुलिस का खास बात यह है कि गाँव की महिला कमांडो व समूहों के द्वारा गाँव मे बन रहे शराब की शिकायत करने के बाद भी शिवरीनारायण पुलिस और आबकारी विभाग द्वारा शिकायत को रद्दी की टोकरी में डाल पैसा लेकर खुलेआम शराब बनवाया और बेचवाया जा रहा है।

धोखाधड़ी का आरोपी गिरफ्तार, मुलमुला थाना की कार्यवाही

मुलमुला:-मुलमुला थाना की कार्यवाही में बिलासपुर से धोखाधड़ी का फरार आरोपी गिरफ्तार किया गया है, मिली जानकारी के अनुसार दिनांक 26, 08, 2020 को आरोपी संजय वाधवानी पिता खेमचंद उम्र 46 वर्ष निवासी सिंधी कॉलोनी बिलासपुर (सुपरवाइजर) व भोला साहू पिता केशव साहू निवासी मुन्ना डोल ति फरा बिलासपुर (ड्राइवर) दोनों मिलकर रांची पमनानी पिता श्रीधर पमनानी उम्र 50 वर्ष वेयर हाउस रोड आबकारी कार्यालय के पास से 54100 हजार तथा 4000 छाबड़ा ट्रेडर्स पथरिया से रांची के छोटा हाथी सीजी 13 बी 8301 को लेकर सामान लेने रायपुर रवाना हुआ था जो गाड़ी को दोनों मिलकर इधर-उधर श्री नारायण घुमाते हुए मूलमुला के पास आकर अपने मालिक को संजय वाधवानी ने अपने मालिक दीपक पमनानी को बताया कि भोला साहू मेरे पैसे को लूट कर ले गया है और भाग गया है सूचना पर श्रीमान पुलिस अधीक्षक महोदया श्रीमती पारुल माथुर, एवम् अति. पुलिस अधीक्षक श्रीमती मधुलिका सिंह के कुशल दिशा निर्देशन एवं अनुविभागीय अधिकारी श्रीमान जितेंद्र चंद्राकर के मार्गदर्शन पर सुपरवाइजर संजय वाधवानी से बारीकी से पूछताछ किया गया जो संजय वाधवानी तथा भोला साव दोनों मिलकर आपस में 58100 को आपस में बांट कर गबन कर जाना कुबूल किया। सूचना पर से अपराध क्रमांक 224/20 धारा 406,36 भादवी कायम कर आरोपी संजय वाधवानी को अभिरक्षा में लेकर आरोपी भोला साव तिफरा तथा मूल निवासी भिलाई तीन सुपेला दबिश दिया गया भोला सा व सकून त से फरार है संजय वाधवानी के कब्जे से ₹3000 बरामद किया गया शेष राशि 26000 को खर्च कर देना कुबूल किया है, भोला साहू फरार है। आरोपी को गिरफ्तार कर ज्यूडिशियल रिमांड लेने हेतु भेजा गया है ।