नई दिल्ली - मुख्यमंत्री का नाम फाइनल दोपहर तक चार्टर प्लेन से रायपुर पहुंचेंगे कांग्रेसी दिग्गज, छत्तीसगढ़ आने के बाद तय होगा मुख्यमंत्री का नाम   |   नई दिल्ली - मुख्यमंत्री पद के सभी दावेदार पहुंचे राहुल गांधी के बंगले ताम्रध्वज,टी एस सिंहदेव भूपेश बघेल व महंत बंगले के अंदर तो शिव डहरिया, देवेंद्र यादव, जयसिंह अग्रवाल बंगले के बाहर है मौजूद   |   रायपुर - सार्वजनिक स्थान पर सरेआम शराब पीते गंज थाना पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया   |   रायपुर - मुजगहन थाना इलाके के ग्राम सिवनी में युवक से बिना किसी कारण गाली गलौज मारपीट का मामला सामने आया है   |   तेलंगाना: के. चंद्रशेखर राव ने ली मुख्यमंत्री पद की शपथ   |   रायपुर - कांग्रेस विधायक दल की बैठक खत्म, राहुल गांधी थोड़ी देर में करेंगे सीएम का फैसला   |   रायपुर - सत्ता पलट होते ही प्रशासनिक विभागों में मची खलबली, DSP की मौजूदगी में खुफिया विभाग ने जलाए कई अहम दस्तावेज   |   रायपुर - भूपेश बघेल के बंगले पर आपस में भिड़े समर्थक, जमकर हुई मारपीट   |   रायपुर दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के दुर्ग स्टेशन से प्रारंभ होने वाली ट्रेनों की सफाई के लिए आधुनिक, ’स्वचालित कोच वाशिंग प्लांट’की स्थापना जल्द   |   बलौदा बज़ार भाटापारा - कलेक्टर ने धान उठाव के कार्य में तेजी लाने के दिए निर्देश डीमओ को कहा ज्यादा से ज्यादा अब तक 1.98 लाख मीटरिक टन धान की हुई खरीदी   |  

 

गैजेट्स


 मोटापा पीड़ित महिलाओं में गर्भधारण की संभावना रहती कम (11 अक्टूबर : विश्व मोटापा दिवस)
Posted Date : 11-October-2018

मोटापा पीड़ित महिलाओं में गर्भधारण की संभावना रहती कम (11 अक्टूबर : विश्व मोटापा दिवस)

नई दिल्ली - अधिक वजनी महिलाओं को गर्भधारण में संतुलित वजन वाली महिलाओं के मुकाबले एक साल से अधिक का समय लग सकता है। मोटापे से पीड़ित महिलाओं में गर्भपात की आशंका भी दोगुनी से अधिक रहती है। फर्टिलिटी साल्यूशंस, मेडिकवर फर्टिलिटी की क्लीनिकल डायरेक्टर और सीनियर कंसल्टेंट डॉ. श्वेता गुप्ता के मुताबिक, अधिक वजन या मोटापे से पीड़ित महिलाओं में गर्भधारण की संभावनाएं अपेक्षाकृत कम रहती हैं।
शोध बताते हैं कि मोटापा मुख्य कारण तो नहीं है, लेकिन इनफर्टिलिटी (नि:संतानता) का महत्वपूर्ण कारण जरूर है। मोटापे के कारण एंड्रोजन, इंसुलिन जैसे हार्मोन का अत्यधिक निर्माण जैसी समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं या अंडोत्सर्जन तथा शुक्राणु के लिए नुकसानदेह प्रतिरोधी हार्मोन बनते हैं। लिहाजा, स्वस्थ लाइफस्टाइल अपनाएं। इससे न सिर्फ आपकी प्रजनन क्षमता बढ़ेगी, बल्कि आप फिट भी रह सकती हैं।
धर्मशिला नारायणा सुपरस्पेशियल्टी हॉस्पिटल में इंटरनल मेडिसिन के डॉ. गौरव जैन के मुताबिक, `मोटापे के कारण आपके शरीर को बहुत ज्यादा नुकसान होता है। मोटापे से पीड़ित व्यक्तियों में टाइप 2 डायबिटीज, हाई ब्लडप्रेशर, हृदयरोग और यहां तक कि कैंसर जैसी जानलेवा बीमारियां भी उभर सकती हैं। आज युवाओं में मोटापे के मामले आश्चर्यजनक रूप से बढ़ रहे हैं।
एक ही जगह पर लंबे समय तक बैठ कर लगातार वेब सीरीज देखते रहना आज युवाओं में एक नया चलन बन गया है और इस वजह से भी बचपन से ही लोग मोटापे का शिकार हो जाते हैं। हाल ही में एक अध्ययन बताता है कि अस्थमा से पीड़ित बच्चों में मोटापे का शिकार होने की संभावना अधिक रहती है, क्योंकि अपनी सेहत स्थिति के कारण वे व्यायाम करने से दूर रहते हैं और इनहेलर के तौर पर स्टेरॉयड लेने से उनकी भूख बढ़ती जाती है।
लिहाजा, लोगों को सलाह है कि वे स्वस्थ भोजन लें, अपना बीएमआई संतुलित रखें और अपने लाइफस्टाइल में शारीरिक गतिविधियों को महत्व दें।
बालाजी एक्शन मेडिकल इंस्टीट्यूट के सीनियर कंसल्टेंट, गैस्ट्रोइंट्रोलोजिस्ट, डॉ. जी.एस. लांबा के मुताबिक, `यदि आप तनाव में रहते हैं तो आप मोटापे का शिकार हो सकते हैं। तनाव कई तरीके से वजन बढ़ाने में योगदान कर सकता है। तनाव की वजह से हमारे शरीर में कई हार्मोन पैदा होते हैं जिनमें कोर्टिसोल भी एक है। यह हार्मोन फैट स्टोरेज और शरीर की ऊर्जा खपत प्रबंधित करने का काम करता है। कोर्टिसोल का स्तर बढ़ने से भूख भी बढ़ जाती है। इस वजह से मीठा और वसायुक्त भोजन खाने की इच्छा बढ़ जाती है।
उन्होंने कहा, `गंभीर तनाव की स्थिति में वसा के रूप में शरीर में ऊर्जा इकट्ठा होने लगती है और यह हमारे पेट पर सबसे ज्यादा असर करती और चर्बी बढ़ाता है। मोटापे के कारण हृदय रोग, डायबिटीज, ओस्टियो-अर्थराइटिस आदि जैसी कई स्वास्थ्य समस्याएं पैदा होती हैं। इन सभी बीमारियों का रिस्क फैक्टर कम करने के लिए आपको रोजाना कम से कम एक घंटे तक कुछ शारीरिक व्यायाम करना और अपने खानपान में संतुलित आहार लेना जरूरी है। ज्यादा तनाव न लें और फिट एवं स्वस्थ रहने के लिए अपने व्यक्तिगत तथा प्रोफेशनल जीवन में संतुलन बनाए रखें।

एजेंसी 

 

 फेक न्यूज रोकने वॉट्सऐप पर इंडीकेटर फीचर की शुरुआत पता चलेगा कौन सा है फॉरवर्डेड मैसेज
Posted Date : 11-July-2018

फेक न्यूज रोकने वॉट्सऐप पर इंडीकेटर फीचर की शुरुआत पता चलेगा कौन सा है फॉरवर्डेड मैसेज

मैसेजिंग ऐप वॉट्सऐप ने 'फॉरवर्ड मैसेज इंडीकेटर' फीचर की शुरुआत कर दी है. इस फीचर से अब किसी भी यूजर को यह पता लगाने में मदद मिलेगी कि उसे मिला हुआ मैसेज भेजने वाले ने जेनरेट किया है या किसी और के मैसेज को ही फॉरवर्ड किया गया है.

हाल के दिनों में सोशल मीडिया के जरिए देश में फेक न्यूज और अफवाहें फैलाने के कई मामले देखे गए. वॉट्सऐप भड़काऊ मैसेज और अफवाहें फैलाने को लेकर विवादों में घिरा हुआ है. इसके बाद वॉट्सऐप की ओर से मंगलवार को देशभर के प्रमुख अखबारों में पूरे पेज के विज्ञापन भी दिए गए थे.

कंपनी ने अपने नए फीचर को लेकर दुनिया भर में प्रेस रिलीज जारी की है. इसमें कहा गया है कि वॉट्सऐप यूजर को यह पता चल जाएगा कि कौन-कौन से मैसेज उसे फॉरवर्ड किए गए हैं. इससे यूजर को एक-दूसरे के साथ और वॉट्सऐप ग्रुप में बातचीत करने में आसानी होगी. हालांकि, अब भी यह सवाल बना हुआ है कि वॉट्सऐप के इस कदम से फेक न्यूज पर किस हद तक लगाम लगेगी.

हालांकि, इस नई सुविधा से यूजर को यह भी पता चलेगा कि उसके दोस्त या रिश्तेदार द्वारा भेजा गया मैसेज उन्होंने लिखकर भेजा है या कहीं और से आया है. इस फीचर के लिए यूजर को अपने स्मार्टफोन में वॉट्सऐप का अपडेटेड वर्जन रखना होगा.
 

कंपनी ने कहा, 'वॉट्सऐप आपकी सुरक्षा को लेकर काफी गंभीर है. हम आपको फॉरवर्ड किए गए मैसेज को शेयर करने से पहले एक बार सोचने की सलाह देते हैं. इसे फॉरवर्ड करने से बचने के लिए आप एक टच से स्पैम (गलत संदेश) की रिपोर्ट कर सकते हैं या मैसेज भेजने वाले शख्स को ब्लॉक कर सकते हैं.'
 

फेसबुक के स्वामित्व वाले वॉट्सऐप ने मंगलवार को अपने विज्ञापन में लोगों को झूठी खबरों से बचने की सलाह दी थी. इस विज्ञापन में वॉट्सऐप ने कहा है, 'हम सब मिलकर फेक न्यूज की समस्या को दूर कर सकते हैं. इसके लिए प्रौद्योगिकी कंपनियों, सरकार और सामुदायिक संगठनों को मिलकर काम करना होगा. अगर आपको कुछ ऐसा दिखाई देता है जो आपको लगता है कि सच नहीं है तो कृपया उसकी रिपोर्ट करें.'

इस विज्ञापन में वॉट्सऐप ने यूजर्स से अनुरोध किया है कि वे फॉरवर्ड किए गए मैसेज से सावधान रहें, परेशान करने वाली जानकारी पर खुद से सवाल उठाएं, जिस जानकारी पर यकीन करना मुश्किल हो उसकी जांच करें, मैसेज में मौजूद फोटो या वीडियो को ध्यान से देखें, लिंक की जांच करें और मैसेज को सोच समझकर ही शेयर करें.

 

 वेलेंटाइन डे ऐसे जानें अपनी गर्लफ्रेंड की पसंद
Posted Date : 11-February-2018 6:25:55 am

वेलेंटाइन डे ऐसे जानें अपनी गर्लफ्रेंड की पसंद

- वेलेंटाइन डे- पर घरेलू सामान जैसे मिक्सर-ग्राइंडर न खरीद कर दें क्योंकि यह आपके केयरिंग नेचर को दिखाता तो हैं लेकिन यह न भूलें कि इस दिन आपके साथी को रोमांटिक गिफ्ट मिलने की आस होगी। आप चाहें तो बतौर उपहार किसी बढ़िया स्पा सेंटर में स्पा सेशन गिफ्ट कर सकते हैं। इससे आपकी साथी को आराम और सुकून महसूस होगा और वह बेहद खुश हो जाएगी।

- आप चाहें तो अपनी प्रेमिका को खुश करने के लिए कोई नाटक या ओपेरा दिखाने ले जा सकते हैं। रोमांटिक कैंडिल लाइट डिनर पर या कोई खूबसूरत जगह घूमाने भी ले जा सकते हैं। लांग ड्राइव पर भी आप दोनों जा सकते हैं।

- ऐसा कोई ड्रेस या उपहार न खरीदें जिससे आपकी साथी असहज महसूस करें। अगर वह आपकी खुशी के लिए आपका उपहार स्वीकार कर भी लेती है तो उसे जबरदस्ती पहनने के लिए नहीं कहें। उनकी भवनाओं का भी ख्याल रखें।

- लड़कियों को चॉकलेट और केक बेहद पसंद होता है, उन्हें खरीद कर चॉकलेट या केक खिलाने के बजाय खुद से बना कर खिलाएं। यह उनके लिए बेहतरीन सरप्राइज होगा, और आपका यह प्यार आपकी साथी कभी नहीं भूल पाएंगी। 

 लड़कियों को खरीदारी करना बेहद पसंद होता है, आप चाहे भले ही ज्यादा देर तक मॉल में रुकने पर बोर हो जाएं, लेकिन लड़कियां फैशनेबल कपड़ों, एक्सेसरीज, फुटवेयर की दीवानी होती है, इसलिए आप उन्हें खूबसूरत ड्रेस, हैंडबैग शॉपिंग कराने ले जा सकते हैं। आप अपनी पार्टनर को उनके पसंदीदा मॉल या स्टोर ले जाएं। आपका यह तोहफा आपकी प्रेमिका को बेहद पसंद आएगा।

अब दोस्त के साथ इन्स्टाग्राम पर लाइव हो सकते हैं
Posted Date : 02-November-2017 6:12:38 pm

अब दोस्त के साथ इन्स्टाग्राम पर लाइव हो सकते हैं

फोटो और वीडियो शेयरिंग सोशल नेटवर्किंग साइट इन्स्टाग्राम ने अपने यूजरों को क्रिसमस से पहले एक बड़ा तोहफा दिया है। उसने एक नया फीचर पेश किया है जिसमें यूजर लाइव वीडियो में अपने एक मित्र को भी शामिल कर सकता है।
इन्स्टाग्राम की ओर से एक ब्लॉग के जरिए इस नए फीचर के बारे में जानकारी दी गई है। इसका नाम है लाइव विद अ फ्रेंड। कंपनी ने बताया है कि इसमें यूजर लाइव वीडियो को देख रहे लोगों को भी वीडियो में शामिल होने के लिए आमंत्रित कर सकता है। लेकिन, ऐसे में उसे अपने उस मित्र को वीडियो से हटाना होगा जिसके साथ वह पहले से लाइव था, क्योंकि इसमें एक बार में एक मित्र के साथ ही लाइव होने की सुविधा दी गई है।
फेसबुक की सहयोगी कंपनी के मुताबिक जब यूजर अपने किसी मित्र को लाइव वीडियो में जोड़ेगा तो स्क्रीन दो भागों में विभाजित हो जायेगी। इसमें एक भाग में यूजर और दूसरे में उसका मित्र दिखेगा। यूजर को किसी भी समय अपने मित्र को लाइव वीडियो से हटाने और अन्य किसी को जोडऩे का अधिकार होगा। इसी तरह लाइव वीडियो में शामिल मित्र भी किसी भी समय वीडियो को छोडकर जा सकता है। कंपनी के अनुसार लाइव वीडियो का प्रसारण समाप्त होने पर इसे स्टोरीज में एक आम वीडियो की तरह शेयर भी किया जा सकता है।
पिछले साल नवंबर में इन्स्टाग्राम में लाइव वीडियो का फीचर जोड़ा गया था। इसके बाद इस साल जून में सोशल नेटवर्किंग साइट की ओर से बताया गया था कि वह लाइव विद ए फ्रेंड फीचर लाने की तैयारी में है। कंपनी ने अपने ब्लॉग में बताया है कि यह नया फीचर ऐप स्टोर और गूगल प्ले स्टोर में इन्स्टाग्राम की ऐप के अपडेटेड वर्जन 2.0 में उपलब्ध है।

हजार-दो हजार में मिल रहे हैं खुफिया कैमरों वाले हुक
Posted Date : 02-November-2017 6:11:54 pm

हजार-दो हजार में मिल रहे हैं खुफिया कैमरों वाले हुक

दूकानों के कपड़े बदलने के केबिन से लेकर लोगों के बेडरूम तक की रिकॉर्डिंग करने के लिए स्पाई-हुक इंटरनेट पर खुलेआम बिक रहे हैं, और खरीदे जा रहे हैं। इन्हें कहीं भी फिट किया जा सकता है और इसकी रिकॉर्डिंग को तुरंत किसी कम्प्यूटर या फोन पर ट्रांसफर करने के लिए इनके पीछे एक यूएसबी पोर्ट भी मौजूद है। अमेजान और ईबे पर यह स्पाई हुक हजार-दो हजार रुपये में मौजूद है। कुछ महंगा स्पाई हुक वीडियो के साथ-साथ आवाज भी रिकॉर्ड करता है। अगली बार किसी होटल में ठहरें, या किसी दूकान के चेंजिंग रूम में कपड़े बदले तो एक बार हुक पर नजर डाल लें कि उसके ऊपर कैमरे का ऐसा छेद तो नहीं है। 

वॉट्सऐप के डिलीट फॉर एवरीवन फीचर में है यह दिक्कत
Posted Date : 02-November-2017 6:11:05 pm

वॉट्सऐप के डिलीट फॉर एवरीवन फीचर में है यह दिक्कत

संचिता उपाध्याय जोशी
नई दिल्ली, 1 नवम्बर । वॉट्सऐप पर बॉयफ्रेंड की जगह पापा को आई लव यू जानू लिखकर भेज दिया? या फैमिली वॉट्सऐप ग्रुप में वह जोक भेज बैठे जो दोस्तों के ग्रुप में भेजना था? तो अब घबराने की जरूरत नहीं है। पांच मिनट के अंदर-अंदर आप वह मैसेज डिलीट कर सकते हैं। लेकिन, अगर आप सोच रहे हैं कि इस फीचर से आप मैसेज के सारे सबूत मिटा बैठेंगे, तो आपकी जानकारी सही नहीं है। 
इस फीचर में समस्या यह है कि आप अगर मैसेज डिलीट करते हैं, तो रिसीव करने वाले के चैट बॉक्स में लिखा दिखेगा ‘This message was deleted’और उस व्यक्ति की चैट सबसे ऊपर आ जाएगी, जैसे नया मैसेज आने पर आ जाती है। यानी, आप सिर्फ वह मिटा सकते हैं जो आपने लिखा था। लेकिन, सामने वाला यह तो जान ही जाएगा कि आपने कुछ-न-कुछ लिखा था।
वॉट्सऐप के इस फीचर का बेसब्री से इंतजार किया जा रहा था। लेटेस्ट अपडेट में आए डिलीट फॉर एवरीवन फीचर के तहत आप अपने भेजे किसी भी मैसेज को दूसरों के फोन से भेजने के 5 मिनट के अंदर-अंदर डिलीट कर सकेंगे।
वॉट्सऐप ने अपने एक ब्लॉग पोस्ट में इस फीचर के आने की पुष्टि की है। अपने भेजे हुए मैसेज पर देर तक प्रेस करने के बाद आपको ऊपर बैंड पर कई सारे विकल्प दिखेंगे। 
इनमें से डिलीट को चुनें। इसके बाद आपको तीन और विकल्प दिखेंगे, डिलीट फॉर मी, कैंसल और डिलीट फॉर एवरीवन। 
अगर आप पहला विकल्प चुनते हैं, तो वह मैसेज सिर्फ आपके फोन से डिलीट होगा मैसेज पाने वाले के नहीं। अगर कैंसल चुनते हैं तो कहीं से भी डिलीट नहीं होगा लेकिन अगर आप डिलीट फॉर एवरीवन चुनते हैं तो वह आपके और मैसेज रिसीव करने वाले दोनों के फोन से हट जाएगा। (नवभारत टाईम्स)

Posted Date : 02-November-2017 9:38:25 am

सेहत /सीताफल एक ऐसा फल है जो सर्दी के मौसम में बाजारों में मिलता है । सीताफल को इंग्लिश में कस्टर्ड एप्पल कहते है और शरीफा नाम से भी ये फल जाना जाता है । सीताफल ये अनगिनत औषधियों में शामिल है ये फल पकी हुई अवस्था में बहार से सख्त और अंदर से नरम और बहुत ही मीठा होता है ।

इसका अंदर का क्रीम सफ़ेद रंग का और मलाईदार होता है । इसके बीज काले रंग के होते है । मार्किट में आजकल सीताफल की बासुंदी शेक और आइसक्रीम भी मिलते है । यह हमारे सेहत के लिए बहुत ही अच्छा होता है । इसमें विटामिन होता है इसके अलावा इसमें नियासिन विटामिन ए राइबोफ्लेविन थियामिन ये तत्व होते है इसके इस्तेमाल से हमें आयरन कैल्शियम मॅग्नीज़ मैग्नेशियम पोटैशियम और फोस्फरस मिलते है । खास बात यह है कि सीता फल में आयरन अधिक मात्रा में होता है । इसके अन्दर मौजूद पोटैशियम और मैग्नेशियम ह्रदय के लिए बहोत ही अच्छा होता है मैग्नेशियम शरीर में पानी की कमी नहीं होने देता इसके फाइबर की प्रचुर मात्रा से ब्लड प्रेशर अच्छा रहता है । इससे कोलेस्ट्रॉल भी कम होता है । इसमें विटामिन और आयरन खून की कमी को दूर करके हीमोग्लोबिन बढ़ता है ।

सीताफल का लाभ …
अगर आपको कब्ज की समस्या हो तो सीता फल से ये दूर हो सकती है । सीता फल में पर्याप्त मात्रा में कॉपर तथा फायबर होते होते हैं जो मल को नरम करके कब्ज की समस्या को मिटा सकते है । इसके उपयोग से पाचन तंत्र भी मजबूत होता है ।
गर्भवती महिला के लिए सीता फल खाना लाभदायक होता है इससे कमजोरी दूर होती है, उल्टी व जी घबराना ठीक होता है । सुबह की थकान में आराम मिलता है, शिशु के जन्म के बाद सीताफल खाने से ब्रेस्ट दूध में वृद्धि होती है ।
यदि आप कमजोर हो या आपको वजन बढ़ाना हो तो सीता फल का भरपूर उपयोग करना चाहिए। इसमें प्राकृतिक शक्कर अच्छी मात्रा में होती है। जो बिना किसी नुकसान के वजन बढ़ाकर व्यक्तित्व आकर्षक दे सकती है । इसके नियमित सेवन से पिचके हुए गाल और कूल्हे पुष्ट होकर सही आकार में आ जाते हैं और व्यक्तित्व में निखार आता है ।
सीता फल के पेड़ की छाल में पाए जाने वाले टैनिन के कारण इससे दांतों और मसूड़ों को लाभ मिलता है । सीता फल दांत और मसूड़ों के लिए फायदेमंद होता है । इसमें पाया जाने वाला कैल्शियम दांत मजबूत बनाता है।। इसकी छाल को बारीक पीस कर मंजन करने से मसूड़ों और दांत के दर्द में लाभ होता है । यह मुंह की बदबू भी मिटाता है ।
सीता फल में पाए जाने वाले विटामिन ‘ए’, विटामिन ‘सी’, तथा राइबोफ्लेविन के कारण यह आँखों के लिए फायदेमंद होता है। यह नेत्र शक्ति को बढ़ाता है तथा आँखों के रोगों से भी बचाव करता है । जिन लोगों का काम ज्यादा लैपटोप प्रयोग वाला होता है उनके लिये इस फल का नियमित सेवन करना बहुत ही अच्छा लाभकारी रहता है ।
यह मानसिक शांति देता है तथा डिप्रेशन तनाव आदि को दूर करता है । कच्चे सीताफल के क्रीम खाने से दस्त व पेचिश में आराम आता है। कच्चे क्रीम को सूखा कर भी रख सकते है। जरुरत पड़ने पर इसे भिगो कर खाने पर यह दस्त मिटाने में उपयोगी होता है ।