नई दिल्ली - मुख्यमंत्री का नाम फाइनल दोपहर तक चार्टर प्लेन से रायपुर पहुंचेंगे कांग्रेसी दिग्गज, छत्तीसगढ़ आने के बाद तय होगा मुख्यमंत्री का नाम   |   नई दिल्ली - मुख्यमंत्री पद के सभी दावेदार पहुंचे राहुल गांधी के बंगले ताम्रध्वज,टी एस सिंहदेव भूपेश बघेल व महंत बंगले के अंदर तो शिव डहरिया, देवेंद्र यादव, जयसिंह अग्रवाल बंगले के बाहर है मौजूद   |   रायपुर - सार्वजनिक स्थान पर सरेआम शराब पीते गंज थाना पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया   |   रायपुर - मुजगहन थाना इलाके के ग्राम सिवनी में युवक से बिना किसी कारण गाली गलौज मारपीट का मामला सामने आया है   |   तेलंगाना: के. चंद्रशेखर राव ने ली मुख्यमंत्री पद की शपथ   |   रायपुर - कांग्रेस विधायक दल की बैठक खत्म, राहुल गांधी थोड़ी देर में करेंगे सीएम का फैसला   |   रायपुर - सत्ता पलट होते ही प्रशासनिक विभागों में मची खलबली, DSP की मौजूदगी में खुफिया विभाग ने जलाए कई अहम दस्तावेज   |   रायपुर - भूपेश बघेल के बंगले पर आपस में भिड़े समर्थक, जमकर हुई मारपीट   |   रायपुर दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के दुर्ग स्टेशन से प्रारंभ होने वाली ट्रेनों की सफाई के लिए आधुनिक, ’स्वचालित कोच वाशिंग प्लांट’की स्थापना जल्द   |   बलौदा बज़ार भाटापारा - कलेक्टर ने धान उठाव के कार्य में तेजी लाने के दिए निर्देश डीमओ को कहा ज्यादा से ज्यादा अब तक 1.98 लाख मीटरिक टन धान की हुई खरीदी   |  

 

क्राइम

Previous123456789...2324Next

पत्रकार खबरीलाल रिपोर्ट ::- अनिल पाटोदिया एवं हेमंत तोसावर ने योगी आदित्यनाथ पर दर्ज किया कोलकाता में केस।।
Posted Date : 08-December-2018

पत्रकार खबरीलाल रिपोर्ट ::- अनिल पाटोदिया एवं हेमंत तोसावर ने योगी आदित्यनाथ पर दर्ज किया कोलकाता में केस।।

योगी आदित्यनाथ, सीएम उत्तरप्रदेश ने राजस्थान में विधानसभा चुनाव 2018 हेतु एक चुनावी रैली में भगवान हनुमान को दलित कहने पर पूरे देश मे बवाल खड़ा हो गया है। इस टिप्पणी से लगभग 100 करोड़ सनातन धर्म के लोगों को बहुत ठेस पहुंचा है और उनके आस्था पर कुठाराघात किया गया। इस बयान पर संत समाज, धर्मावलम्बी लोग, सनातन धर्मी आदि ने कड़ी शब्दों में निंदा करते हुए उप्र के सीएम महंत योगी आदित्यनाथ से इस्तीफे की मांग किये हैं। हेमंत तोसावर जो हावड़ा सदर लोकसभा से धर्म सांसद हैं उन्होंने कहा की योगी आदित्यनाथ जो उत्तरप्रदेश के गोरखपीठ के महंत हैं और उनके श्रीमुख से अंजनी पुत्र भगवान हनुमान के प्रति इस तरह की युक्ति भगवान हनुमान के प्रति असम्मान को दर्शाता है तथा यह भी दर्शाता है कि वे शायद हनुमान चालीसा ठीक से नहीं पढ़े होंगे जिसमे लिखा है – ” हाथ वज्र और ध्वजा विराजे, कांधे मुंज जनेऊ साजे”। उनके इस युक्ति से देश मे अराजक माहौल उत्पन्न हो सकता था, बवाल हो सकता था, दंगे हो सकते थे व इत्यादि। हेमंत तोसावर ने यह भी कहा कि उनके इस कथन से हिन्दू भ्रमित हुए, इतिहास को तोड़मडोर किया गया, हिंदुओं के आस्था से खिलवाड़ किया गया तथा समाज को बांटने का कुत्सित प्रयास भी किया गया। इस हेतु दक्षिण कोलकाता से धर्म सांसद अनिल पाटोदिया एवं हावड़ा सदर से धर्म सांसद हेमंत तोसावर ने पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव को पत्र लिखा तथा क्रिमिनल केस दायर किया गया है। अब देखना यह है कि हिंदुत्त्ववादी सरकार के केंद्र के मुखिया पीएम मोदी उत्तरप्रदेश के सीएम से इस्तीफा मांगते हैं कि नहीं तथा माननीय अदालत इस पर क्या फैसला देती है। विदित हो कि धर्म की राजधानी के रूप में समूचे विश्व मे जाने जानी वाली काशी में पुराणों में वर्णित मंदिर, प्राचीन मंदिर, देव विग्रहों को विकास के नाम पर तोड़ दिया गया और यह कार्यवाही अभी भी जारी है जिससे सनातन धर्मियों में रोष के साथ साथ गुस्सा भी बढ़ गया है। इस तरह मंन्दिरों को तोड़ना सनातन धर्मियों के आस्था पर कुठाराघात है और इसे हिंदुत्त्ववादी सरकार (केंद्र, उप्र राज्य) के प्रशासन के द्वारा किया जा रहा है। इस विकास से प्राणप्रतिष्ठित देव देवियों की निर्मम हत्या भी किया जा रहा है
पत्रकार खबरीलाल रिपोर्ट ::- दुर्ग रेंज के पुलिस महानिरीक्षक जी.पी. सिंह ने लौटाये 25 नग मोबाईल फोन।।
Posted Date : 08-December-2018

पत्रकार खबरीलाल रिपोर्ट ::- दुर्ग रेंज के पुलिस महानिरीक्षक जी.पी. सिंह ने लौटाये 25 नग मोबाईल फोन।।

????सिटीजन काॅप ने लगभग 16 लाख, 92 हजार रूपये के मोबाईल फोन रिकवर किये।। पुलिस महानिरीक्षक, दुर्ग रेंज, जीपी सिंह के निर्देशन में संचालित सिटीजन काॅप सेल द्वारा सिटीजन काॅप - मोबाईल एप्लीकेशन पर दर्ज मोबाईल फोन के गुम होने की शिकायतों पर कार्यवाही करते हुये 25 नग मोबाईल फोन रिकवर किया गया। पुलिस महानिरीक्षक जीपी सिंह द्वारा इन 25 नग मोबाईल फोन को उनके मूल मालिको को आवश्यक दस्तावेज देखकर आज दिनांक 08/12/2018 को अपने कार्यालय में उन्हें वापस किया गया। गौरतलब है कि ये मोबाईल फोन दीगर राज्य जैसे मध्यप्रदेश के शहडोल, बालाघाट एवं महाराष्ट्र के गोंदिया से रिकवर किये गये है तथा कुछ मोबाईल फोन राज्य के रायपुर, बिलासपुर, मुंगेली, धमतरी, महासमुंद, पाटन, बेमेतरा, बालोद, गरियाबंद एवं राजनांदगांव से भी रिकवर किये गये हैं। उल्लेखनीय है कि दुर्ग संभाग में सिटीजन काॅप - मोबाइल एप्लीकेशन के अपग्रेडेड वर्जन के साथ मार्च 2018 में लाॅंच किया गया था, तब से अभी तक सिटीजन काॅप के माध्यम से कुल 151 नग मोबाईल फोन बरामद कर संबंधित मोबाईल धारको को लौटाया जा चुका है। अब तक रिकवर किये गये सभी मोबाईल फोन की कीमत लगभग 16 लाख 92 हजार रूपये के करीब है। गुम/चोरी हुए मोबाईल फोन वापस मिलने के कारण लोगों ने मोबाईल फोन वापस मिलने पर खुशी जाहिर करते हुए सिटीजन काॅप मोबाईल एप्प व रेंज पुलिस महानिरीक्षक के द्वारा किये जा रहे कार्यों की सराहना की है। पुलिस महानिरीक्षक जीपी सिंह ने बताया किया है कि ’’सिटीजन काॅप’’ मोबाईल एप्प पुलिस थाना का एक डिजिटल स्वरूप है जिसका उपयोग करके आम नागरिक अपनी समस्याएं/सूचनाएं पुलिस से साझा कर सकते हैं । इसमें सबसे खास बात यह है की एप्प के माध्यम से उपयोगकर्ता की पहचान गोपनीय रहती है। संज्ञान में आया है कि आम नागरिक अपनी खोई हुई वस्तु जैसे मोबाईल फोन, लैपटाॅप, पासपोर्ट, बैंक पासबुक व अन्य आवश्यक दस्तावेज के गुम हो जाने पर पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराने के लिये पुलिस थाना एवं वरिष्ठ कार्यालयों का चक्कर लगाते हैं, जिससे उनका समय बरबाद होता है। सिटीजन काॅप एप्प आम नागरिकों को यह सुविधा प्रदान करता है कि किसी भी गुम वस्तु की शिकायत घर बैठे एन्ड्रायड मोबाईल का उपयोग कर सिटीजन काॅप एप्प के माध्यम से दर्ज करा सकते हैं।
देड़ वर्षों से अपनी एक लौती बेटी को न्याय दिलाने पिता काट रहे हैं थाने और कोर्ट का चक्कर।।
Posted Date : 07-December-2018

देड़ वर्षों से अपनी एक लौती बेटी को न्याय दिलाने पिता काट रहे हैं थाने और कोर्ट का चक्कर।।

पत्रकार खबरीलाल खास खबर (सतना , मप्र ) ::- अपनी एक लौती बेटी की शादी बड़े अरमान से जून 2017 में सतना निवासी इंद्रिका प्रसाद पांडेय ने रीवा निवासी दीपक तिवारी से किया तथा लड़के वालों की सभी मांगों को पूरा किये। अपने एक लौती बेटी के विवाह में लगभग 30 लाख रुपये खर्च किये जिसमे से जो हुंडई कार लड़के वाले को दिए थे उसका किस्त वे आज भी भर रहे हैं। लड़की की विदाई हुई और वो ससुराल पहुंची। इधर इंद्रिका प्रसाद पांडेय का परिवार भी खुश था कि उनकी एक लौती बेटी की अच्छे घर मे विवाह संपन्न करवाया और बेटी ताउम्र खुश रहेगी। लेकिन इनकी खुशी ज्यादा दिन तक नहीं टिकी। बेटी जब विवाह पश्चात पहली बार मायके आई तो उन्होंने अपनी माँ से कुछ बातें बताई। इसके बाद बेटी दोबारा ससुराल गई और वहां गृहस्ती करने लगी। इस बीच सबसे बड़ी बात जो सामने आई वह यह कि शादी पश्चात जो संबंध पति-पत्नी के बीच बनने थे वह नहीं बने। पत्नी जब भी पति से इस बाबत बात करती तो पति अधिक कार्य, तबियत खराब आदि का बहाना बना देते थे। साथ ही लड़के के घरवाले ने नई दुल्हन को दहेज हेतु दवाब भी बनाने लगे। जो पिता अपने हैसियत से ज्यादा शादी में खर्च किये वे कैसे लड़के वालों की मांगों को पूरी करते। फिर लड़की अपने मायके आई और पूरी बातें खुलकर अपने माता-पिता से बोली जिसे सुनकर माता-पिता बहुत ही दुःखी हो गए। फिर भी मन मारकर पिता ने अपने लाडली बेटी को समझा बुझाकर ससुराल भेजते हैं और स्थिति और बिगड़ी और लड़की को उसके पिता वापस अपने घर ले आये। इसके पश्चात पिता इंद्रिका प्रसाद पांडेय के साथ लड़की ने लिखित शिकायत सतना के महिला थाने में लिखवाया। इस पर कार्यवाही ठीक तरह से नहीं होने पर उन्होंने सतना के पुलिस अधीक्षक के पास भी लिखित में दर्ज किया। फिर भी जो गति इस गंभीर मामले में मिलना चाहिए था वह नहीं मिल पाया साथ ही पीड़ित लड़की ने कुटुंब न्यायालय और क्रिमिनल न्यायालय में केस दायर किया फिर भी लड़के वालों पर न तो पुलिस कोई कार्यवाही कर पाई और न ही वे अदालत में हाजिर हुए। महिला थाने में पीड़ित लड़की को दिन विशेष बुलाया जाता, लड़के वाले नहीं आते और वे दिन भर थाने में बैठकर लौट जाते। यह सिलसिला चलता रहा पर महिला पुलिस द्वारा कोई ठोस कार्यवाही नहीं किया गया जिससे लड़के को गिरफ्तार कर थाने लाया गया हो। प्रश्न यहां यह उठता है कि क्या पीड़ित लड़की को वाकई में न्याय मिलेगा या नहीं ? क्या वे इसी तरह थाना और कचहरी का चक्कर लगाते रहेंगे ? अभी तक क्यों नहीं किया गया लड़के और उनके घरवालों पर कानूनी कार्यवाही ? क्या पुलिस किसी दवाब में है जिससे लड़के और उसके घरवाले पर कानूनी कार्यवाही नहीं कर पा रहे हैं ? क्यों पीड़ित लड़की और उनके माता-पिता को दरवाजे दर दरवाजे दस्तक लगाना पड़ रहा है ? यदि पीड़ित लड़की को त्वरित न्याय नहीं मिला तो आगे की जिंदगी हेतु जिम्मेदार कौन होगा ? यदि इस केस का त्वरित समाधन हो जाता है तो समय रहते पीड़ित लड़की की दूसरी शादी हो सकती है। क्यों नहीं पुलिस इस एंगल से देखते हुए शादी में हुए कुल व्यय को लड़के वालों से दिलाती है और क्यों नहीं पीड़िता को फ़ास्ट कोर्ट में सुनवाई करते हुए अविलम्ब तलाक दिलाती है ?
पत्रकार खबरीलाल रिपोर्ट :: पुलिस महानिरीक्षक जीपी सिंह ने रेंज के सभी पुलिस अधीक्षकों की ली आवश्यक बैठक।।
Posted Date : 05-December-2018

पत्रकार खबरीलाल रिपोर्ट :: पुलिस महानिरीक्षक जीपी सिंह ने रेंज के सभी पुलिस अधीक्षकों की ली आवश्यक बैठक।।

पुलिस महानिरीक्षक दुर्ग रेंज जी. पी. सिंह के द्वारा दिनांक 05.12.2018 को रेंज कार्यालय, दुर्ग में रेंज के पुलिस अधीक्षकों की क्राइम मीटिंग ली गई। मीटिंग में सभी पुलिस अधीक्षकगण एवं अन्य राजपत्रित अधिकारी उपस्थित रहे। मीटिंग में सभी जिलों के आपराधिक स्थिति तथा दिनांक 11.12.2018 को मतगणना स्थल पर लगाये जाने वाले पुलिस बंदोबस्त की समीक्षा की गई। पुलिस महानिरीक्षक जीपी सिंह द्वारा मतगणना स्थल पर पुलिस बंदोबस्त के संबंध में पुलिस अधीक्षकों को निर्देशित किया। दिनांक 11.12.2018 को मतगणना के दौरान मतगणना स्थल एवं आसपास के क्षेत्रों में एक्सेस कंट्रोल के सिद्धान्तों का पालन करते हुए जीरो एरर पुलिस बंदोबस्त लगाया जावे तथा धारा 144 का पालन सुनिश्चित किया जावे। मतगणना स्थल पर जिला प्रशासन एवं स्थानीय प्रशासन के सहयोग से यथोचित पार्किंग की व्यवस्था भी सुनिश्चित किया जाए। पत्रकारों, सुरक्षा बलों, प्रत्याशियों एवं राजनीतिक दलों के एजेण्टों के मतगणना स्थल पर प्रवेश के लिये स्पेसिफिक व्यवस्था हो साथ ही अलग-अलग स्थलों के लिये अलग-अलग रंग के प्रवेशपत्रों की व्यवस्था रखी जाए, ताकि किसी तरह की भ्रांति न हो। पार्किंग के लिये भी प्रवेशपत्र की व्यवस्था रखी जाए। मतगणना स्थल के आसपास प्रतिबंधित स्थलों पर अनाधिकृत व्यक्तियों को न तो प्रवेश दिया जावे न ही आसपास व मार्ग में कहीं पर भीड एकत्रित होने दी जावे। सुनिश्चित किया जावे कि भारत निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देशों के अनुरूप प्रतिबंधित वस्तुयें मतगणना स्थल के अंदर न ले जाया जा सके। इसके लिये जिला प्रशासन, राजनीतिक दलों के प्रत्याशियों व एजेण्टों के साथ संयुक्त मीटिंग लेकर पूर्व से सुनिश्चित कर लिया जावे। मीटिंग में पुलिस द्वारा की जा रही सुरक्षा व्यवस्था के संबंध में जानकारी दी जावे, ताकि सब को व्यवस्था की जानकारी रहे तथा स्टेक होल्डरों के कार्य में किसी तरह की बाधा न हो। पुलिस व्यवस्था एवं प्रतिबंधित वस्तुओं के संबंध में भी मीडिया के माध्यम से व्यापक प्रचार प्रसार कराया जावे। विजयी प्रत्याशियों के जुलूस, शहर की कानून व्यवस्था एवं आपात स्थितियों के लिये भी पृथक से व्यवस्था रखी जावे, ताकि शहर में एवं मतगणना स्थल मे किसी तरह की अव्यवस्था न हो। यह भी सुनिश्चित किया जावे कि आदर्श आचरण संहिता का पालन करते हुए विधिवत अनुमति के उपरांत ही जुलूस निकाली जावे, इस बाबत् मीटिंग में प्रत्याशियों को स्पष्ट रूप से अवगत कराया जाए कि वैध अनुमति के बिना जुलूस निकाले जाने की स्थिति में किस तरह की वैधानिक कार्यवाही हो सकती है।
ऐसा क्या हुआ कि महिला ने युवक को मौत के घाट उतारने के बाद पहुची थाने पढ़े पूरी खबर
Posted Date : 30-November-2018

ऐसा क्या हुआ कि महिला ने युवक को मौत के घाट उतारने के बाद पहुची थाने पढ़े पूरी खबर

जांजगीर चाम्पा:- किसी बात को लेकर उपजे विवाद में एक महिला ने युवक की निर्मम हत्या कर दी। वारदात को अंजाम देने के बाद महिला सीधे थाने पहुंची और पुलिस को घटना की जानकारी दी। हत्या का कारण युवक द्वारा महिला से छेड़छाड़ बताया जा रहा है। मामला नगर पंचायत जैजैपुर का है। जानकारी के अनुसार, नगर पंचायत जैजैपुर निवासी अमीर खान (24) पिता ताहर खान गुरूवार 29 नवंबर की शाम करीब सात बजे नगर में ही निवासरत एक महिला के घर पहुंचा था। इस दौरान किसी बात को लेकर अमीर खान का उस महिला से विवाद हो गया। देखते ही देखते विवाद इतना गहरा गया कि महिला तैश में आ गई और उसने अमीर खान पर जानलेवा हमला कर दिया। अचानक हुए हमले से अमीर खान की मौके पर ही मौत हो गई। हत्या की वारदात को अंजाम देने के बाद महिला सीधे जैजैपुर थाने पहुंची और छेड़छाड़ करने का आरोप लगाते हुए अमीर खान की हत्या करने की जानकारी पुलिस को दी। उसने बताया कि अमीर खान का शव उसके घर पर पड़ा हुआ है। घटना की जानकारी मिलते ही जैजैपुर थाना प्रभारी ने उच्चाधिकारियों को तत्काल मामले से अवगत कराया और अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे। सक्ती एसडीओपी अमित पटेल भी कुछ देर बाद मौके पर पहुंचे और मौका मुआयना किया। इधर, युवक की हत्या की खबर लगते ही नगर के लोग बड़ी संख्या में मौके पर पहुंच गए। सक्ती एसडीओपी अमित पटेल ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। जांच के बाद ही सबकुछ स्पष्ट होगा। फिलहाल, युवक के शव और आरोपी महिला को पुलिस ने अपनी अभिरक्षा में ले लिया है।
पत्रकार खबरीलाल रिपोर्ट ::- सुनील जैन के हत्या की गुत्थी 3 दिन में सुलझी - आईजी सिंह ।।
Posted Date : 29-November-2018

पत्रकार खबरीलाल रिपोर्ट ::- सुनील जैन के हत्या की गुत्थी 3 दिन में सुलझी - आईजी सिंह ।।

जिला बालोद के डोंडी में दिनांक 24 एवं 25 नवंबर 2018 की दरमियानी रात में माईनिंग ठेकेदार सुनील जैन की हत्या की गुत्थी पुलिस ने 3 दिनों में ही सुलझा ली है। जी पी सिंह, पुलिस महानिरीक्षक दुर्ग रेंज के निर्देशन में गठित विषेष टीम ने घटना को अंजाम देने वाले 07 हत्यारों को अपने गिरफ्त में ले लिया है तथा 02 आरोपी फरार है। रेंज पुलिस महानिरीक्षक जी. पी. सिंह ने सम्पूर्ण घटनाक्रम का खुलासा करते हुए बताया कि दिनांक 25 नवम्बर 2018 को प्रातः 9.30 बजे प्रार्थी अंकित तिवारी ने थाना डोंडी आकर रिपोर्ट किया कि उसके पड़ोसी माईनिंग ठेकेदार सुनील जैन पिता पुखराज जैन उम्र 55 वर्ष, जो शैलेन्द्र नगर ए-59 रायपुर में रहते है वे दिनांक 24 नवम्बर 2018 की रात 10.30 बजे स्कार्पियों वाहन से डोंडी अपने घर आये थे। घर के ऊपर मंजिल में सुनील जैन का रसोईया व नौकर शैलेन्द्र जायसवाल रहता था। आज उसके कमरे का दरवाजा बाहर से बंद था, शैलेन्द्र ने उसे फोन किया तब यह छत के रास्ते से आकर शैलेन्द्र के कमरे का दरवाजा खोला। फिर मकान के नीचे सुनील जैन के कमरे मे जाकर शैलेन्द्र ने देखा तो समान बिखरा पड़ा था, अलमारी खुली हुई थी पलंग में सुनील जैन मृत अवस्था में था। अपराध की गंभीरता को देखते हुये थाना प्रभारी ने पुलिस अधीक्षक बालोद को सूचना दी एवं पुलिस अधीक्षक ने आईजी श्री जी पी सिंह को घटना से अवगत कराया। सूचना पाकर श्री सिंह तत्काल मौके पर पहुंचे तथा घटना स्थल का निरीक्षण किये। घटनास्थल के निरीक्षण पर यह स्पष्ट हो गया था कि आरोपियों का प्रवेश व निकास मुख्य दरवाजे से नहीं हुआ था, बल्कि बगल की दीवाल फांदकर मकान के उपर हिस्से में पहुंचकर आरोपियों ने मकान के अंदर पहुंचे व मृतक के नौकर के कक्ष का दरवाजा बाहर से बंद कर सीधे सीढीयों से नीचे आकर मृतक के कमरे में जाकर वारदात को अंजाम दिए। इनमें से कोई न कोई आरोपी घटनास्थल से परिचित है। पुलिस महानिरीक्षक जी. पी. सिंह के निर्देशानुसार पुलिस अधीक्षक बालोद ने अविलम्ब क्राईम स्कवाड बालोद एवं क्राईम स्कवाड भिलाई-दुर्ग के अनुभवी अधिकारियों की 4 विषेष टीम बनाई तथा बिलासपुर के निरीक्षक कलीम खान और रायपुर क्राईम स्कवाड का भी सहयोग लिया गया । इस टीम ने अथक परिश्रम और सूझबूझ से मात्र तीन दिन के भीतर अंधे कत्ल की गुत्थी को सुलझा दिया। टीम ने शक के आधार पर पहले मृतक के पुराने ड्राइवर रायपुर निवासी धनराज शर्मा से पूछताछ किया तथा पूछताछ के दौरान आरोपी टूट जस्य और अपने महिला मित्र हीरा नेताम के साथ मिलकर हत्या का षड्यंत्र करना बताया तथा अन्य आरोपियों को रायपुर, मंदिर हसौद और ओडिशा के संबलपुर से गिरफ्तार किया गया। इस पूरे प्रकरण को सुलझाने मे बालोद पुलिस, क्राईम ब्रांच दुर्ग के प्रभारी उप निरीक्षक राजेश मिश्रा, बिलासपुर के निरीक्षक कलीम खान, प्रधान आरक्षक चन्द्र शेखर बंजीर एवं रायपुर क्राईम ब्रांच का विशेष सहयोग रहा।
दोनों साथ में मछली मारने गये एक कि हुई मौत और एक सलाखों के पीछे पढ़े पूरी खबर
Posted Date : 27-November-2018

दोनों साथ में मछली मारने गये एक कि हुई मौत और एक सलाखों के पीछे पढ़े पूरी खबर

जांजगीर चाम्पा:- सोन नदी में 18 नवम्बर को हसौद थाना अंतर्गत लाल माटी में एक युवक की लाश मिली थी। जिसमे मर्ग कायम कर पुलिस द्वारा जाँच की जा रही थी । लाश की पहचान लाल माटी निवासी रमेश डहरिया पिता जेठू राम के रूप में हुई थी । पोस्ट मार्टम में युवक की मौत बिजली करेंट से होने की जानकारी हुई।प्राप्त जानकारी के अनुसार लाल माटी निवासी रमेश डहरिया पिता जेठूराम गांव के ही किरण कुमार पिता रामनाथ के साथ 18 नवम्बर को दोपहर करेंट से मछली मारने सोननदी गये थे। दोनों को मछली मारने जाते मृतक के बहन ने देखी थी जिसके आधार पर पुलिस द्वारा कड़ाई से पूछ ताछ करने पर आरोपी किरण कुमार पिता रामनाथ ने बताया कि दोनों साथ में मछली मारने गये थे जिस दौरान रमेश की करेंट से मौत हो गई मौत होने के बाद किरण कुमार अपने बाड़ी में लगे मोटर पंप को 3 बजे लेकर घर आ गए और कपड़े को छुपा दिए थे। मौत की जानकारी भी किसी को नही दिए। आरोपी के खिलाफ धारा 304 , 201 भादवि के तहत गिरफ्तार कर रिमांड में भेजा गया।
अकेली पाकर महिला को किया छेड़छाड़ अब आरोपी पहुँचा सलाखों के पीछे
Posted Date : 27-November-2018

अकेली पाकर महिला को किया छेड़छाड़ अब आरोपी पहुँचा सलाखों के पीछे

जांजगीर चाम्पा:-हसौद पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार हसौद थाना अंतर्गत भातमाहुल की 35 वर्षीय महिला ने थाने में आकर भातमाहुल निवासी बिल्लू यादव उर्फ नन्दकिशोर यादव पिता सियाराम यादव 36 वर्ष के खिलाफ जबरन हाथ पकड़कर , कपड़े फाड़ने व छेड़छाड़ करने की रिपोर्ट दर्ज कराई। महिला ने बताया कि घटना के दिन महिला शाम को गाय चराकर आ रही थी उसी दौरान बिल्लू यादव द्वारा महिला के साथ छेड़ छाड़ करने लगे महिला द्वारा छेड़खानी का विरोध किये जाने पर गाली गलौज भी की गई । जिस पर हसौद पुलिस द्वारा कार्रवाई करते हुए आरोपी के खिलाफ धारा 354 भादवि के तहत गिरफ्तार कर न्यायलय में पेश किया गया जहाँ से आरोपी को जेल भेज दिया गया।
Previous123456789...2324Next