खेल

  63वीं राष्ट्रीय शालेय क्रीड़ा प्रतियोगिता में छत्तीसगढ़ को मिला चेम्पीयन शीप ट्राफी

63वीं राष्ट्रीय शालेय क्रीड़ा प्रतियोगिता में छत्तीसगढ़ को मिला चेम्पीयन शीप ट्राफी

बलौदा बाजार-भाटापारा, 63 वीं राष्ट्रीय शालेय क्रीड़ा प्रतियोगिता के समापन के अवसर पर श्रम खेल एवं युवा कल्याण मंत्री   भैयालाल राजवाड़े ने 21 राज्यों के प्रतिभागियों एवं कोच को संबोधित करते हुए  राष्ट्रीय शालेय क्रीड़ा प्रतियोगिता के बेहतर ढंग से संपन्न कराने के लिए जिला प्रशासन की प्रशंसा की। प्रदेश के मुख्यमंत्री डाॅ.रमन सिंह के मंशानुसार प्रदेश को खेलगढ़ के रूप में विकसित करने के लिए सभी खेल प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जा रहा है। प्रदेश के खिलाड़ी ओलम्पिक खेलों में मेडल प्राप्त करने पर दो करोड़ राशि का प्रावधान रखा गया है। उन्होंने सरगुजा अंचल के रेणु यादव को ब्राजील में आयोजित हाॅकी प्रतियोगिता में शामिल होने पर उनके मनोबल बढ़ाने के लिये प्रोत्साहन राशि दी गई है। राष्ट्रीय स्तर के खेल प्रतियोगिता में आयोजित कार्यक्रमों की सराहना करते हुए कहा कि खिलाड़ियों को शिक्षा के साथ खेल एवं भाईचारा की भावना की आवश्यक है। 
आगे कहा कि हमारा प्रदेश संस्कृति एवं संस्कार के प्रति सदैव छत्तीसगढ़ का देश में गौरवन्वित हुआ है। भाटापारा में खेल केन्द्र बनाया गया है। हर वर्ष राष्ट्रीय स्तर के प्रतियोगिता के आयोजन किए जाने के कारण शहर को राष्ट्रीय स्तर पर पहचान मिलेगी। राष्ट्रीय स्तर के खेल प्रतियोगिता नेट बाल, रोलबाॅल, ड्रापरोबाल आदि खेलों में विजेता टीम को प्रतीक चिन्ह एवं मेडल प्रदान कर तथा क्रीड़ा प्रतियोगिता से जुड़े हुए अधिकारी एवं कर्मचारियों को भी सम्मानित किया गया।

अध्यक्ष छत्तीसगढ़ खनिज विकास निगम  शिवरतन शर्मा ने कहा कि राष्ट्रीय स्तर के खेल आयोजन के लिए स्थानीय युवाओं के प्रयासों से शहर में खेल प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। युवाओं में खेल के प्रति उत्साह के कारण शहर के उत्कृष्ट प्रतिभागी राष्ट्रीय स्तर के खेलों में भागीदारी निभा रहे हैं। उन्होंने कहा कि खिलाड़ी अपने मन में संकल्प लेकर प्रतियोगिता में शामिल होने से सफलता अवश्य मिलेगी। उन्होंने जिला प्रशासन, शिक्षा विभाग एवं अन्य आयोजनकर्ताओं ने बेहतर ढंग से आयोजन को सफल बनाया उसके के लिए उन्हें सहृदय से धन्यवाद दिया। कलेक्टर  राजेश सिंह राणा ने राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता में शामिल प्रतिभागियों का अभिनंदन किया। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय शालेय प्रतियोगिता में शामिल हुए सभी खिलाड़ियों ने खेल भावना के साथ उत्कृष्ट प्रदर्शन किया। नेट बाल 17 वर्ष बालक मंे प्रथम छत्तीसगढ़, द्वितीय पंजाब, तृतीय दिल्ली, बालिका वर्ग में प्रथम छत्तीसगढ़, द्वितीय दिल्ली, तृतीय कर्नाटक, रोल बाल 19 वर्ष बालक वर्ग में प्रथम महाराष्ट्र, द्वितीय छत्तीसगढ़, तृतीय असम, बालिका वर्ग में प्रथम महाराष्ट्र, द्वितीय छत्तीसगढ़, तृतीय गुजरात, ड्राप रोल बाल सिंगल 19 वर्ष बालक वर्ग में प्रथम छत्तीसगढ़, द्वितीय सीबीएसई, तृतीय मध्यप्रदेश, बालिका वर्ग में प्रथम छत्तीसगढ़, द्वितीय दिल्ली, तृतीय गुजरात, ड्राप रोल बाल डबल 19 वर्ष बालक में प्रथम छत्तीसगढ़, द्वितीय सीबीएसई, तृतीय मध्यप्रदेश, बालिका वर्ग में प्रथम छत्तीसगढ़, द्वितीय मध्यप्रदेश, तृतीय गुजरात, ड्राप रोल बाल ट्रीपल 19 वर्ष बालक वर्ग में प्रथम छत्तीसगढ़, द्वितीय दिल्ली, तृतीय विद्याभारती, बालिका वर्ग में प्रथम छत्तीसगढ़, द्वितीय दिल्ली, तृतीय डी ए व्ही प्राप्त किया। अतिथियों द्वारा खिलाड़ियों को प्रतीक चिन्ह एवं मेडल प्रदान कर सम्मानित किया गया। प्रतियोगिता में चेम्पीयन शीप छत्तीसगढ़ को प्राप्त हुआ। इस अवसर पर जनप्रतिनिधिगण, जिला पंचायत मुख्य कार्यपालन अधिकारी  एस जयवर्धन, जिला शिक्षा अधिकारी  जी आर चंद्राकर, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व श्री अरविन्द पाण्डेय, शासकीय व अशासकीय विद्यालय के प्राचार्य उपस्थित थे। 

Leave a comment