राज्य

चीला, फरा, बिजौरी, सोहारी, लाडू, उरीद बरा, खुरमी, ठेठरी, लाल भाजी सहित अन्य व्यंज्जनों का प्रदर्शन  गुजरात में 15 दिवसीय छत्तीसगढ़ी फूड फेस्टिवल का आयोजन

चीला, फरा, बिजौरी, सोहारी, लाडू, उरीद बरा, खुरमी, ठेठरी, लाल भाजी सहित अन्य व्यंज्जनों का प्रदर्शन गुजरात में 15 दिवसीय छत्तीसगढ़ी फूड फेस्टिवल का आयोजन

रायपुर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की महत्वकांक्षी योजना ’एक भारत श्रेष्ठ भारत’ योजना के अंतर्गत छत्तीसगढ़ राज्य को गुजरात राज्य का जोड़ीदार बनाया गया है। योजना के अंतर्गत दोनों राज्यों को संस्कृति, पर्यटन, शिक्षा और खान-पान के विविध आयोजन एक दूसरे के राज्यों में किये जाते हैं। छत्तीसगढ़ शासन के संस्कृति विभाग द्वारा पिछले 4 जून से 18 जून 2018 तक छत्तीसगढ़ी व्यंज्जनों केे फेस्टीवल का आयोजन गुजरात राज्य के विभिन्न शहरों में किया जा रहा है। 
संस्कृति विभाग के अधिकारियों ने बताया कि गुजरात के अहमदाबाद, चांपानेर (पावागढ़) सापूतारा, जूनागढ, पोरबंदर और द्वारका में छत्तीसगढ़ी फूड फेस्टिवल का आयोजन किया जा रहा है। यहां छत्तीसगढ़ी पकवानों की प्रदर्शनी एवं बिक्री की जा रही है। इनमें छत्तीसगढ़ के व्यंज्जन में चीला, फरा, बिजौरी, सोहारी, लाडू, उरीद बरा, खुरमी, ठेठरी, लाल भाजी सहित अन्य व्यंज्जनों का प्रदर्शन और बिक्री की जा रही है। अधिकारियों ने बताया कि 4 से 6 जून तक अहमदाबाद शहर के गांधी आश्रम में छत्तीसगढ़ी फूड फेस्टिवल में मध्यप्रदेश की वर्तमान राज्यपाल एवं गुजरात की पूर्व मुख्यमंत्री श्रीमती आनंदीबेन पटेल के परिवार के सदस्यों सहित लोगांे ने छत्तीसगढ़ी व्यंज्जनों का स्वाद लिया और पकवानों को स्वादिष्ट बताया।  
इस अवसर पर वहां मौजूद छत्तीसगढ़ के संस्कृति विभाग की सहायक संचालक डॉ. मुक्ति बैस ने उन्हें छत्तीसगढ़ी व्यंज्जनों के बनाने के तौर तरीकों को बताया। गुजराती लोगों ने छत्तीसगढ़ी व्यंज्जनों को बनाने वाले विशेषज्ञों को साड़ी, शॉल एवं श्रीफल भेंट कर सम्मानित किया गया। छत्तीसगढ़ी फूड फेस्टिवल गुजरात के शहरों में 7 जून से 8 जून तक चांपानेर (पावागढ़), 9 जून से 13 जून तक सापूतारा में, 14 जून को जूनागढ़ में और 15 से 16 जून तक को द्वारका नगर में गुजरात पर्यटन विभाग के सहयोग से वहां की प्रसिद्ध होटल तोरन में छत्तीसगढ़ी व्यंज्जनों को वहां के आगंतुकों को परोसा जाएगा।

Leave a comment