राज्य

 .मंदसौर  सम्मेलन  में राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर हमला बोला कांग्रेस सरकार बनने पर किसानों की कर्जमाफी का ऐलान

.मंदसौर सम्मेलन में राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर हमला बोला कांग्रेस सरकार बनने पर किसानों की कर्जमाफी का ऐलान

मंदसौर सम्मेलन में राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर हमला बोला. उन्होंने कहा कि देश के 15 बड़े उद्योगपतियों का ढाई लाख करोड़ रूपए माफ किया जा सकता है, लेकिन देश के करोड़ों किसानों का एक रूपए भी सरकार माफ नहीं कर सकती.
 राहुल गांधी ने कहा कि देश में क्या एक भी उद्योपति ने आत्महत्या की है ? विजय माल्या, ललित मोदी, नीरव मोदी जैसे उद्योपतियों को बैंक बुलाकर कर्जा देती है और कहती है भाग जाओ. अकेले मेहुल चौकसी, नीरव मोदी जैसे उद्योगपतियों को बैंकों ने 30 हजार करोड़ रूपए का कर्जा दिया है. इतने रूपए से मध्यप्रदेश के किसानों का दो बार कर्जा माफ किया जा सकता था.
 
मंदसौर में किसानों पर चली गोली की बरसीं के मौके पर आयोजित सम्मेलन में पहुंचे कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने ऐलान किया है कि- यदि राज्य में सरकार आई, तो दस दिनों के भीतर किसानों का कर्जा माफ कर दिया जाएगा. राहुल गांधी ने कहा कि- हम हर डिस्ट्रिक्ट में किसानों के खेत के पास फूड प्रोसेसिंग यूनिट लगाएंगे. हर डिस्ट्रिक्ट में किसान सीधा अपना माल फैक्ट्री में जाकर बेचेगा. आपकी जेब से शिवराज एक रूपए भी नहीं ले पाएंगे. किसानों को उनकी मेहनत का फायदा मिलेगा. पूरे मध्यप्रदेश में हम फूड चेन बनाएंगे. खेतों को सड़कों और शहरों से जोड़ेंगे. हम जो फूड प्रोसेसिंग प्लांट लगाएंगे उसमें मध्यप्रदेश के किसानों के बेटे-बेटी को रोजगार देंगे. चाइना से हम कांपीटिशन देकर दिखाएंगे. मंदसौर के युवाओं में कोई कमी नहीं है. दस साल के भीतर चाइना की राजधानी बीजिंग में मंदसौर का लहसुन खिलाएंगे. यह सब आपकी शक्ति की बदौलत होगा.
सम्मेलन में राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर हमला बोला. उन्होंने कहा कि देश के 15 बड़े उद्योगपतियों का ढाई लाख करोड़ रूपए माफ किया जा सकता है, लेकिन देश के करोड़ों किसानों का एक रूपए भी सरकार माफ नहीं कर सकती. राहुल गांधी ने कहा कि देश में क्या एक भी उद्योपति ने आत्महत्या की है ? विजय माल्या, ललित मोदी, नीरव मोदी जैसे उद्योपतियों को बैंक बुलाकर कर्जा देती है और कहती है भाग जाओ. अकेले मेहुल चौकसी, नीरव मोदी जैसे उद्योगपतियों को बैंकों ने 30 हजार करोड़ रूपए का कर्जा दिया है. इतने रूपए से मध्यप्रदेश के किसानों का दो बार कर्जा माफ किया जा सकता था.
राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने युवाओं और किसानों के साथ धोखा किया है. किसानों से कहा था कि हम फसल का सही दाम दिलाएंगे. युवाओं से कहा था कि दो करोड़ युवाओं को रोजगार देंगे. हर बैंक खातों में 15 लाख रूपए डालेंगे. लेकिन 15 लाख तो छोड़िए किसी भी युवा को नरेंद्र मोदी ने 5 रूपए तक नहीं दिए. राहुल गांधी ने कहा कि आज देश में जहां देखो वहां मेड इन चाइना नजर आता है. प्रधानमंत्री गुजरात में चाइना के राष्ट्रपति के साथ झुला झुलते हैं. प्रधानमंत्री जो फोन का उपयोग करते हैं, उसमें मेड इन चाइना लिखा है. राष्ट्रपति के चाइना लौटने के बाद डोकलाम में सेना भेजी जाती है, लेकिन मोदी के मुंह से एक शब्द नहीं निकलता. आखिर क्यों नहीं बोलते मोदी?
राहुल गांधी ने कहा कि हम चाहते हैं कि किसानों को सम्मान मिले. उनके बच्चों को अच्छी शिक्षा मिले. उन्होंने कहा कि मेरा सपना है कि आज से पांच साल बाद जब हम यहां आए और अपने फोन को देखे, तो उस पर मेड इन मंदसौर लिखा होना चाहिए. यह काम नरेंद्र मोदी और शिवराज सिंह चौहान नहीं कर सकते. यह काम कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया कर सकते हैं और निश्चित रूप से करके दिखाएंगे. राहुल ने कहा कि हम खोखले वायदे नहीं करेंगे. मैं यहां यह नहीं कहूंगा कि आप सबकी जेब में 15 लाख रूपए डाल दूंगा. जो इस मंच से कहूंगा करके दिखाउंगा. अगर आप झूठ सुनना चाहते हैं, तो यहां अपना टाइम जाया कर रहे हैं. यहां हम केवल सच्चाई कहेंगे. क्योंकि हम आपका आदर करते हैं. यहां हम अपनी मन की बात नहीं कहेंगे. आप के मन की बात सुनेंगे.

Leave a comment