राज्य

यूपी पीसीएस परीक्षा में बड़ा बदलाव, अब 200 की जगह 100 अंक का होगा इंटरव्यू

यूपी पीसीएस परीक्षा में बड़ा बदलाव, अब 200 की जगह 100 अंक का होगा इंटरव्यू

लखनऊ। सीएम योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में आयोजित हुई कैबिनेट मीटिंग में आज कई महत्वपूर्ण प्रस्तावों पर मुहर लगी। सरकार ने जहां शाहजहांपुर में नगर निगम बनाने का फैसला किया वहीं नोएडा के अंदर पोस्ट ग्रेजुएट बाल चिकित्सालय के निर्माण पर सरकार ने मुहर लगाई। साथ ही सरकार ने उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग की परीक्षा पद्धति और पाठ्यक्रम में भी बदलाव सहित कुल आठ प्रस्तावों पर मुहर लगाई।

सरकार के प्रवक्ता सिद्धार्थनाथ सिंह ने बताया कि कैबिनेट ने पीसीएस परीक्षा में महत्वपूर्ण बदलाव को मंजूरी देकर अब साक्षात्कार की वैल्यू कम कर दी है। 2013 में केंद्र सरकार के सिविल सर्विसेज में इंटरव्यू का अंक घटा था। उसी तर्ज पर यह फैसला किया गया है। इसके लिए बनाई गई कमेटियों ने सुझाव दिया था कि इंटरव्यू का अंक कम किया जाए। 

उन्होंने कहा कि हर जगह अब लिखित परीक्षा को प्राथमिकता दी जा रही है। इसलिए अब इंटरव्यू 200 की जगह 100 अंक का किया गया है। कुल परीक्षा 1600 अंकों की होगी, जिसमें 1500 अंक की लिखित परीक्षा होगी। हिंदी और निबंध के 150-150 अंक रहेंगे, जबकि सामान्य अध्ययन के 200-200 अंक के दो प्रश्नपत्रों की जगह अब 200-200 अंक के चार प्रश्न पत्र होंगे।
शाहजहांपुर में बनेगा नगर निगम
राज्य सरकार नगर पालिका परिषद शाहजहांपुर में नगर निगम बनाने का फैसला हुआ है। शाहजहांपुर नगर निगम में रोजा और आसपास के 14 सीमावर्ती इलाकों को शामिल किया गया। 

पशु बधिया के लेवी को खत्म किया गया 
सरकार ने पशुधन को लेकर बड़ा फैसला लिया है, जिसमें बधिया के लेवी को खत्म किया गया इसके जरिये नस्ल सुधार करने की कोशिश है। पशुओं की संख्या ज्यादा है, लेकिन दूध कम है इसलिए नर पशुओं के बधिया करण को अनिवार्य किया गया। इसके लिए 10 बड़े पशुओं से और छोटे पशुओं से 5 रुपये लिया जाता रहा है।

पंडित दीनदयाल खादी विपड़न विकास योजना लागू 
पंडित दीनदयाल खादी विपड़न विकास योजना लागू की गई जिसके अंतर्गत त्रैमासिक आधार पर दावे मिलेगे, अब संस्थाओं द्वारा त्रैमासिक भुगतान किया जाएगा। इसके साथ ही बुंदेलखंड के लिए कृषि पैकेज की घोषणा भी की गई। 

खरीफ की फसलों के लिए अनुदान देगी सरकार
योगी सरकार ने बुंदेलखंड क्षेत्र में खरीफ फसल के वृद्धि के लिए राज्य सरकार द्वारा अनुदान देने का फैसला लिया है। धान, दलहनी और तिलहनी फसलों को 2018 से 2021 तक प्रमाणित बीजो को 80 प्रतिशत अनुदान दिया जाएगा। मक्का, कपास, सांवा, कोदो जैसी फसलों के लिए भी सरकार ने विशेष अनुदान दिया है।

कृषि यंत्र में मिलेगी भारी छूट
प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के तहत एक से अधिक खेत तालाब दिया जाएगा। कृषि के क्षेत्र में बुंदेलखंड को पैकेज दिया है। खरीफ के फसलों का प्रमोशन बढ़ेगा। सात हजार हेक्टेयर खरीफ फसलों का विस्तार किया जाएगा। खेत तालाब योजना को बढ़ाकर 5 हजार करने की योजना है। कृषि यंत्र पर आठ लाख तक की छूट दी जाएगी।

स्वास्थ्य के क्षेत्र में लिया गया अहम फैसला
मेडिकल कॉलेज एसआरएन कॉलेज में छात्रवास है जिसे ध्वस्त करके यहां पर बाल चिकित्सालय बनाया जाएगा। नोयडा के अंदर पोस्ट ग्रेजुएट स्पेशियलिटी बाल चिकित्सालय 38 सेक्टर में है इसमें निदेशक का रिटायर्मेंट उम्र 70 साल किया जा रहा है। साथ ही वे एक जगह पांच साल से ज्यादा नहीं रह स

Leave a comment