राज्य

ग्राउंड रिपोर्ट तैयार करने के लिए उपमुख्यमंत्री के नेतृत्व में भाजपा की टीमें जुटीं

ग्राउंड रिपोर्ट तैयार करने के लिए उपमुख्यमंत्री के नेतृत्व में भाजपा की टीमें जुटीं

पटनाः आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर बिहार में राजनीतिक पार्टियां जोरों-शोरों से तैयारियों में जुटी हैं। पक्ष और विपक्ष कोई भी पार्टी चुनाव में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ने वाले हैं। इधर, भाजपा ने भी अपनी चुनावी रणनीति पर काम करना शुरू कर दिया है। हिन्दुस्तान के मुताबिक, उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष डॉ संजय जायसवाल सहित पार्टी के दर्जनों नेताओं ने मंगलवार से बिहार के हर विधानसभा क्षेत्र में दौरा शुरू कर दिया है। भाजपा के सभी नेता जमीनी स्तर पर पार्टी की वास्तविक स्थिति का आकलन करेंगे। 

जानकारी के मुताबिक नेताओं को ये काम सौंपा गया है कि वह हर विधानसभा में जाकर पता करेंगे कि किस पार्टी की स्थिति कैसी है। एनडीए के साथ महागठबंधन की क्या स्थिति है। अगर एनडीए की स्थिति बेहतर है तो कौन सा प्रत्याशी किस दल के लिए उपयुक्त होगा, इसका भी आकलन पार्टी नेता करेंगे। पिछले चुनाव को देखते हुए पार्टी के प्रदर्शन का भी लेखा-जोखा किया जाएगा। साथ ही यह भी देखा जाएगा कि अगर मौजूदा विधायक हैं तो क्षेत्र में उनका कामकाज पिछले 5 सालों में कैसा रहा है और उनकी जनता के बीच क्षेत्र में छवि कैसी है।

बहरहाल, सिर्फ 5 दिनों तक ही भाजपा ने यह विशेष अभियान चलाया है। उसके बाद पाटी देखेगी कि भाजपा की ग्राउंड लेवल पर क्या स्थिति है। भविष्य में चुनाव में होने वाले सीट बंटवारे से लेकर प्रत्याशियों के चयन तक, यह दौरा काफी उपयोगी साबित होने वाला है। 

भाजपा ने इसके लिए 23 टीमों का गठन किया है। सभी टीमों में कम से कम 2 और अधिकतम 3 सदस्य रखे गए हैं। सभी टीमों को कम से कम 8 और ज्यादा से ज्यादा 14 विधानसभा सीटों की रिपोर्ट लाने की जिम्मेदारी दी गई है। टीम के नेताओं का काम है कि वो क्षेत्र के गणमान्य व्यक्तियों से लेकर स्थानीय नागरिकों से बात कर रिपोर्ट तैयार करें। 

Leave a comment