ज्योतिष

सप्तमी में राजराजेश्वरी मन्दिर में उमड़ा भक्तों का सैलाब।

सप्तमी में राजराजेश्वरी मन्दिर में उमड़ा भक्तों का सैलाब।

 

जगद्गुरु शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानन्द सरस्वती महाराज के आश्रम रायपुर में स्थापित भगवती राजराजेश्वरी मन्दिर में चैत्र नवरात्रि के सातवें दिन उमड़ा भक्तों का सैलाब। भक्तों ने आश्रम प्रमुख व प्रख्यात ज्योतिषाचार्य (फलित) डॉ इंदुभवानंद महाराज से दिन एवं रात्रिकालीन महा निशा पूजन के सम्बंध में जाना और उपस्थित भक्तों ने ज्योत के साथ ज्वारा का भी दर्शन किये। आज महा सप्तमी में भगवती राजराजेश्वरी का माँ कालरात्रि के रूप में विशेष पूजन सम्पन्न होगा जिसमें भगवती को 1008 कमल पुष्प के अलावा किसमिस से अर्चन किया जाएगा। ब्रह्मचारी डॉ इंदुभवानन्द ने बताया कि आज से नवमी तिथि तक देवी की शक्ति अपने उच्च स्तर पर होता है और इस समय भक्तों को दिल से देवी माँ का आह्वान के साथ साथ दुर्गा स्त्रोत, दुर्गा मंत्र, गुरु मंत्र का निरंतर जाप अवश्य करना चाहिए। रात्रिकालीन निशा पूजन हेतु सुमिता ब्रह्मा, एमएल पांडेय, ज्योति नायर, पंकज वर्मा, रमेश अग्रवाल, वीरेंद्र गोयल, मठ के पुरोहित रामकुमार शर्मा, सोनू चंद्राकर, मनीष शर्मा, एलपी वर्मा व आदि भक्त उपस्थित हुए और महा निशा पूजन पश्चात पुष्पांजलि अर्पित कर महा आरती किये। आचार्य धर्मेन्द्र ने सभी को शांति जल के साथ माता के चरणों के जल प्रदान किये।

 

 

Leave a comment