ज्योतिष

 आज का पंचांग चौघडिया राशिफल  आपका दिन शुभ मंगलमय हो

आज का पंचांग चौघडिया राशिफल आपका दिन शुभ मंगलमय हो

●●ऊँ●● ●★● *सुप्रभात* ::::::::------- ●★● *आज का पंचांग*::::---- ★आपका दिन शुभ मंगलमय हो.★ ==================== ●कलियुगाब्द................5120 ●विक्रम संवत्..............2075 ●शक संवत्.................1940 ●मास...........................ज्येष्ठ ●पक्ष...........................शुक्ल ●तिथी....................प्रतिपदा रात्रि 09.41 पर्यंत पश्चात द्वितीया ●रवि.....................उत्तरायण ●सूर्योदय...........05.45.54 पर ●सूर्यास्त...........07.08.36 पर ●सूर्य राशि..................वृषभ ●चन्द्र राशि.................मिथुन ●नक्षत्र......................मृगशिरा दोप 02.02 पर्यंत पश्चात आर्द्रा ●योग.............................गंड रात्रि 01.18 पर्यंत पश्चात वृद्धि ●करण....................किस्तुघन प्रातः 11.27 पर्यंत पश्चात बव ●ऋतु........................ग्रीष्म ●दिन.........................गुरुवार ==================== ★★ *आंग्ल मतानुसार* :- 14 जून सन 2018 ईस्वी । ==================== ★★ *राहुकाल* :- दोपहर 02.07 से 03.47 तक । ==================== ★★ *दिशाशूल* :- दक्षिणदिशा - यदि आवश्यक हो तो दही या जीरा का सेवन कर यात्रा प्रारंभ करें । ==================== ★ शुभ अंक.................5 ★ शुभ रंग................पीला ==================== ★★ *चौघडिया* :- प्रात: 05.44 से 07.25 तक शुभ प्रात: 10.45 से 12.26 तक चंचल दोप. 12.26 से 02.06 तक लाभ सायं 05.27 से 07.07 तक शुभ सायं 07.07 से 08.27 तक अमृत रात्रि 08.27 से 09.47 तक चंचल | ==================== ★★ *आज का मंत्र* :- || ॐ परमात्मने नमः || ==================== ★★ *सुभाषितम्* :- तिष्ठेत् लोको विना सूर्यं सस्यमं वा सलिलं विना । न हि रामं विना देहे तिष्ठेत् तु मम जीवितम् ॥ ◆ *अर्थात :- कैकेयी जब राजा दशरथ से श्रीराम को वनवास भेजनेका वर मांगती है तब राजा दशरथ कहते है की हो सकता है के सूर्य के बिना सॄष्टी टीकी रहे या पानी के बिना धान्य विकसीत हो । पर श्रीराम के बिना इस देह में प्रााण रहना असंभव है । भविष्य में राजा दशरथ की यह बात सिद्ध हुई ।* ==================== ★★ *आरोग्यं* :- ◆◆ *आंवला के औषधीय अनुप्रयोग :-* ◆ 1. श्वेत प्रदर : आंवले के बीजों को जल में पिस ठंडाई की तरह छानकर शक्कर और शहद मिलकर पिने से 4-6 दिन में श्वेत प्रदर का शमन होता है | ◆ 2. मुखशोष : ज्वारवस्था में मुहं सूखने और तृषा की शांति ण होने पर आंवले और मुनक्का को पिस कर चटनी बनाकर चटावे | ◆ 3. मूत्रकृच्छ : आंवले का स्वरस और ईख का तुरंत निकाला हुआ रस, दोनों मिलकर या केवल आंवले का रस में शहद मिलकर पिलाने से शारीर की गर्मी ख़त्म होती है | ==================== ★★ *राशिफल* :- ★ *मेष :-* प्रतिष्ठा व पराक्रम में वृद्धि होगी। कार्यसिद्धि से प्रसन्नता रहेगी। आय के स्रोत मिलेंगे। विरोध होगा। ★ *वृष :-* मेहमानों का आगमन होगा। शुभ समाचार प्राप्त होंगे। सुख के साधन जुटेंगे। प्रतिद्वंद्वी सक्रिय रहेंगे। ★ *मिथुन :-* राजभय रहेगा। वाणी में संयम रखें। जल्दबाजी न करें। अप्रत्याशित लाभ हो सकता है। यात्रा व नौकरी फलदायी रहेंगे। ★ *कर्क :-* प्रेम-प्रसंग में जोखिम न लें। अप्रत्याशित खर्च होंगे। लेनदेन में सावधानी रखें। झंझटों में न पड़ें। ★ *सिंह :-* रुका हुआ धन मिल सकता है। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। धनार्जन होगा। चिंता बनी रहेगी। ★ *कन्या :-* प्रतिद्वंद्वी सक्रिय रहेंगे। नई योजना बनेगी। कार्य का विस्तार होगा। मान-सम्मान मिलेगा। जोखिम न लें। ★ *तुला :-* शारीरिक कष्ट संभव है। मित्रों से मेल बढ़ेगा। कोर्ट व कचहरी में अनुकूलता रहेगी। धन प्राप्ति सुगम होगी। ★ *वृश्चिक :-* जीवनसाथी के स्वास्थ्य की चिंता रहेगी। वाहन व मशीनरी के प्रयोग में सावधानी रखें। विवाद से बचें। ★ *धनु :-* शत्रु परास्त होंगे। लाभ के अवसर बढ़ेंगे। प्रेम-प्रसंग में अनुकूलता रहेगी। कानूनी बाधा दूर होगी। ★ *मकर :-* उत्तेजना पर नियंत्रण रखें। शत्रु भय रहेगा। घर-परिवार की चिंता रहेगी। संपत्ति के कार्य लाभ देंगे। ★ *कुंभ :-* पार्टी व पिकनिक का आनंद मिलेगा। विद्यार्थी वर्ग सफलता हासिल करेगा। स्वास्थ्य कमजोर रहेगा। ★ *मीन :-* भागदौड़ रहेगी। लाभ के अवसर टलेंगे। शोक समाचार मिल सकता है। वाणी पर नियंत्रण रखें। ***************[जय गुरुदेव]

Leave a comment