ज्योतिष

आपका दिन शुभ मंगलमय हो आज का पंचांग ,चौघडिया ,आरोग्यं ,राशिफल

आपका दिन शुभ मंगलमय हो आज का पंचांग ,चौघडिया ,आरोग्यं ,राशिफल

 ●●ऊँ●● 
●★● *सुप्रभात*:::::::------
 ●★● *आज का पंचांग* :::--- 
★आपका दिन शुभ मंगलमय हो.★
 ==================== 
●कलियुगाब्द..............5120 ●
विक्रम संवत्............2075 ●
शक संवत्...............1940 
◆मास.........................ज्येष्ठ 
●पक्ष..........................कृष्ण 
●तिथी.....................सप्तमी प्रातः 11.12 पर्यंत पश्चात अष्टमी
 ●रवि....................उत्तरायण 
●सूर्योदय.........05.45.16 पर 
●सूर्यास्त..........07.05.36 पर
 ●सूर्य राशि..................वृषभ 
●चन्द्र राशि..................कुम्भ
 ●नक्षत्र...................शतभिषा रात्रि 08.07 पर्यंत पश्चात पूर्वाभाद्रपद 
●योग......................विष्कुम्भ रात्रि 11.10 पर्यंत पश्चात प्रीती
 ●करण..........................बव प्रातः 11.12 पर्यंत पश्चात बालव 
●ऋतु..........................ग्रीष्म 
●दिन........................बुधवार 
==================== ★
★ *आंग्ल मतानुसार* :- 06 जून सन 2018 ईस्वी । 
==================== ★
★ *राहुकाल* :- दोपहर 12.25 से 02.05 तक 
। ==================== ★
★ *दिशाशूल* :- उत्तरदिशा - यदि आवश्यक हो तो तिल का सेवन कर यात्रा प्रारंभ करें। ==================== ★
 शुभ अंक...............6 
★ शुभ रंग...............हरा
 ==================== ★
★ *चौघडिया :-* प्रात: 05.44 से 07.24 तक लाभ प्रात: 07.24 से 09.04 तक अमृत प्रात: 10.44 से 12.24 तक शुभ अप. 03.44 से 05.24 तक चंचल सायं 05.24 से 07.04 तक लाभ रात्रि 08.24 से 09.44 तक शुभ 
==================== ★
★ *आज का मंत्र* :- ।।ॐ महादेवाय नम: ।।
 ==================== ★
★ *सुभाषितम्* :- श्रिय: प्रसूते विपद: रुणद्धि, यशांसि दुग्धे मलिनं प्रमार्ष्टि । संस्कार सौधेन परं पुनीते, शुद्धा हि बुद्धि: किलकामधेनु: ॥
 ◆अर्थात :- शुद्ध बुद्धि निश्चय ही कामधेनु जैसी है क्योंकि वह धन-धान्य पैदा करती है; आने वाली आफतों से बचाती है; यश और कीर्ति रूपी दूध से मलिनता को धो डालती है; और दूसरों को अपने पवित्र संस्कारों से पवित्र करती है। इस तरह विद्या सभी गुणों से परिपूर्ण है।
 ==================== ★
★ *आरोग्यं* :- ◆◆ *लिवर का रामबाण इलाज -* 
◆ *1. पालक और गाजर का रस -* पालक खाने से आपके स्वास्थ्य को बहुत् फायदे मिलते हैं। लेकिन आपको जानकार हैरानी होगी कि अधिक मात्रा में पालक खाने से आपके स्वास्थ्य पर बुरा असर भी पड़ सकता है। पालक और गाजर के रस का एक मिश्रण लिवर सिरोसिस के लिए एक उत्कृष्ट उपाय है। पालक और गाजर के रस को बराबर भाग में मिलाएं। लीवर के उपचार के लिए प्रतिदिन कम से कम एक बार इसका रस जरूर पीजिए।
 ◆ *2. आंवला -* आंवला को सुपर फूड का दर्जा मिला है। इस छोटे से फल में कई ऐसे चमत्कादरिक गुण है, जो शरीर के लिए बेहद फायदेमंद हैं। यह न सिर्फ हमारे शरीर की इम्यू निटी बढ़ाता है बल्किय कई रोगों को जड़ से भी खत्म करता है। इसमें विटामिन सी, विटामिन एबी कॉम्ले्म क्सू, कैलशियम, पोटैशियम, मैग्नीशशियम, कार्बोहाइड्रेट, आयरन और फाइबर पाए जाते हैं। अगर अपने लिवर को सेहतमंद रखना चाहते हैं, तो आप आंवले का सेवन करना शुरू कर दीजिए। आमला लिवर को सुरक्षा प्रदान करता हैं और विटामिन सी का एक समृद्ध स्रोत है, जो लिवर के फंक्शन को बेहतर करता है। ====================
 ★★ *राशिफल :-* ★ 
*मेष* :- यात्रा, निवेश व नौकरी में अनुकूलता रहेगी। बकाया वसूली होगी। विवाद को बढ़ावा न दें। 
★ *वृष* :- योजना फलीभूत होगी। कार्यपद्धति में सुधार होगा। आय में वृद्धि होगी। नए अनुबंध हो सकते हैं।
 ★ *मिथुन* :- पूजा-पाठ में मन लगेगा। कानूनी अड़चन दूर होकर लाभ की स्थिति बनेगी। प्रेम-प्रसंग में अनुकूलता रहेगी।
 ★ *कर्क* :- वाहन व मशीनरी के प्रयोग में सावधानी रखें। जोखिम न लें। पुराना रोग उभर सकता है। विवाद न करें।
 ★ *सिंह* :- वैवाहिक प्रस्ताव मिल सकता है। कानूनी अड़चन दूर होगी। प्रतिद्वंद्वी शांत रहेंगे। लाभ होगा। 
★ *कन्या* :- परीक्षा व साक्षात्कार आदि में सफलता मिलेगी। संपत्ति के कार्य लाभ देंगे। प्रमाद न करें। 
★ *तुला* :- रचनात्मक कार्य सफल रहेंगे। स्वादिष्ट भोजन का आनंद मिलेगा। व्यस्तता रहेगी। आय में वृद्धि होगी। 
★ *वृश्चिक* :- दुखद समाचार मिल सकता है, धीरज रखें। वाणी पर नियंत्रण रखें। भागदौड़ रहेगी। आय में कमी होगी।
 ★ *धनु* :- मेहनत का फल मिलेगा। कार्य की प्रशंसा होगी। व्यवसाय ठीक चलेगा। जल्दबाजी न करे। थकान रहेगी। 
★ *मकर* :- मेहमानों का आवागमन रहेगा। उत्साहवर्धक सूचना मिलेगी। क्रोध पर नियंत्रण रखें। प्रसन्नता रहेगी। 
★ *कुंभ* :- भेंट व उपहार की प्राप्ति होगी। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। रोजगार में वृद्धि होगी। प्रमाद न करें। 
★ *मीन* :- विवाद को बढ़ावा न दें। कुसंगति से हानि होगी। व्ययवृद्धि होगी। अपेक्षित कार्यो में बाधा होगी। 
***********[श्री गणेशाय नमः]

Leave a comment