राजनीति

राज्य मे सत्ता परिवर्तन मे अहम भुमिका निभाने वाले किसान संघ के लोकसभा चुनाव मे उतरने के बाद कांग्रेस और भाजपा दोनो दलो मे बेचैनी

राज्य मे सत्ता परिवर्तन मे अहम भुमिका निभाने वाले किसान संघ के लोकसभा चुनाव मे उतरने के बाद कांग्रेस और भाजपा दोनो दलो मे बेचैनी

सूर्यकान्त यादव @ BBN24   छत्तीसगढ मे किसान आन्दोलन के माध्यम से पिछली प्रदेश की भाजपा (रमन सिंह) सरकार के खिलाफ माहौल बनकर राज्य मे सत्ता परिवर्तन मे अहम भुमिका निभाने वाले किसान संघ के लोक सभा चुनाव मे उतरने के बाद कांग्रेस और भाजपा दोनो दलो मे बेचैनी पैदा कर दी है....लोकसभा चुनाव मे किसान संघ मैदान मे उतरेगा और उनका समर्थन करे लेकिन कांग्रेस सहित किसी भी दल ने उनकी बात को तवज्जो नही दी.....किसान संघ के प्रत्याशी के रूप मे सुदेश चीकम ने कहा कि बडे राजनीतिक दलो ने चुनाव को इतना महगा कर दिया है,कि बिना कार्पोरेट के सहयोग के चुनाव नही लडा जा सकता...ऐसे मे यह संदेश भी देना चाहते है,कि आम मतदाता सिर्फ वोट देने तक सिमीत नही रहेवे सामने आकर इस कार्पोरेट कलचर को खत्म करने का भी काम करे...वही जिला किसान संघ के प्रत्याशी सुदेश टीकम राजनांदगाँव जिले मे किसान आन्दलन के जनक या बडे नेता माने जाते है..जिससे उनके लोकसभा चुनाव के मैदान मे आने से भाजपा कांग्रेस की मुश्किले बड सकती है...और सुदेश टीकम किसानो के वोट को प्रभावित करेगे ...जिससे ये दोनो बडी पार्टी के गणित फेल हो सकते है..

Leave a comment