राजनीति

महँगाई अब आम लोगो के लिये मजबूरी बन गई है, चारो तरफ महँगाई ने हाहाकार मचा रखा है इसे कम करने में केंद्र की मोदी सरकार नाकाम हो चुकी है- सुशील शर्मा

महँगाई अब आम लोगो के लिये मजबूरी बन गई है, चारो तरफ महँगाई ने हाहाकार मचा रखा है इसे कम करने में केंद्र की मोदी सरकार नाकाम हो चुकी है- सुशील शर्मा

भाटापारा :- नरेंद्र मोदी सरकार के सात साल पूरे होने पर प्रदेश कांग्रेस सचिव सुशील शर्मा ने आज वर्चुअल प्रेस वार्ता में कहा कि नरेंद्र मोदी भारत देश में जितने भी प्रधानमंत्री बने उसमे सबसे असफल प्रधानमंत्री साबित हुये है,मोदी ने वादा किया था कि विदेशी काला धन वापस लाया जायेगा जिसको देश की जनता को बांटने पर प्रति व्यक्ति को 15 -15 लाख रुपिया मिलेगा किन्तु आज तक नही बताया गया कि विदेशो से कितना काला धन आया है और न ही किसी व्यक्ति को 15 लाख रुपिया मिला है,नोटबन्दी लागू कर देश की जनता को बताया गया कि इस कदम से काला धन बाहर आयेगा, आतंकवाद पर लगाम लगेगा,नक्सली समस्या समाप्त होगी,किन्तु आज नक्सली और आतंकवाद चरम सीमा पर है,गरीबो की मेहनत और पसीने की कमाई लूट ली गई,हजारों लोगों का रोजगार छीन लिया गया,सैकड़ो लोग घर से बे घर हो गये और देश आर्थिक मंदी की चपेट में आ गया चारो तरफ महँगाई ही महँगाई छा गई,पेट्रोल और डीजल के दाम आसमान छूने लगे,किसानी कार्य मे उपयोगी खाद,और दवाईयों की कीमत में उछाल आ गई,जीवन बचाने वाली दवाइयों और उपकरणों पर जी एस टी लगा दिया गया। सुशील शर्मा ने आगे कहा कि महँगाई अब आम लोगो के लिये मजबूरी बन गई है, चारो तरफ महँगाई ने हाहाकार मचा रखा है इसे कम करने में केंद्र की मोदी सरकार नाकाम हो चुकी है,देश मे कोविड़-19 संक्रमण जैसे महामारी के आने पर इसे रोकने के लिये कोई योजना या रणनीति नही बनाई गई तथा देश की जनता से ताली,थाली,शंख,घंटी बजवाया,दिये जलवाए बिना मतलब लॉक डाउन कराया गया और जब संक्रमण पूरी तरह फैल गया तब राज्य सरकार के ऊपर छोड़ दिया गया,वैक्सीन के बारे में एक तरफ राज्य सरकार को खरीदने की छूट देते हुये महंगे दामो पर उपलब्ध कराई गई तो दूसरी तरफ वैक्सीन निर्माण कम्पनियो को निर्देश जारी कर कहा गया कि किस राज्य को कितना देना है हम तय करेंगे,आज वैक्सीन ,आक्सीजन,वेंटिलेशन की कमी के लिये पूरी तरह केंद्र सरकार ही जिम्मेदार है।हजारो लोगो की जान इस महामारी में चली गई,किसान,मज़दूर, बेरोजगार युवक रोजगार के लिये परेशान है फिर भी भा जा पा के नेता मोदी को महान बता कर उनका गुणगान कर जनता के आंखों में धूल झोंक रहे है,इस तरह भा जा पा अपना दोहरा चरित्र प्रदर्शित कर रही है,मोदी के सात वर्षों के कार्यकाल में देश की जनता बेहाल हो चुकी है,तीन काले कानून लाकर किसानों का गला घोंट दिया है अमीरों को जागीरदार बना रही है और किसानों को गुलामी की ओर ले जा रही है, इस कानून से देश से किसान और उसकी जमीन दोनो समाप्ति के कगार पर आ जायेगी। अंत मे सुशील शर्मा ने कहा कि भाजपा सिर्फ नये भारत निर्माण की बात करती है स्मार्ट सिटी के नाम पर अरबो रुपियो का घोटाला कर योजना को धराशायी कर दिया,देश के प्रमुख रेलवे स्टेसन,हवाई अड्डों और बंदरगाह को अडानी और अम्बानी के हाथों बेचे जा रहे है,पूरे देश वासियों के साथ झूठ,फरेब और छलावे की राजनीति कर जनता को गुमराह प्रधानमंत्री कर रहे है,जमुले बाज़ी करने वाली भा जा पा पार्टी के नेताओ का काम ही जुमले का है जो कहते है ओ करते नही बस कांग्रेस ने क्या किया कहकर एक एक सार्वजनिक क्षेत्र को बेचने में लगे है।ऐसे प्रधानमंत्री का कार्यकाल और प्रधानमंत्री पूरी तरह असफल है।

Leave a comment