राजनीति

विरोध करने वाले भाजपा नेताओं ने पहले अपना धान बेचा और अब दिखावे का विरोध कर रहे है- विक्रम शाह मंडावी

विरोध करने वाले भाजपा नेताओं ने पहले अपना धान बेचा और अब दिखावे का विरोध कर रहे है- विक्रम शाह मंडावी

बीजापुर - छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देशानुसार शुक्रवार को ज़िला कांग्रेस कमेटी बीजापुर के द्वारा विशेष प्रेस वार्ता का आयोजन किया गया जिसमें प्रेस से चर्चा करते हुए बस्तर क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष एवं बीजापुर के विधायक ने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा की मोदी सरकार प्रदेश सरकार से लगातार सौतेला व्यवहार कर रही है चाहे बरदाने की आपूर्ति की बात हो फिर किसानों से सम्बंधित कोई और हमेशा से मोदी सरकार और भाजपा के लोगों ने प्रदेश के किसानों से सौतेला व्यवहार ही किया है जबकि प्रदेश की जनता ने केंद्र में प्रदेश के हित की बात करने के लिए भाजपा को प्रदेश ने नौ सांसद दिए है पर आज तक प्रदेश हित में किसी भी सांसद ने संसद में या फिर केंद्र सरकार से एक भी ऐसी बात नहीं रखी जिससे प्रदेश की जनता को लाभ हो, केंद्र की मोदी सरकार के लगातार सौतेला रवैए के बावजूद प्रदेश की भूपेश सरकार ने बिना किसी दबाव के आज पर्यंत तक पिछले वर्षों की अपेक्षा अधिक धान की ख़रीदी कर रही है। विवादित काले क़ानूनों को लेकर बस्तर क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष और बीजापुर के विधायक ने भाजपा और मोदी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा की देश में जब से मोदी सरकार आई है तब से लगातार किसान विरोधी क़ानून ला रहे है मोदी सरकार के पिछले कार्यकाल में अपने व्यापारिक मित्रों को लाभ पहुँचाने के लिए किसान विरोधी भूमि अधिग्रहण क़ानून लाई थी जिसका कांग्रेस पार्टी ने पुरज़ोर विरोध किया था जिसके फलस्वरूप मोदी सरकार को मजबूरन भूमि अधिग्रहण क़ानून को वापस लेना पड़ा अब फिर उसी रास्ते पर चलते हुए मोदी सरकार ने अपने व्यापारिक मित्रों को लाभ पहुँचाने के लिए विवादित तीन काले क़ानूनों को लाई है जिसका पूरे देश में विरोध है और देश के किसान आज सड़कों पर है और कई किसानों ने तीन काले क़ानूनों के विरोध करते करते अपने प्रणों तक की आहुति दे रहे है लेकिन भाजपा के सांसद इस पर भी राजनीतिक रोटियाँ सेंक रहे है। जबकि प्रदेश के भाजपा सांसदों को मोदी सरकार से माँग करनी चाहिए कि किसान हित में इन तीन काले क़ानूनों को पूरी तरह वापस ले। भाजपा और मोदी सरकार चाहती ही नहीं की किसानों की आय दुगुनी हो बल्कि भाजपा और मोदी सरकार की हमेशा से ये कोशिश रही है की किसी भी तरह देश के किसानों की ज़मीन को छीनकर मोदी सरकार के कुछ चुनिंदा व्यापारिक मित्रों को दिया जाय अब देश और प्रदेश का किसान जाग गया है अब मोदी सरकार और भाजपा के किसी भी जुमले में आने वाले नहीं है। प्रेस से चर्चा में विक्रम शाह मंडावी ने आगे कहा की भाजपा के लोग एक तरफ़ तो धान ख़रीदी का विरोध कर रहे है वहीं दूसरी तरफ़ धान के समर्थन मूल्य का लाभ ले रहे है भाजपा का ये कैसा विरोध ? भाजपा ने हमेशा से किसानों का अपमान ही किया है जिसका सबसे बड़ा उदाहरण किसान सम्मान निधि है जिसके नाम पर भाजपा और मोदी सरकार ने किसानों का अपमान करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रही है। इसके विपरीत कांग्रेस की भूपेश सरकार ने अपने दो वर्षों के कार्यकाल में किसानों से किए गए हर वादे को पूरी की है चाहे धान का समर्थन मूल्य 2500 देने की बात हो या फिर क़र्ज़ माफ़ी की बात हो भूपेश सरकार हर वो वादा पूरा करी है जो वादे किसानों से की गई थी। आगे विक्रम शाह मंडावी ने कहा कि भाजपा ने 2014 के घोषणा पत्र में किसानों को फसल के लागत एवं समर्थन मूल्य पर 50 प्रतिशत का वायदा किया था उसे आज तक पूरा नहीं किया गया। प्रदेश में भाजपा के 15 सालों में छत्तीसगढ़ में किसानों से एक एक दाना ख़रीदने का वादा, 5 हार्सपावर पम्पों को मुफ़्त बिजली, 2100 रुपए में धान का समर्थन मूल्य, 300 रुपए बोनस देने के वादे से पूरी तरह मुखर गई यहाँ तक की किसान आत्म हत्याओं पर भी भाजपा सरकार शून्य बनी रही और लगातार किसानों से पंद्रह सालों तक छल करती रही। वही स्थिति केंद्र की मोदी सरकार की है मोदी सरकार ने किसानों की आय दुगुनी करने का वादा किया पर आज तक इस पर कोई रोड मेप नहीं है स्वामिनाथन कमेटी लागू नहीं कर उसके मापदण्ड को ही बदल डाला और तीन किसान क़ानून जिसमें किसान क़ानून -1 प्राइवेट मंडी, किसान क़ानून -2 कॉंटेक्टफ़ार्मिंग, किसान क़ानून -3 बड़े जमाख़ोरों और बड़े मुनाफ़ाखीरों को खुली छूट देने की कोशिश मोदी सरकार और भाजपा लगातार कर रही है। जिसका पूरे देश में विरोध हो रहा है आने वाले दिनों में भाजपा और केंद्र की मोदी सरकार के किसान विरोधी रवैए का कांग्रेस लगातार विरोध करेगी। आज के प्रेस वार्ता में ज़िला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष लालू राठौर प्रदेश कांग्रेस सचिव अजय सिंह, ज़िला पंचायत अध्यक्ष शंकर कुड़ियाम, बस्तर क्षेत्र आधिवासी विकास प्राधिकरण की सदस्य एवं ज़िला पंचायत सदस्य श्रीमती नीना रावतिया उद्दे के अलावा बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Leave a comment