छत्तीसगढ़

स्कूल की बाउंड्री वॉल के अंदर, सरकारी जमीन पर कई ग्रामीणों ने बसा दिया घर ....

स्कूल की बाउंड्री वॉल के अंदर, सरकारी जमीन पर कई ग्रामीणों ने बसा दिया घर ....

शनि यादव@मस्तूरी : जनपद पंचायत से महज 6 किलोमीटर दूर ग्राम पंचायत बेलटुकरी मे पंचायत के जनप्रतिनिधियों की घोर लापरवाही सामने आई है जहां स्कूल की बाउंड्री वॉल के अंदर की सरकारी जमीन पर कई ग्रामीणों की घर बसा दिया गया है। एक तरफ जहां स्कूल की बाउंड्रीवाल को बेजा कब्जा के वजह से पूरा नहीं किया जा सकता जिसकी वजह से आए दिन स्कूल के सामने जानवर घुस जाते हैं और बच्चों के खेलने की जगह को जानवर खराब कर देते हैं लगातार जानवरों के आने के वजह से स्कूल के सामने कीचड़ ही कीचड़ हो गया है । स्कूल बाउंड्री के अंदर लगे फुल फुलवारी भी जानवर नुकसान कर दिया , दूसरी तरफ समस्या यह है की जनप्रतिनिधियों के द्वारा जिन ग्रामीणों को स्कूल के बाउंड्रीवॉल के अंदर बसाया गया है या जिनका घर बनाया गया है उनके सामने बहुत बड़ी समस्या खड़ी हो गई बारिश के दिनों में अगर इनका घर टूटता है तो इनके पास रहने के लिए घर नहीं । अगर इनके घर को तोड़ भी दिया जाता है तो स्कूल की बाउंड्री वाल कंप्लीट नहीं हो पाएगी। जबकि सरपंच और गांव के जनप्रतिनिधियों को यह पहले से पता था की स्कूल की बाउंड्रीवाल होनी है इसके बावजूद इतनी बड़ी लापरवाही सरपंच और उसके जनप्रतिनिधियों के द्वारा बरती गई ।अब देखा जाए तो एक तरफ गांव के सैकड़ों विद्यार्थियों छात्र छात्राओं का भविष्य का सवाल है दूसरी तरफ गांव के उन गरीब परिवारों का समस्या बढ़ जाएगा जो वहां पर कब्जा करके बसे हुए हैं इन सब में सरपंच की और गांव के जनप्रतिनिधियों के मिलीभगत से इनकार नहीं किया जा सकता। स्कूल के बाउंड्री वॉल में कब्जा करने वाले रामेश्वर साहू परमेश्वर साहू राजकुमार साहू इन्हीं तीनों भाइयों ने स्कूल के बाउंड्री वॉल के अंदर बेजा कब्जा कर घर बना लिया है। गांव के कुछ लोगों ने उन लोगों के खिलाफ शिकायत भी की है तो उन्होंने फर्जी तरीके से बनवाए हुए जमीन का पट्टे का बहाना बना कर दिखा रहे हैं। जिस पट्टे को तहसीलदार ने खुद फर्जी साबित कर दिया है। जिसका मामला अभी भी मस्तूरी राजस्व विभाग में चल रहा है। ........................................... लखन दिनकर के कार्यकाल में यह घर बनाया गया था मेरे कार्यकाल में यह घर नहीं बनाया गया है रामेश्वर परमेश्वर राजकुमार तीनों भाइयों को मैं कई बार समझाया था कि इस घर को तोड़ दो इसमें बच्चों का भविष्य खराब हो रहा है पर वह नहीं माने रामेश्वर साहू पूर्व सरपंच। ........................................... मैंने एसडीएम कार्यालय मस्तूरी और मस्तूरी बी, ओ, ऑफिस में इस बात की सूचना लिखित में दे दिया है बेजा कब्जा धारियों का कहना है कि उनके पास 5 एकड़ का पट्टा है इसलिए केस कोर्ट में लंबित है और यह पुरा क्रियाकलाप पूर्व सरपंच के शासनकाल में हुआ है चैतराम बंजारे सरपंच बेलटुकरी पंचायत. ......................................... हमें ग्राम पंचायत से यह जानकारी मिली थी की स्कूल के बाउंड्रीवॉल के अंदर बेजा कब्जा कर घर बना लिया गया है जिसको हमने मस्तूरी दंडाधिकारी के पास भेज दिया है इसमें जो एक्शन लेना है एसडीएम साहब या तहसीलदार साहब भी ले सकते हैं सीबी टेकॉम विकास खंड शिक्षा अधिकारी मस्तूरी. ........................................... मेरे पास मामला नहीं आया है तहसीलदार के पास आया हुआ और ऐसी बात है तो उस पर एक्शन जरूर लिया जाएगा क्योंकि यह बच्चों के भविष्य का सवाल है इसका कुछ ना कुछ रास्ता जरूर निकाला जाएगा वीरेंद्र लकड़ा मस्तूरी एसडीएम. ...........................................

Leave a comment