छत्तीसगढ़

कृषि सामग्री बेचने वाले 4 दुकान निलंबित जिला स्तरीय जांच टीम की छापामार कार्रवाई

कृषि सामग्री बेचने वाले 4 दुकान निलंबित जिला स्तरीय जांच टीम की छापामार कार्रवाई

बलौदाबाजार, 8 जुलाई 2019/ कृषि विभाग की जिला स्तरीय जांच टीम ने अनियमितता के चलते 4 दुकानों के लाईसेंस निलंबित कर दिए हैं। उनका लाईसेंस तीन दिन के लिए निलंबित किया गया है। जांच टीम ने सहायक संचालक कृषि श्री एस.एस.पैकरा के नेतृत्व में कल सरसीवां-भटगांव इलाके की कृषि आदान बेचने वाले 4 दुकानों में छापामार कार्रवाई की। टीम ने सरसीवां के मेसर्स उमा कृषि केन्द्र, महामाया ट्रेडर्स (खाद) महामाया ट्रेडर्स (कीटनाशक) एवं भटगांव के विश्वनाथ साहू कृषि केन्द्र की जांच में लाईसेंस की शर्तों का उल्लंघन पाया। अनियमिता में प्रमुख रूप से दुकानों में कालातीत दवाईयां रखा जाना, किसानों को बिल नहीं दिया जाना, दवाई कम्पनियों के स्रोत प्रमाण पत्र सत्यापित नहीं कराया जाना एवं विक्रय केन्द्रों के लाईसेंस प्रदर्शित नहीं किया जाना आदि शामिल हैं। कार्रवाई में जांच टीम के सदस्य एसडीओ कृषि श्री जयइन्द्र कंवर, उर्वरक निरीक्षक श्री बी.एल.साहू तथा आरएईओ श्री सीमांचल गौड़ शामिल थे। कृषि विभाग ने खाद के 4 नमूनों के अमानक पाये जाने पर उनका विक्रय प्रतिबंधित कर दिया है। ये खाद बीईसी फर्टिलाइजर्स, खेतान केमिकल्स एण्ड फर्टिलाईजर्स लिमिटेड और नेशनल फर्टिलाईजर्स लिमिटेड कम्पनी के हैं। इनका सेम्पल सेठ हीरालाल एण्ड सन्स पलारी,तेजश्वनी ट्रेडर्स सरसीवां, डबल लाॅक कसडोल एवं प्राथमिक कृषि सोसायटी,सिमगा से लिया गया था। उप संचालक श्री मानकर ने बताया कि फिलहाल जिले में खाद के 110 तथा बीज के 130 नमूना लेकर जांच के लिए लैब भेजा गया है। अभी तक प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार 51 खाद मानक एवं 5 अमानक पाए गए हैं। बीज के 111 नमूनों के परिणाम आ गए है, जिसमें 109 मानक एवं दो बीज अमानक स्तर का पाया गया है। अमानक नमूनों पर विक्रय प्रतिबंध कर दिया गया है। उल्लेखनीय है कि खेती-किसानी के काम में तेजी आने के साथ ही खाद-बीज एवं कीटनाशक दवाईयों का कारोबार भी बढ़ गया है। इसके चलते किसानों को सही दाम एवं गुणवत्ता के खाद-बीज मिले, इसे सुनिश्चित करने के लिए कृषि विभाग द्वारा कार्रवाई का सिलसिला शुरू किया गया है।

Leave a comment