छत्तीसगढ़

मुंगेली जिले के प्रभारी मंत्री टी.एस.सिंह देव के स्वागत करने कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने सरकारी नियम की उड़ाई धज्जियां,,

मुंगेली जिले के प्रभारी मंत्री टी.एस.सिंह देव के स्वागत करने कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने सरकारी नियम की उड़ाई धज्जियां,,

 

नीलकमल सिंह ठाकुर

मुंगेली - जिले के प्रभारी मंत्री बनने के बाद टीएस सिंहदेव पहली बार मुंगेली के प्रवास पर रहे वही उनके दौरे को देखते हुए राज्य सरकार द्वारा प्रोटोकॉल जारी किया गया था लेकिन उसी प्रोटोकॉल को कांग्रेसी कार्यकर्ता तोड़ते हुए नजर आए। वही पुलिसकर्मियों को भारी मसक्कत करनी पड़ी इन कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को रोकने के लिए, प्रभारी मंत्री की स्वागत के लिए ऐसी होड़ लगी थी कि सभी कांग्रेसी कार्यकर्ता पीछे रहने को तैयार नही थे।


 आपको बता दें कि प्रभारी मंत्री टीएस सिंहदेव नगर भ्रमण करने के बाद मुंगेली सर्किट हाउस पहुंचे जहां वे विश्राम कक्ष में जा रहे थे उसी दौरान बड़ी संख्या में कांग्रेसी कार्यकर्ता उनसे मिलने के लिए विश्राम कक्ष की ओर बढ़ रहे थे। वहीं राज्य सरकार के द्वारा प्रभारी मंत्री के लिए जारी प्रोटोकॉल को देखते हुए मुंगेली पुलिस द्वारा सभी जगह सुरक्षा के चाक-चौबंद इंतजाम किए गए थे लेकिन प्रभारी मंत्री के विश्राम कक्ष में जाने के बाद कांग्रेसियों को विश्राम कक्ष तक न पहुँचे इसके लिए पुलिस को कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। आपको बता दें कि प्रोटोकॉल को ध्यान में रखते हुए मुंगेली पुलिस अधीक्षक सी डी टंडन खुद ही कांग्रेसियों को रोकने के लिए कमान की जिम्मेदारी ली। जिसके बाद पुलिस की कड़ी मशक्कत के बाद सभी कांग्रेसी कार्यकर्ता विश्राम कक्ष के गेट से बाहर किये। जिस तरह से किसी मंत्री या नेता के लिए राज्य सरकार द्वारा प्रोटोकॉल जारी होता है। उस प्रोटोकॉल को गंभीरता से लेते हुए पूर्व मंत्री और नेताओं की सुरक्षा की पूरी जिम्मेदारी पुलिस प्रशासन की रहती है लेकिन मुंगेली के कांग्रेसी कार्यकर्ताओं द्वारा जिले के प्रभारी मंत्री के प्रोटोकॉल को तोड़ते हुए देखा गया। और ये पहली बार नही हुआ है कि कांग्रेस के बड़े नेता या मंत्री आये और कांग्रेस के कार्यकर्ताओ द्वारा किसी नियम या सरकारी प्रोटोकाल का पालन किया हो। 
बहरहाल देखना यह होगा कि कांग्रेसी कार्यकर्ताओं द्वारा किए गए इस कृत्य पर प्रदेश कांग्रेस कमेटी और जिला कांग्रेस कमेटी किस तरह से एक्शन लेती है।

Leave a comment