छत्तीसगढ़

डोंगरीगढ़ में टीबी और कुष्ठ जनजागरण शिविर का हुआ आयोजन

डोंगरीगढ़ में टीबी और कुष्ठ जनजागरण शिविर का हुआ आयोजन

 

मुंगेली। पुनरीक्षित राष्ट्रीय क्षय नियंत्रण कार्यक्रम एवं कुष्ठ नियंत्रण कार्यक्रम के अन्तर्गत टीबी/लेप्रोसी जनजागरण शिविर विकासखण्ड लोरमी के बैगा ग्राम डोगरीगढ़ में आयोजित किया गया। जिले में सुदूर पहुंचविहीन बैगा ग्रामों में टीबी एवं लेप्रोसी हेतु स्वास्थ्य शिविर लगाया जाता रहा है, जिसमें संदेहास्पद मरीज पाये जाने पर उनकी उपयुक्त जांच कर चिकित्सा उपलब्ध कराई जाती है। उक्त ग्रामों में जनजागरण शिविर के लिए एक दिन पूर्व कोटवार द्वारा मुनादी की गई। स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं और मितानिनों द्वारा गांव में प्रचार-प्रसार किया गया था। इस शिविर में 59 मरीजों की जांच की गई, जिसमें संदेहास्पद टीबी मरीज 2, कुष्ठ कन्फर्म रोगी 1 (पी.बी), दाद खाज खुजली के 8, कान से संबंधित 1, आंख के 4, कमजोरी 10, सर्दी खासी 10, हाथ पैर दर्द 10 एवं 13 जनरल मरीज उपस्थित थे। टीबी के 2 संदेहास्पद मरीज पाए गए।  1 कन्फर्म कुष्ठ मरीज की दवाई चालू की गई। इस शिविर में जिला क्षय नियत्रंण अधिकारी डॉ. सुदेश रात्रे द्वारा सभी मरीजों की जांच एवं उपचार किया गया। उन्हें दवाई एवं परामर्श भी दिया गया। इसके साथ ही अतिरिक्त टीबी/कुष्ठ रोग से बचाव एवं नियंत्रण के लिए पाम्पलेट भी बांटा गया और मितानिनों को उन्मुखीकरण भी किया गया।

Leave a comment