छत्तीसगढ़

मुख्यमंत्री जनदर्शन में शिक्षाकर्मियों ने लगाई गुहार----

मुख्यमंत्री जनदर्शन में शिक्षाकर्मियों ने लगाई गुहार----

गुलाब दीवान@BBN24 : मुख्यमंत्री जनदर्शन में आठ साल से कम अवधि वाले शिक्षाकर्मियों ने पिछले तीन साल से ट्रांसफर पर लगे बैन को हटाने के लिए माननीय मुख्यमंत्री जी से जनदर्शन में गुहार लगाई।अलग अलग जिला से आये शिक्षाकर्मियों ने अपना दुखड़ा सुनाते हुए बतलाया कि पति पत्नी अलग अलग स्थान में रहकर सेवा कार्य करने में परेशानी हो रही है जिससे शिक्षक पंचायत संवर्ग आर्थिक व मानसिक रूप से बहुत परेशान है।हर वर्ष चपरासी से अधिकारियो का ट्रांसफर बैन हटता है और उनका ट्रांसफर होता है परंतु आठ साल से कम वाले शिक्षाकर्मियों को ट्रांसफर का लाभ नही मिलता ।जिससे शिक्षाकर्मी काफी दुखी है।ट्रांसफर पर लगे बैन को हटाने के लिए शिक्षक पंचायत संवर्ग श्रीमान पंचायत मंत्री,शिक्षा मंत्री,मुख्यसचिव,अपर मुख्य सचिव,सह मुख्य आयुक्त,पंचायत संचालक को कई बार अर्जी लगा चुके है लेकिन आठ साल से कम अवधि वालो का सुध लेने वाले कोई नही है।न तो उनको समय पर वेतन मिलता है और न ही डी, ए,मिलता है।फिर भी बड़े उत्साह से कार्य करते है।जन चौपाल में पहुँचे भागवत साहू ने अपना दुखड़ा बताया कि उनकी पत्नी उनसे 250 km दूरी महासमुंद के जंगली क्षेत्र में दो साल के बच्चे को लेकर अकेली रहती है जिस कारण वह मानसिक रूप से परेशान है।श्रीमती वर्षा वैष्णव ने रोते हुए अपना दुख व्यक्त किया कि वह कोयलीबेड़ा कांकेर के नक्सली क्षेत्र में अकेली रहती है।उनका पति मुंगेली में है।ससुर जी का माह में दो बार डायलिसिस होता है ।बार बार अस्पताल जाना पड़ता है।चूंकि पति भी अकेला है जिस कारण काफी दिक्कत होती है।ऐसे अनेक शिक्षाकर्मी है जो काफी परेशान है।उक्त संबंध में मुख्यमंत्री जी से प्रार्थना करने कांकेर, बलौदाबाजार,जशपुर,रायगढ़, महासमुंद अलग अलग जिले से 150 शिक्षाकर्मी पहुँचे।जिसमे प्रमुख रूप से भागवत साहू,हरीश पांडेय,लिकेश ,श्रीमती वर्षा ,प्रेमदास,प्रवीण पैंकरा ,चंद्रहास,ताराचंद नायक आदि सैकड़ो शिक्षाकर्मी उपस्थित रहे।

Leave a comment