छत्तीसगढ़

मनुराज टाकीज में हुए घटना के एक आरोपी गिरफ्तार,,,दो आरोपी अभी भी फरार

मनुराज टाकीज में हुए घटना के एक आरोपी गिरफ्तार,,,दो आरोपी अभी भी फरार

मनुराज टाकीज में हुए घटना के एक आरोपी गिरफ्तार,,,दो आरोपी अभी भी फरार,, BBN24:- नीलकमल सिंह ठाकुर ●मुंगेली:- मुंगेली के मनुराज टाकीज में शरारती तत्वों ने की खुलेआम गुंडागर्दी । टिकट काउंटर में बैठे व्यक्ति के ऊपर पेट्रोल छिड़ककर आग लगाया । टिकट क्लर्क राजू बड़गैय्या और उनके सहयोगी सलारू को गम्भीर हालात में सिम्स बिलासपुर रिफर किया गया । आरोपियों के खिलाफ 307 का मामला दर्ज कर तलास की जा रही है । थाना सिटी कोतवाली मुंगेली से महज 200 मीटर की दूरी पर मनुराज टाकीज में घटी घटना । इन दिनों छत्तीसगढ़ी फ़िल्म "हंस झन पगली फंस जाबे" प्रदेश के टाकिजों में धूम मचाया हुआ है । सभी शो फूल चल रहा है । इसी फिल्म को देखने के दौरान छेड़छाड़ के मामले को लेकर दोपहर में काउंटर के बाहर दो लोगों के बीच चल रहे झगड़े को शांत कराने गए टिकट क्लर्क के ऊपर ही लड़ रहे लोगों में से दो लड़कों ने मारपीट शुरू कर दिया । इस बात की शिकायत टाकीज के मालिक ने पुलिस से की । जिस पर दोनों आरोपियों को पकड़कर पुलिस थाने ले गयी । कुछ देर बाद उक्त दोनों आरोपियों को पुलिस द्वारा छोड़ दिया गया । थाने से निकलकर कहीं से पेट्रोल लाकर टिकट काउंटर में बैठे राजू बड़गैय्या के ऊपर जाकिर खान, सौरभ चौहान और पवन साहू ने पेट्रोल छिड़क कर आग लगा दिया । आग लगते ही राजू बड़गैय्या धू धू कर जलने लगा । इस घटना के साथ टाकीज में भगदड़ मच गया । किसी तरह बचाओ बचाओ करके चिल्ला रहे राजू बड़गैय्या के ऊपर लगे आग को अग्नि समन यंत्र से बुझाकर सामने स्थित अग्रवाल हॉस्पिटल ले जाया गया । 30% जल चुके राजू बड़गैय्या को तत्काल बिलासपुर रिफर किया गया । साथ ही सहयोगी सलारू के हाथ पैर भी झुलस गए हैं उन्हें भी प्राथमिक उपचार के लिए जिला चिकित्सालय भेजा गया । घटना के तत्काल बाद टाकीज मालिक ने मामले की जानकारी पुलिस को दिए । मौके पर पहुचकर पुलिस घटना की जायजा ली तथा आरोपी जाकिर खान ,सौरभ चौहान और पवन साहू के खिलाफ भा द वी की धारा 307 ,294,325,50634 के तहत मामला कायम कर मौके से फरार आरोपियों मे से एक को पकड़ लिया गया है तथा शेष दो और आरोपियों की तलाश की जा रही है । मौके पर जायजा लेने पहुंचे पुलिस अधीक्षक ने विभाग की लापरवाही को लेकर एसपी ने दुख जताते हुए थानेदार एलपी पटेल को फटकार लगाया । वहीं टाकीज में ड्यूटी में तैनात सिपाहियों के ड्यूटी बदलने के कारण ड्यूटी लगाने वाले अधिकारी को सो कास नोटिस जारी किया है । वही इस घटना को लोगों ने पुलिस विभाग की लापरवाही बताते हुए कहा कि अगर दोपहर में ही झगड़े वाली घटना पर ठीक से कार्यवाही होती तो आगजनी वाला घटना नही होता । इस घटना से पुलिस की लापरवाही स्पष्ट झलक रही है । असामाजिक तत्वों के हौसले इतने बुलंद हो गए हैं कि रसूखदार टाकीज मालिक के यहां दिनदहाड़े पेट्रोल छिड़ककर आग लगाकर जान से मारने का प्रयास किया जा सकता है तो आम लोगों के साथ क्या कर सकते हैं सहज अंदाजा लगाया जा सकता है ।

Leave a comment