छत्तीसगढ़

पूरे साल में आरपीएफ ने 716 लोगों को ट्रेन में छोडे बैग सही सलामत लौटाया, पढ़े पूरी खबर

पूरे साल में आरपीएफ ने 716 लोगों को ट्रेन में छोडे बैग सही सलामत लौटाया, पढ़े पूरी खबर

अजीत मिश्रा @ BBN24 बिलासपुर : पूरे भारतीय रेलवे में सर्वाधिक माल ढूलाई एवं 1 करोड़ 20 लाख के लगभग यात्रियों को प्रतिदिन उनके गंतव्य तक पहचानें के साथ ही साथ दक्षिण पूर्व मध्य रेल्वे द्वारा यात्री सुविधाओं पर भी ध्यान देती आ रही है। इस बिलासपुर ज़ोन के 316 स्टेशनों पर दिनरात यात्री सुविधायें प्रदान करते हुए 355 यात्री ट्रेनों का भी परिचालन प्रतिदिन किया जा रहा है। इतनी बडी संख्या में लोग सुरक्षित एवं संरक्षित अपने गंतव्य तक रेलवे द्वारा पहुंचाये जाते है। किसी भी विषम परिस्थति के समय यात्रियों को टिवीट एवं एसएमएस और हेल्पलाइन नम्बर 182 एवं 1800.-2332534 पर शिकायत प्राप्त होती है। जिस पर तुरंत कार्रवाही कर यात्रियों को सुविधा दी जाती है। दक्षिण पूर्व मध्य रेल्वे यात्रियों द्वारा जल्दी बाजी में छूटे गये बैग में उपस्थित नगद पैसे सहित लेपटॉप, कीमती गेहने, जेवरात एवं यात्रियों के कीमती सामान यात्रियों द्वारा सूचना दी जाने के बाद यात्री सामान प्राप्त होने के तुरंत बाद आरपीएफ द्वारा कार्रवाही एवं खोज बीन करते हुये सामान के मालिक का पता लगाकर जल्द से जल्द सामानो की पहचान बताकर मालिक के हाथों सामान को सुपुर्द की जाती है। इससे रेल यात्रियों में काफी विश्वास रेल सुरक्षा बल के प्रति इन दिनों जागा है। इस दृष्टी से दक्षिण पूर्व मध्य रेल्वे के सुरक्षा विभाग के द्वारा माह जून 2018 से मई 2019 तक के 12 महीनों में 716 बैग एवं कीमती सामान संबंधित व्यक्ति को सुपुर्द किया गया है। इस प्रकार जून 2018 से मई 2019 तक बैग एवं कीमती सामान की माहवार स्थिति इस प्रकार है। कुल 716 बैग सकुशल यात्रियों को फोन द्वारा सूचना देते हुए उन्हें रेल सुरक्षा बल चौकी पर बुला कर बकायदा सामान व बैग पहचान कर सुपुर्द किया गया। इसके साथ ही साथ स्टेशन में किसी कारणवश छूट गये या पारिवारिक कारणों से परिवार की जानकारी के बिना नाबालिग बच्चे जो स्टेशन एवं रेलवे परिसर में प्राप्त होते है ऐसे सालभर में 363 बच्चों को उनके परिजनों को सकुशल सुपुर्द कर आरपीएफ ने एक मिसाल कायम की है। इन सभी सामाजिक कार्यों को और कुशल पूवर्क करने के लिए रेल सुरक्षा बल द्वारा सी.सी.टी.व्ही कैमरे की संख्या काफी बढाई गई है, जिसके ज़रिये रेलवे सुरक्षा बल चौबीसों घंटे नज़र रखती है तथा संदिग्धों की जांच करती रहती है। आरपीएफ ट्वीटर हैंडल एकाउंट भी यात्रीयों की सुविधा के लिये दी गई है रेलवे सुरक्षा बल के द्वारा हेल्पलाईन नंबर 182 एवं 1800-2332534 दिया गया है

Leave a comment