छत्तीसगढ़

पुरखा के सुरता के तहत छत्तीसगढिया क्रान्ति सेना ने मनाया परसराम जयंती

पुरखा के सुरता के तहत छत्तीसगढिया क्रान्ति सेना ने मनाया परसराम जयंती

बलौदाबाजार - आज पृथक छत्तीसगढ राज्य आंदोलन के अग्रणी, छत्तीसगढ भातृ संघ के संस्थापक उपाध्यक्ष और डा खूबचंद बघेल जी के बाद अध्यक्ष रहे दबंग व निर्भिक विशुध्द छत्तीसगढिया गौटिया परसराम जी यदु के 25 वी पुण्य-तिथी 01 अगस्त के अवसर पर भाटापारा मे सिटी सेन्टर माॅल के सामने शीतला मंदिर परिसर मे श्रध्दाजंली अर्पित करने पुरखा के सुरता कार्यक्रम आयोजित किया गया । इस गरिमापूर्ण आयोजन मे गौटिया परसराम जी के साथ काम कर चुके सुधेराम जी वर्मा , एडवोकेट जी डी मानिकपुरी, एडवोकेट राधेश्याम वर्मा, सेवानिवृत्त छविराम जी वर्मा परिवार के सदस्य, जिला पंचायत सभापति अभिनव यदु ,टिकुलिया उपसरपंच देवप्रसाद वर्मा डीकेश साहू ,प्रीतम वर्मा सनत यदु , विकास ,सिध्दार्थ यदु ,राधेश्याम भतपहरे , ओमप्रकाश वर्मा, दत्ता चौहान , मुकेश वर्मा ,जितेंद्र बंजारे के संग अन्य सेनानी भाई उपस्थित रहे । कार्यक्रम का आरंभ छत्तीसगढ महतारी की आरती पश्चात गौटिया परसराम जी यदु व डा खूबचंद बघेल जी के छायाचित्र पर माल्यार्पण व पुष्प अर्पित कर किया गया । जिला अध्यक्ष भुपेंद्र सेन ने स्वागत भाषण के पश्चात अतिथियो द्वारा गौटिया परसराम जी के साथ के संस्मरण सुनाये । साथ ही परसराम जी की मूर्ति स्थापना व प्राथमिक पाठ्यक्रम मे गौटिया के जीवनी को शामिल करने की मांग किया । ताकि आने वाली पीढी हमारे प्रदेश के त्यागी तपस्वी बलिदानी पुरखो को जान सके , याद कर सके । छत्तीसगढिया क्रान्ति सेना के प्रदेश सचिव चन्द्रकांत यदु ने छत्तीसगढ के सभी महान विभूतियो को आज पर्यन्त यथोचित सम्मान नही मिलने पर दुख जताते उनके कार्यो को जन जन तक पहुचे के लिये सभी छत्तीसगढिया समाज को आगे आकर पुरखो को याद करने की अपील किये , साथ ही हसदेव अरण्य के लिये सर्व आदिवासी समाज व छत्तीसगढिया क्रान्ति सेना को बधाई देते हुए कहा कि आप के संघर्ष व लगातार प्रयास से हसदेव अरण्य क्षेत्र मे कोल ब्लाक आबंटन को निरस्त करने विधानसभा मे सर्वसम्मत प्रस्ताव पास कर केन्द्र सरकार को भेजा गया , ये क्रान्ति सेना व आदिवासियो भाइयो के दबाव मे सभी राजनीतिक दलो को एक स्वर मे करना पडा । अभी मंजिल दूर है ,संघर्ष जारी रहेगा । कार्यक्रम का संचालन अजय साहू अमृतांशु ने किया , आभार प्रदर्शन जिला संयोजक सुरेन्द्र यदु ने किया ।

Leave a comment