छत्तीसगढ़

नेता प्रतिपक्ष  ने कहा किसान न्याय योजना भाजपा के संघर्ष का नतीजा

नेता प्रतिपक्ष ने कहा किसान न्याय योजना भाजपा के संघर्ष का नतीजा

छत्तीसगढ़ के नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने किसान नया योजना को अपने ढंग से परिभाषित किया है। नेता प्रतिपक्ष की माने तो भारतीय जनता पार्टी ने किसानों के मुद्दे को लेकर सड़क से लेकर सदन तक संघर्ष किया है। और इसी का नतीजा है कि अब छत्तीसगढ़ में कांग्रेस सरकार को मजबूर होकर इस तरह की योजना की शुरुआत करनी पड़ रही है। इस लिहाज से किसानों के हित के लड़ाई लड़ने वाली भारतीय जनता पार्टी को इसका श्रेय मिलना चाहिए। गौरतलब है कि, नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने राजीव गांधी किसान न्याय योजना योजना का विश्लेषण करते हुए कई तरह की कमियां भी गिनाई है। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने स्पष्ट किया कि किस तरह से राज्य सरकार ने किसानों और बीजेपी के दबाव में यह निर्णय लिया। क्योंकि बीजेपी ने टोकन धारी किसानों के मुद्दे को लेकर लगातार सरकार को घेरा है। समर्थन मूल्य हो फिर बोनस के पैसे भाजपा ने हमेशा किसानों के साथ उनकी लड़ाई लड़ी है। वहीं सरकार ने इस निर्णय को लेने में काफी देर कर दी है। किसानों के हित में लिए गए निर्णय अगर पहले लिए गए होते तो आज छत्तीसगढ़ में किसानों को उतना नुकसान नहीं झेलना पड़ता। कुल मिलाकर देखा जाए तो सरकार ने यह निर्णय देर से और भारतीय जनता पार्टी के दबाव में लिया है । इसलिए सही मायने में यह प्रदेश के किसानों की जीत है और इसका श्रेय बीजेपी को मिलना चाहिए। हालत जी नेता प्रतिपक्ष ने इसके लिए भी राज्य के कांग्रेस सरकार का धन्यवाद किया है।

Leave a comment