कृषि

 छत्तीसगढ़ में इस साल 15.61 लाख हेक्टेयर से अधिक रकबे में बोई गई रबी फसलें

छत्तीसगढ़ में इस साल 15.61 लाख हेक्टेयर से अधिक रकबे में बोई गई रबी फसलें

रायपुर छत्तीसगढ़ में इस वर्ष रबी फसलों की बोनी लगभग पूरी हो चुकी है। राज्य शासन के कृषि विभाग द्वारा चालू रबी मौसम में लगभग 18 लाख 51 हजार हेक्टेयर में अनाज, दलहन, तिलहन और साग-सब्जी की बोनी की तैयारी की गई थी। अभी तक किसानों ने 15 लाख 61 हजार 390 हेक्टेयर क्षेत्र में धान, गेहूं, मूंग, मटर, चना, तिवरा, कुलथी, अलसी, तिल, सूरजमुखी, मूंगफली, राई-सरसो सहित अन्य फसलों की बोआई पूरी कर ली है। इस प्रकार इस साल निर्धारित लक्ष्य के विरूद्ध 84 प्रतिशत रकबे में रबी फसलों की बोनी हुई है।
 कृषि मंत्री   बृजमोहन अग्रवाल ने बताया कि प्रदेश में इस रबी मौसम में एक लाख 80 हजार 380 हेक्टेयर में गेहूं, 46 हजार हेक्टेयर में धान, 71 हजार हेक्टेयर में मक्का और 6 हजार हेक्टेयर में अन्य अनाज फसलों की बोनी हो चुकी है। उन्होंने बताया कि दलहनी फसलों के अंतर्गत तीन लाख 47 हजार हेक्टेयर में चना, 55 हजार हेक्टेयर में मटर, 29 हजार हेक्टेयर में मसूर,  26 हजार हेक्टेयर में मूंग के साथ-साथ लगभग तीन लाख हेक्टेयर में तिवरा की उतेरा बोनी पूरी हो गई है। इस रबी मौसम में 2 लाख 56 हजार हेक्टेयर में तिलहनी फसलें भी लगायी गई है। किसानों ने तिलहनी फसलों में सबसे ज्यादा एक लाख 58 हजार हेक्टेयर में राई-सरसो और तोरिया की बोआई की है। उनके अलावा तिल, सूरजमुखी, कुसुम, मूंगफली भी किसानों ने लगायी है। लगभग 23 हजार हेक्टेयर में गन्ना लगाने का काम पूरा हो गया है। बागवानी किसानों ने एक लाख 83 हजार हेक्टेयर में साग-सब्जियां लगायी है।

Leave a comment