राजधानी

गूगल न्यूज़ इनिशिएटिव और एमिटी स्कूल ऑफ़ कम्युनिकेशन के सहयोग से पोल चेक कवरिंग इंडियाज इलेक्शन पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन

गूगल न्यूज़ इनिशिएटिव और एमिटी स्कूल ऑफ़ कम्युनिकेशन के सहयोग से पोल चेक कवरिंग इंडियाज इलेक्शन पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन

रायपुर 16 मार्च - एमिटी स्कूल ऑफ़ कम्युनिकेशन और गूगल न्यूज़ इनिशिएटिव के सहयोग से पोल चेक कवरिंग इंडियाज़ इलेक्शन पर एक दिवसीय वर्कशॉप आयोजित की गयी जो देश भर में आगामी चुनावों को कवर करने वाले पत्रकारों के लिए एक प्रशिक्षण श्रृंखला है वर्कशॉप के उद्घाटन सत्र में स्वागत भाषण प्रो. (डॉ.) एस. सी. नायक हेड ऑफ़ इंस्टीटूशन एमिटी स्कूल ऑफ़ कम्युनिकेशन द्वारा दिया गया। प्रो. नायक ने इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि माननीय उच्च शिक्षा मंत्री उमेश कुमार पटेल और विशिष्ट अतिथि पी सी होता संपादक न्यूज़ 18 छत्तीसगढ़ का इस वर्कशॉप के लिए अपना बहुमूल्य समय देने के लिए आभार व्यक्त किया। अपने अध्यक्षीय भाषण में प्रो. (डॉ.) आर. के. पांडेय कुलपति एमिटी यूनिवर्सिटी छत्तीसगढ़ ने हमारे दैनिक जीवन में सोशल मीडिया के महत्व को प्रभावित किया और ऑनलाइन मिलने वाली जानकारी का सही उपयोग करने के बारे में बताया। सत्र को संबोधित करते हुए, अतिथि पी.सी. होता संपादक न्यूज 18 छत्तीसगढ़ ने कहा पत्रकारों का काम गेटकीपिंग का है, जो इंटरनेट पर जानकारी के असत्यापित प्रवाह के कारण बार-बार खतरे में पड़ रहा है। होता ने गूगल एवं मीडिया स्कूल को इस कार्यशाला के सफल आयोजन के लिए बधाई दी। इस अवसर के मुख्य अतिथि माननीय उच्च शिक्षा मंत्री छत्तीसगढ़ शासन पटेल ने कहा, "कोई भी जानकारी हानिरहित है जब तक कि यह तथ्यात्मक है। लेकिन तथ्यों की मिलावट ही है जिससे फेक न्यूज़ बनती है और यह हमारे समाज के लिए बहुत बड़ी चिंता का विषय है। माननीय मंत्री महोदय ने आगे कहा कि," फेक न्यूज़ आज मीडिया के सामने सबसे बड़ी चुनौतियों में से एक है और यह वर्कशॉप इस प्रमुख मुद्दे से निपटने की दिशा में एक शानदार कदम है। इस सत्र का धन्यवाद ज्ञापन डॉ. एस. सी. मुखोपाध्याय रजिस्ट्रार एमिटी यूनिवर्सिटी छत्तीसगढ़ के द्वारा दिया गया। वर्कशॉप के दौरान वरिष्ठ गूगल प्रशिक्षकों श्री राज वर्द्धराजन और श्री अमजद बादशाह द्वारा वेरिफिकेशन एंड फैक्ट चेकिंग यूट्यूब फॉर इलेक्शन कवरेज और डिजिटल सिक्योरिटी एंड सेफ्टी विषयो पर तीन सत्र आयोजित किए गए।वर्कशॉप में 150 से अधिक प्रमुख पत्रकारों मीडिया शिक्षकों और पत्रकारिता के छात्रों ने भाग लिया।वर्कशॉप का समापन सांस्कृतिक कार्यक्रम के साथ हुआ जहां यूनिवर्सिटी के विभिन्न स्कूलों के छात्रों ने अद्भुत प्रदर्शन के रूप में अपनी छिपी हुई प्रतिभा का प्रदर्शन किया।

संबंधित तस्वीर

Leave a comment