राजधानी

CM हाउस में कवासी लखमा ने तली पकौड़ियां:सर्व आदिवासी समाज के प्रदेशबंद के बाद समाज प्रमुखों को भोज; मुख्यमंत्री बोले- बस्तर के अंग्रेजी स्कूलों में मिलेगी हॉस्टल की सुविधा।

CM हाउस में कवासी लखमा ने तली पकौड़ियां:सर्व आदिवासी समाज के प्रदेशबंद के बाद समाज प्रमुखों को भोज; मुख्यमंत्री बोले- बस्तर के अंग्रेजी स्कूलों में मिलेगी हॉस्टल की सुविधा।

रायपुर राज्य सरकार के खिलाफ सर्व आदिवासी समाज के प्रदेश बंद के एक दिन बाद कांग्रेस की डिनर पॉलिटिक्स सामने आई है। मुख्यमंत्री निवास में मंगलवार रात बस्तर के आदिवासी समाज के प्रमुखों के लिए भोज का आयोजन हुआ। बस्तर के प्रभारी मंत्री कवासी लखमा करीब 300 लोगों को लेकर मुख्यमंत्री निवास पहुंचे। यहां मुख्यमंत्री ने सभी से बात की। इस दौरान उन्होंने बस्तर संभाग के स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूलों में छात्रावास की सुविधा देने की भी घोषणा की। रात के भोज में व्यवस्था का जिम्मा खुद कवासी लखमा ने संभाल लिया। उन्होंने होटल से आए रसोइए को हटाकर पकौड़े की कड़ाही खुद संभाल ली। भोज के दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, मंत्री कवासी लखमा और बस्तर क्षेत्र के कांग्रेस विधायकों ने आदिवासी समाज के प्रमुखों और प्रतिनिधियों के साथ भोजन किया। इस दौरान बस्तर की समस्याओं पर चर्चा हुई। चर्चा के दौरान लोगों ने कहा कि राज्य सरकार ने इंग्लिश मीडियम स्कूल प्रारंभ कर गरीब और आदिवासी परिवारों के बच्चों की शिक्षा के लिए एक अच्छी पहल की है। इन स्कूलों में छात्रावास हो जाए तो बस्तर के दूर-दराज के बच्चों को भी इसका फायदा मिल पाएगा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने उन्हें भरोसा दिया कि बस्तर संभाग में जहां भी स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल खुले हैं वहां बच्चों के लिए हॉस्टल की भी व्यवस्था की जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा, राज्य सरकार की यह मंशा है कि आदिवासी अंचलों के लोगों को भी वैसी ही सुविधाएं मिले जैसी मैदानी क्षेत्रों के लोगों को मिल रही हैं। राज्य सरकार आदिवासी अंचलों में शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार के बेहतर से बेहतर अवसर उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध है। यह डिनर पॉलिटिक्स आदिवासी समाज की नाराजगी दूर करने में कितना कामयाब होती है यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा।

Leave a comment