राजधानी

वैक्सीन ही सुरक्षा कवच है:

वैक्सीन ही सुरक्षा कवच है:

पहली बार 7 दिनों में 12 लाख को टीके; संक्रमण दर 0.12%, इस माह 33 लाख टीके मिलेंगे, जो 66% लोगों को लगेंगे प्रदेश में टीकाकरण ने स्पीड पकड़ ली है। पहली बार केवल सात दिनों में 11.23 लाख से अधिक टीके लगाए गए हैं। ये अपने आप में रिकॉर्ड है, क्योंकि इतना अधिक वैक्सीनेशन तो तब भी नहीं हुआ जब राज्य में टीकारण शुरू हुआ था। कोरोना की दूसरी लहर के बाद तो एक समय तो ऐसा आ गया था जब लोग वैक्सीनेशन के लिए सुबह 4-4 बजे से टीकाकरण केंद्र में लाइन लगा रहे थे। उस दौरान भी इतने लोगों को टीके नहीं लगाए गए। हालांकि उस समय टीके की कमी थी और लोग किसी भी सूरत में वैक्सीन लगवाना चाहते थे। इधर, प्रदेश में कोरोना के 28 नए संक्रमित मिले हैं, जिसमें रायपुर का एक नया केस भी शामिल है। इस दौरान कोई मौत भी नहीं हुई है। राहत की बात ये है कि प्रदेश में एक्टिव मरीजों की संख्या अब घटकर 332 पर आ गई है। वहीं 15 जिलों में एक भी नया मरीज नहीं मिला है। 100 लोगों की जांच में 0.12 फीसदी दर से मरीज मिल रहे हैं। प्रदेश को इस महीने 35 लाख टीके मिलेंगे। अभी तक 19 लाख टीके आ चुके हैं। टीके क इतनी बड़ी खेप अब तक नहीं मिली है। हालांकि 11 सितंबर के पहले तक टीकाकरण में इतनी स्पीड नहीं थी। उस समय तक रोज औसतन 60 से 70 हजार टीके ही लग रहे थे। अचानक स्पीड बढ़ी और टीकाकरण दोगुने से ज्यादा हो गया। पिछले सात दिनों से रोज करीब डेढ़ लाख टीके लगाए जा रहे हैं। राज्य के एक-एक शहर और गांव के साथ-साथ रायपुर में भी टीकाकरण तेज हो गया है। पिछले हफ्ते तक चार-पांच हजार ही टीके रोज लगाए जा रहे थे। अब यहां का आंकड़ा 20 हजार के पार चला गया है। इस महीने 35 लाख टीका लगने के बाद राज्य में 1 करोड़ 90 लाख से ज्यादा लोगों का टीकाकरण हो जाएगा और 66 फीसदी से ज्यादा आबादी काे वैक्सीन की पहली या दूसरी डोज लग जाएगी। हालांकि जानकारों के अनुसार दोनों डोज 70 फीसदी होने पर ही सुरक्षित स्थिति मानी गई है। अभी प्रदेश में 14 प्रतिशत लोगों को ही दोनों डोज लगी है, जबकि 55 फीसदी से अधिक आबादी सिंगल डोज लग चुकी है। आईसीएमआर की ताजा रिसर्च के मुताबिक सिंगल डोज से भी प्रोटेक्शन बढ़ता है। 13 जिलों में एक्टिव मरीज इकाई अंक में प्रदेश के 13 जिलों में अब एक्टिव मरीज इकाई के अंक पर आ गए हैं। चार जिले कवर्धा, मुंगेली, सूरजपुर और गौरेला में तो सक्रिय मरीजों की संख्या भी शून्य हो गई है। शनिवार को प्रदेश के 15 जिलों में एक भी नया केस नहीं मिला है। ये स्थिति अर्से बाद आई है। जानकारों के मुताबिक प्रदेश में वैक्सीनेशन के बढ़ते दायरे से कोरोना को लेकर स्थिति में लगातार सुधार हो रहा है। हर दिन एक दर्जन या इससे अधिक जिले ऐसे रह रहे हैं जहां एक भी नया मरीज नहीं मिल रहा है। कोरोना की पहली और दूसरी लहर में सर्वाधिक एक्टिव मरीजों वाले रायपुर जिले में भी अब सक्रिय मरीजों की संख्या घटकर 20 से नीचे आ गई है। सबसे अधिक केस वाले रायपुर में कोरोना अब नियंत्रण में प्रदेश में टीके की संख्या के लिहाज से रायपुर टॉप पर है। यहां अब तक 21 लाख से अधिक टीके लग चुके हैं। जिसमें साढ़े 14 लाख से अधिक पहला और 6 लाख को दूसरा डोज लगा है। रायपुर में एक्टिव मरीजों की संख्या जहां पहली लहर के पीक में 13 हजार से अधिक पहुंच गई थी वहीं दूसरी लहर में ये संख्या करीब 30 हजार के पार हो गई थी। अब यहां 20 से कम मरीज हैं। वहीं, ऐपिडेमिक कंट्रोल के डायरेक्टर डॉ. सुभाष मिश्रा ने बताया कि प्रदेश में इस माह में 35 लाख से अधिक टीके शेड्यूल किए गए हैं। अधिक संख्या में टीका मिलने से वैक्सीनेशन की रफ्तार में स्वभाविक रूप से बड़ा बदलाव आया है। नक्सल पीड़ित जिलों में भी सुदूर इलाकों में जा रहीं टीमें स्वास्थ्य विभाग के अफसरों के मुताबिक प्रदेश में बीते सात दिन से टीका पर्याप्त संख्या में मिलने के कारण सघन टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है। वैक्सीनेशन टीमें लोगों के घर में भी जाकर टीके लगा रही हैं। यहां तक कि धुर नक्सल पीड़ित इलाकों में भी टीमें नाव से जा रही हैं। बीजापुर सीएमओ डॉ. आरके सिंह के मुताबिक इस हफ्ते में वो खुद टीम के साथ पामेड़ से आगे के सुदूर इलाकों में टीका लगाने के लिए गए। टीम रासपल्ली, धर्मारम जैसे इलाके में भी टीके लगाकर आई है। बीजापुर में दूसरी लहर का पीक गुजरने के बाद जून जुलाई के माह में कोरोना केस बढ़ गए थे। उसके बाद से सीमा पर टेस्टिंग ट्रेसिंग जैसी गतिविधियां चल रही है। टीका सुरक्षा कवच प्रदान कर रहा टीका सुरक्षा कवच प्रदान कर रहा है। ये अब सिद्ध हो गया है। प्रदेश में कोरोना की लगातार सुधरती स्थिति में वैक्सीनेशन का बढ़ता दायरा एक अहम वजह है। लोग टीका लगवाने के बाद सावधानी रखें। जितना कड़ाई से नियमों का पालन करेंगे उतनी ही अच्छी स्थिति बनेगी। - डॉ. नितिन एम नागरकर, डायरेक्टर, एम्स रायपुर

Leave a comment