क्राइम

दोस्त ही निकला हत्या का आरोपी...पढ़े पूरा ममला

दोस्त ही निकला हत्या का आरोपी...पढ़े पूरा ममला

अजीत मिश्रा @ BBN24

 
बिलासपुर। अपनी दुश्मनी निकालने के लिए एक युवक ने दोस्त की हत्या कर दी। पुलिस को गुमराह करता रहा। लेकिन उसकी चालाकी चल नहीं पायी और हत्या को कुबूल कर लिया। मामला टिकरापारा क्षेत्र का है। दो दिन पहले 6 जून को कंस्ट्रक्शन कॉलोनी के नाले में रामलाल सोनी का शव मिला । सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस जब शव का पंचनामा कर विवेचना कर रही थी। इसी दौरान नाले के कुछ ही दूरी में अचेत अवस्था मे रामायण दास मानिकपूरी पिता मंगल दास मानिकपूरी 24 वर्ष पाया गया। जिसके शरीर मे बेल्ट से मारने और ब्लेड से कटा हुआ निशान था। थाना प्रभारी जय प्रकाश गुप्ता ने बताया कि पूछताछ करने के बाद बार बार रामायण पर शक हो रहा था । आरोपी हर बार अपना बयान बदल देता , जब सख्ती से पूछताछ की तो आरोपी ने बताया कि सप्ताह भर पहले रामलाल पुराना बस स्टैंड के पास गुमसुम हालत में मिला, तब उससे बातचीत की फिर दोनों में अच्छी दोस्ती हो गई और दोनों हनुमान मंदिर तथा रेलवे स्टेशन में भीख मांगते थे और  रेलवे परिक्षेत्र के पुराने खंडहर मकानों में रहते थे । कंस्ट्रक्शन कॉलोनी निवासी दिलीप गोंड मकान बिक्री को लेकर लम्बे समय से आरोपी का विवाद चल रहा था। जिसके खिलाफ धोखाधड़ी करने की शिकायत तारबाहर थाने में की थी।  दिलीप को जेल भेजने की योजना बनाई और अपने दोस्त के साथ पहले शराब भट्टी में शराब पी फिर दोनों ने रेलवे जहां रहते थे वहां गांजा पिया अत्याधिक नशा होने से रामलाल सोनी बेसुध हो गया। एकांत और सुनसान का फायदा उठाते हुए , अपने पास रखे नायलॉन की रस्सी से रामायण ने गला घोंट कर रामलाल की हत्या कर दी , फिर शव को नाले में ले जाकर फेंक दिया , वही पुलिस को गुमराह करने खुद को जख्मी कर नाले के कुछ ही दूर में सो गया ताकि , पुलिस घटना को लूटपाट समझे और इस मामले में दिलीप को फंसा सके ।पुलिस ने आरोपी रामायण मानिकपूरी के खिलाफ धारा 302 के तहत अपराध कायम कर न्यायलय में पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया गया।

Leave a comment