देश

संपन्न हुआ केंद्रीय विश्वविद्यालय का दीक्षांत समारोह। राष्ट्रपति ने राज्यपाल और मुख्यमंत्री की  तारीफ की।  प्रदेश में आदिवासियों की समस्याओं पर रखे विचार। नक्सल समस्या को लेकर अपने अनुभव बांटे। राज्य सरकार के प्रयास की सराहना की।  सीएम भूपेश बघेल को बताया सक्षम मुख्यमंत्री।

संपन्न हुआ केंद्रीय विश्वविद्यालय का दीक्षांत समारोह। राष्ट्रपति ने राज्यपाल और मुख्यमंत्री की तारीफ की। प्रदेश में आदिवासियों की समस्याओं पर रखे विचार। नक्सल समस्या को लेकर अपने अनुभव बांटे। राज्य सरकार के प्रयास की सराहना की। सीएम भूपेश बघेल को बताया सक्षम मुख्यमंत्री।

अजीत मिश्रा :  बिलासपुर : छत्तीसगढ़

सोमवार को देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद में केंद्रीय विश्वविद्यालय गुरु घासीदास यूनिवर्सिटी के आठवें  दीक्षांत समारोह में शिरकत की।  राष्ट्रपति ने 74 गोल्ड मेडलिस्ट और 75 पीएचडी उपाधि पाने वाले छात्रों को सम्मानित किया।  इस दौरान दीक्षांत समारोह के मंच से छात्रों को संबोधित करते हुए राष्ट्रपति ने छत्तीसगढ़ में अपने प्रवास और अनुभव को साझा किया। राष्ट्रपति ने बताया कि, किस तरह से वे इससे पहले छत्तीसगढ़ पहुंचे और उनकी मुलाकात स्व सहायता समूह की महिलाओं से हुई थी।  वहीं उन्होंने नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में लाल आतंक का दंश झेल रहे छात्रों से भी बातचीत की थी । इस बीच राष्ट्रपति ने राज्यपाल अनुसुइया उइके और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के आदिवासी और नक्सल समस्या को लेकर किए गए प्रयासों की सराहना की। राष्ट्रपति ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को एक सक्षम मुख्यमंत्री बताया वही राज्यपाल अनुसुइया उइके के द्वारा आदिवासियों के हित में किए जा रहे कार्यों की भी सराहना की।।

 राष्ट्रपति ने अपने अभिभाषण में छात्रों के उज्जवल भविष्य करने की शोध शिक्षा और समाज के हित के लिए काम किए जाने के लिए प्रेरित किया और यहां तक कहा कि इन छात्रों को आज गोल्ड मेडल हो या एचडी चल रहे हैं उन्हें कम से कम साल में एक बार आखिरी में शूटिंग में अपने साथी छात्रों का मनोबल बढ़ाना चाहिए इस तरह से देश में पढ़ने पढ़ाने और शिक्षित होने का माहौल बनेगा। 
 

Leave a comment