संपादकीय

बाल विवाह हे एक सामाजिक बुराई, रोकथाम के लिए पुलिस को करें फोन

बाल विवाह हे एक सामाजिक बुराई, रोकथाम के लिए पुलिस को करें फोन

बाल विवाह को रोकने की अपील पुलिस ने लोगों से की है। रामनवमी और अक्षय तृतीया पर बाल विवाह होने की अधिक संभावना रहती है। बाल विवाह समाजिक बुराई ही नहीं कानूनन अपराध भी है। बालविवाह प्रतिशोध अधिनियम 2006 के अन्तर्गत बालविवाह करवाने वाले वर व वधू के माता पिता, सगे संबंधी, बराती, विवाह करवाने वाले पुरोहित पर कानूनी कार्यवाही की जा सकती है। यदि वर या कन्या को बालविवाह के बाद विवाह स्वीकर ना हो तो यह शून्य माना जाता। बाल विवाह के कारण बच्चों मे कुपोषण, शिशु मृत्य दर, मातृ मृत्यदर व घरेलू हिंसा में बढ़त होती है। समाज में फैली इस बुराई के उन्मूलन के लिए बाल विवाह होने की जानकरी पुलिस कंट्रोल रूम धमतरी फोन नम्बर 07722-232511 मोबाइल नम्बर 9479192299 एवं पुलिस कार्यालय धमतरी फोन नम्बर 07722- 238265 पर सूचित करें। बाल विवाह की रोकथाम के लिए पुलिस ने सहयोग की अपील है।

Leave a comment