बड़ी खबर

बिलासपुर मुंगेली वनमंडल क्षेत्र में चीतल हो रहे लगातार कुत्तों के शिकार विभाग बेपरवाह,वन्य जीवों की सुरक्षा का नहीं है कोई इंतजाम !

बिलासपुर मुंगेली वनमंडल क्षेत्र में चीतल हो रहे लगातार कुत्तों के शिकार विभाग बेपरवाह,वन्य जीवों की सुरक्षा का नहीं है कोई इंतजाम !

 

 NEWS Edited By :YASH LATA

अजीत मिश्रा @ बिलासपुर

 वन्य प्राणियों की सुरक्षा के नाम पर विभाग द्वारा करोड़ों रुपये खर्च किये जा रहे परंतु क्षेत्र में कुत्ते के हमले से लगातार हो रहे चीतल की मौत पर वन विभाग उदासीन लग रही है।

इन दिनों मुंगेली के विकासखंड पथरिया के बगबुडवा ग्राम में लगातार हिरणों पर कुत्तों के हमले हो रहे है जिससे अब तक करीब दर्जन भर हिरणों की मौत हो चुकी है और अभी भी कुत्तों के हमले बदस्तूर जारी है इसके बाद भी विभाग की ओर से हिरणों की सुरक्षा को लेकर कोई पहल नहीं की जा रही है। 

आपको बता दें हर साल बरसात के आगमन के साथ कुत्तों के हमले से चीतलों की मौत होती आ रही है इसके बावजूद भी वन विभाग वन्य जीवों के सुरक्षा के प्रति गंभीर नहीं दिख रहा है और कोई पुख्ता इंतजाम भी नहीं कर पा रही है, इनकी मौत की वजह असुरक्षा व पानी की व्यवस्था का न होना बताया जा रहा है ये सभी मौतें मुंगेली जिले के पथरिया विकासखण्ड के ग्राम बगबुड़वा में हुआ है।विभाग द्वारा हिरणों की सुरक्षा के लिए कोई विशेष कदम नहीं उठाया जा रहा है। बताया जाता है कि काफी साल पहले कानन पेंडारी से भागकर आए सैकड़ों हिरण का बगबुड़वा गांव के खेतों में रहवास रहा हैं जहां साल दर साल हिरणों की संख्या बढ़ती गई, मगर वन विभाग की ओर से वन्यजीवों के संरक्षण की दिशा में अब तक कोई सार्थक पहल नहीं किया गया है। और यही वजह है कि हिरणों के लिए गर्मी से बचाव, पानी की व्यवस्था सहित सुरक्षा के पर्याप्त व्यवस्था नहीं है, जिसके चलते लगातार हिरणों की मौते हो रही है। एक तरफ वन विभाग जगह-जगह स्लोगन लिख कर वन्य जीवों को संरक्षित करने की बात कर रही है परंतु उन पर अमल करना शायद भुल से गये तभी तो इन दिनों विभाग की लापरवाह रवैये के  चलते वन्य जीव बेमौत मारे जा रहे है। 

संबंधित तस्वीर

Leave a comment