विशेष

छेरछेरा-छेरछेरा माई कोठी के धान ल हेरते हेरा जांजगीर ज़िले में मनाया जा रहा छेरछेरा का त्योहार

छेरछेरा-छेरछेरा माई कोठी के धान ल हेरते हेरा जांजगीर ज़िले में मनाया जा रहा छेरछेरा का त्योहार

◆आशीष कश्यप BBN24NEWS.COM

जांजगीर-चांपा जिले में छत्तीसगढ़ के सबसे बड़े त्यौहार छेरछेरा त्योहार को बड़े ही धूमधाम से मनाया जा रहा है, दरअसल आज पुष्पपुन्नी है और पुष्पपुन्नी के दिन को छत्तीसगढ़ के सबसे बड़े त्योहार के रूप में माना जाता है। जिसे छेरछेरा के रूप में पूरे छत्तीसगढ़ में बड़े ही धूमधाम से मनाया जाता है और आज के दिन गांव- गांव में बच्चो एवं बुढो के द्वारा घर-घर जाकर छेरछेरा मांगा जाता है, जिसमें उन्हें दान के रूप में रुपया पैसा और धान मिलते हैं, आज के दिन को अन्न दान के रुप में छत्तीसगढ़ में बड़े ही धूमधाम से मनाया जाता है, इसी के चलते आज जांजगीर-चांपा जिले में छत्तीसगढ़ के सबसे बड़े त्यौहार छेरछेरा को बड़े ही उत्साह के साथ मनाया जा रहा है, पुष्पपुन्नी पूर्णिमा के आने से पहले ही लगभग 15 दिन के पूर्व गांव के लोगों के द्वारा टोली बनाया जाता है, और लकड़ी के डंडे लेकर गांव- गाँव में घरों घर जाकर डंडा नृत्य किया जाता है। वही इस नृत्य में बच्चे बूढ़े एवं हर उम्र के लोगों के द्वारा घर-घर जाकर छेरछेरा मांगा जाता है जिसमें उन्हें धान व रुपए पैसे मिलते हैं।

संबंधित तस्वीर

Leave a comment