विशेष

पत्रकार खबरीलाल विशेष ::- अभूतपूर्व विकास के रोशनी से आलोकित होगा हमारा अपना बस्तर - रेखचन्द जैन।।

पत्रकार खबरीलाल विशेष ::- अभूतपूर्व विकास के रोशनी से आलोकित होगा हमारा अपना बस्तर - रेखचन्द जैन।।

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018 में जगदलपुर शहर से कांग्रेस के जुझारू व कर्मठ प्रत्याशी रेखचन्द जैन ने भाजपा के संतोष बाफना को करारी शिकस्त देकर विधानसभा पहुंचे हैं। ज्ञात हो कि इस बार छत्तीसगढ़ की जनता ने "स्वच्छता" का नारा देते हुए पूरी तरह भाजपा के गढ़ को ध्वस्त कर दिया। कांग्रेस ने भूपेश बघेल एवं टीएस बाबा के कुशल नेतृत्त्व में समूचे छत्तीसगढ़ में जन मुद्दों को इस तरह उठाया की भाजपा उन मुद्दों का सदुत्तर जनता को नहीं दे पाई और जिस हेतु जनता ने उनके 15 वर्ष के लगातार शासन को उखाड़ कर फेंक दिया। भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष ने 65 प्लस का जो टारगेट डॉ रमन एंड टीम को दिया था उसे अकेले कांग्रेस ने पूरा कर दिया और बीजेपी को मात्र 15 सीटों पर रोक दिए। 4 जनवरी 2018 को छग विधानसभा का सत्र था जिसमे जगदलपुर के तेज तर्रार, कर्मठ और जुझारू विधायक रेखचन्द जैन उपस्थित हुए तथा उनकी पत्रकार खबरीलाल से विशेष बातचीत हुई जिसमें उन्होंने कहा कि - सच, सच ही होता है और झूठ, झूठ ही होता है जिसे जनता समझ गई और जबरदस्त झटका बीजेपी को दिया। इन्होंने अपने 15 वर्षों के शासन में जनता का दिल इस कदर दुखाया की आज उनका दिल जनता की आह से खुद दुःखी हो गया है। कांग्रेस के 68 विधायकों के सामने बीजेपी मात्र 15 सीटों के साथ कमजोर विपक्ष की तरह सदन में बैठेगी। पत्रकार खबरीलाल ने जब रेखचन्द जैन से पूछा कि बस्तर क्षेत्र से कवासी लखमा को वाणिज्य कर (आबकारी) व उद्योग मंत्रालय का जिम्मा सौंपा गया है तो आप किस तरह के औधोगिक विकास का सपना बस्तर के जनता हेतु देख रहे हैं ? इस प्रश्न के जवाब में रेखचन्द जैन ने कहा - कवासी लखमजी बहुत ही ईमानदार, सरल, मृदुभाषी व्यक्तित्त्व के धनी नेता हैं और उनके दिल व दिमाग मे जनसेवा की भावना इस कदर है कि वे बस्तर में माननीय मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के सहयोग से इस क्षेत्र का विकास करेंगे जिससे इस अंचल के लोगों को रोजगार उपलब्ध हो और नक्सली मुख्य धारा में लौट आएं। इस क्षेत्र में फारेस्ट के साथ साथ विभिन्न खनिज संपदा है, जड़ी बूटियां है । यहां आगे हम सभी मिलकर "फारेस्ट प्रोड्यूस" का उद्योग स्थापित करेंगे जिससे यहाँ के निवासियों को इन उद्योगों में रोजगार उपलब्ध हो साथ ही वन उपज को वे इन संस्थानों में विक्रय कर पैसा कमा सकते हैं। साथ ही इस क्षेत्र में विभिन प्रकार के खनिज संपदा है और खनिज संबंधित उद्योगों से यहाँ के निवासियों को रोजगार उपलब्ध होंगे और प्रत्येक के चेहरे पर मुस्कान होगी। साथ ही नक्सल समस्या भी खत्म होगा। रेखचन्द जैन ने पूर्व भाजपा सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि पिछले 15 वर्षों में नक्सली समस्यायों में वृद्धि हुई है तथा जो अरबों - खरबों रुपये नक्सल प्रभावित क्षेत्र हेतु आये थे उनका भी सदुपयोग रमन सरकार ने नहीं किया। उनके कुशासन के चलते यहां के लोग आंध्रप्रदेश, ओडिशा, पंजाब आदि जगह चले गए और पलायन रोकने में बीजेपी सरकार पूरी तरह नाकाम रही।

Leave a comment